• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

उन्‍नाव केस पर बोले गोवा के मंत्री- रेपिस्‍टों को सार्वजनिक रूप से फांसी दी जाए

|

गोवा। उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में देर रात निधन हो गया। पीड़िता को गुरुवार को एयरलिफ्ट करके लखनऊ से दिल्ली लाया गया था। उन्‍नाव की इस दरिंदगी के बाद से पूरे देश में गुस्‍सा है। चारो तरफ विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इस बीच गोवा के मंत्री माइकल लोबो ने कहा है ''चाकू की नोंक या बंदूक की नोंक पर किसी महिला का बलात्कार करना और फिर उसे जिंदा जलाना एक ऐसी चीज है जिसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता है। यह कानून से अप्रभावित नहीं होना चाहिए, सार्वजनिक रूप से दोषियों को फांसी की सजा शुरू होनी चाहिए।'

उन्‍नाव केस पर बोले गोवा के मंत्री- रेपिस्‍टों को सार्वजनिक रूप से फांसी दी जाए
    Uttar Pradesh की दुष्कर्म राजधानी बना Unnao, 2019 में 86 FIR दर्ज | वनइंडिया हिंदी

    आपको बता दें कि रेप विक्टिम ने देर रात 11.40 पर कार्डियक अरेस्ट के बाद आखिरी सांस ली। अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि वो पीड़िता 90 फीसदी तक गंभीर रूप से जली हुई थी। सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता के लिए अलग आईसीयू कक्ष बनाया गया था और डॉक्टरों की एक टीम लगातार निगरानी भी कर रही थी। ग्रामीणों ने मुताबिक 90 फीसदी जलने के बाद भी पीड़िता घटनास्थल से एक किलोमीटर तक पैदल चली थी और मदद की गुहार लगाई थी।

    पीड़िता ने खुद ही 112 नंबर पर फोन किया था और पुलिस से आपबीती बताई थी। घटना के प्रत्यक्षदर्शी बताया था कि पीड़िता भागते हुए चीख रही थी बचाओ-बचाओ। मैंने उसकी आवाज सुनकर पूछा भी कि तुम कौन हो? उसके पूरे शरीर में आग लगी हुई थी। उसे देखकर मैं डर गया। मुझे लगा कि कोई भूत है। मैं घर से डंडा और कुल्हाड़ी लेकर उसके सामने गया।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Raping a woman on knife point or gun point & then burning her alive is something which one cannot even imagine. It should not go unpunished by the law, capital punishment by hanging the culprits in public should start, says Goa Minister Michael Lobo.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more
    X