• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मोदी के मंत्री बोले- रोज शादियां हो रहीं, ट्रेन-प्लेन फुल हैं तो मंदी कैसे है

|
    Central Minister Suresh Angadi का economy ज्ञान, recession कैसे जब खूब हो रही है Weddings? ।वनइंडिया

    नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी ने कहा है कि देश की अर्थव्यस्था में सुस्ती को लेकर विपक्ष, कई एजेंसियों और अर्थशास्त्रियों के दावों में दम नहीं है। रेल राज्यमंत्री अंगड़ी ने शुक्रवार को कहा, 'हवाईजहाज फुल हैं, रेलगाड़ियों में टिकट नहीं मिल रहे हैं। खूब शादियां हो रही हैं। ये सब हो रहा है क्योंकि लोगों के पास पैसा है और देश की अर्थव्यवस्था ठीक चल रही है। ऐसे में मंदी की बात कहना बेकार है। ये सब पीएम मोदी को बदनाम करने के लिए है।

     नरेंद्र मोदी की छवि को धूमिल करने की कोशिश

    नरेंद्र मोदी की छवि को धूमिल करने की कोशिश

    सुरेश अंगड़ी ने अर्थव्यवस्था में सुस्ती और प्रधानमंत्री के इस ओर ध्यान ना देने के विपक्ष के दावे पर कहा कि कुछ लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को धूमिल करने का प्रयास कर रहे हैं। इसीलिए ये सब बातें की जा रही हैं।

    प्रदूषण पर रोक के लिए एयर प्यूरीफायर टॉवर का रोडमैप तैयार करे केंद्र: सुप्रीम कोर्ट

    तीन साल में सुस्त होती है अर्थव्यवस्था

    तीन साल में सुस्त होती है अर्थव्यवस्था

    सुरेश अंगड़ी नेटुंडा खुर्जा ईस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के निरीक्षण के दौरान मीडिया से अर्थव्यवस्था को लेकर ये बातें कहीं। ये कॉरिडोर जल्दी ही शुरू होने वाला है। हालांकि रेल राज्यमंत्री सुरेश अंगड़ी ने ये भी कहा कि अर्थव्यवस्था हर तीन साल बाद सुस्त होती है और फिर से यह रफ्तार पकड़ लेती है। भारतीय अर्थव्यवस्था भी बहुत जल्द रफ्तार पकड़ेगी। ऐसे में फिक्र की बात नहीं है।

    अर्थव्यवस्था में लगातार गिरावट

    अर्थव्यवस्था में लगातार गिरावट

    पिछले कुछ समय से भारतीय अर्थव्यवस्था में सुस्ती को दौर है। हालांकि सरकार इसे नकारती रही है। अर्थव्यवस्था की हालत को लेकर कांग्रेस समेत विपक्षी दल लगातार सरकार की आलोचना कर रहे हैं। कई बड़े अर्थशास्त्री भी आर्थिक मंदी की बात कह चुके हैं। इस साल इकोनॉमिक्स का नोबेल नोबेल पाने वाले अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी भी कह चुके हैं कि भारत की अर्थव्यवस्था की स्थिति बहुत अच्छी नहीं है। बता दें कि बीते कुछ महीने में लगातार नौकरियां गई हैं और ज्यादातर सेक्टरों में उत्पादन घटा है। तीन दिन पहले ही आए औद्योगिक उत्पादन के ताजा आंकडों के मुताबिक, इस साल सितंबर में औद्योगिक उत्पादन में 4.3 फीसदी गिरावट दर्ज की गई। यह पिछले 8 साल में सबसे बड़ी गिरावट है। इससे अलावा ऑटो सेक्टर में भी गिरावट देखी जा रही है।

    महाराष्ट्र में सरकार बनाने की प्रक्रिया शुरू, मध्यवाधि चुनाव का सवाल ही नहीं: पवार

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Union minister Suresh Angadi on Economic Slowdown People Getting Married Trains Running Full
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X