• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कश्मीर में पत्थरबाज़ पर कुत्तों के हमला करने वाले दावे का सच

By फ़ैक्ट चैक टीम, बीबीसी न्यूज़
@KGTHEAJU/TWITTER

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. ये वीडियो दावा करता दिख रहा है कि भारत अधिकृत कश्मीर में आर्मी के दो कुत्तों ने एक पत्थरबाज़ को दबोच कर पर हमला कर दिया.

हाल ही में वायरल हुआ यह वीडियो इस कैप्शन के साथ शेयर किया जा रहा है, ''एक पत्थरबाज़ मुस्लिम कश्मीरी ने दो आर्मी कुत्तों पर हमला किया और कुत्तों ने किसी सरकारी आदेश का इंतज़ार नहीं किया और वो किया जो उन्हें ठीक लगा''.

@KGTHEAJU/TWITTER

सोशल मीडिया पर इस वीडियो को 70 हज़ार से ज़्यादा लोग देख चुके हैं.

इस वीडियो में एक शख़्स को कुत्तों पर पत्थर फेंकते हुए देखा जा सकता है. पत्थर फेंकने के कुछ सेकेंड बाद ही कुत्ते इस शख़्स पर हमला करते हुए दिखाई देते हैं.

यह वीडियो एकदम सही है लेकिन इसे ग़लत कॉन्टेक्सट के साथ शेयर किया जा रहा है. हमने इस वीडियो की पड़ताल की और पाया कि जिस बात का ये वीडियो दावा कर रही है वो पूर्ण रूप से ग़लत है.

हरियाणा में पोलिंग बूथ पर 'धांधली' का सच

श्रीलंका हमले की इन वीभत्स तस्वीरों का सच

वीडियो का सच

हमारी पड़ताल में पता चला कि ये वीडियो 2013 का है और ये भारत का नहीं बल्कि दक्षिण अफ्रीका की मोरक्को नामक जगह का है.

रिवर्स इमेज सर्च ने हमें यूट्यूब और डेली मोशन पर जाने के लिए मजबूर किया जहां हमें इस वीडियो के सच का पता चला.

यूट्यूब पर मौजूद असली वीडियो के अनुसार दो कुत्तों ने मोरक्को के कैसाब्लांका इलाक़े में एक शख़्स पर हमला किया था.

कीवर्ड्स की मदद से जब गूगल पर हमने इसके बारे में खोज की तो हमें इस मामले की कई रिपोर्ट्स मिली.

सोशल मीडिया

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एक मोरक्को निवासी सड़क पर दो कुत्तों की मौजूदगी को देख कर बौखला गया और कुत्तों व उसके मालिक पर पत्थर पर हमला करने लगा. अपने आक्रामक व्यवहार के कारण वह इस हादसे का शिकार हो गया.

जैसे ही ये व्यक्ति पत्थर फेंकना शुरू करता है उसके सेकेंड बाद ही दोनों कुत्ते अपने मालिक की पकड़ से छूट कर उस व्यक्ति पर हमला कर देते हैं.

इस वीडियो के वायरल होने के बाद आईपीएस डी रूपा ने ट्वीटर पर लिखा, ''भारत में पुलिस या सेना भीड़ का काबू करने के लिए कुत्तों का इस्तेमाल नहीं करते हैं. हां, कुछ देशों में ऐसा किया जाता है लेकिन भारत में कुत्तों को बस दो कामों के लिए इस्तेमाल किया जाता है 1- डकैतों, लुटेरों, चोरों का पता लगाने के लिए 2. विस्फोटक का पता लगाने के लिए. इसलिए वीडियो में दिखाई जाने वाली जगह भारत नहीं है.''

@D_ROOPA_IPS/ TWITTER

बीबीसी ने एक रिटायर्ड आईपीसी ऑफिसर डॉ विक्रम सिंह से बात-चीत की और पूछा कि क्या सेना या पुलिस कर्मचारी कुत्तों को खुला छोड़ देते/सकते हैं?

डॉ सिंह ने जवाब में कहा, ''भारत में कुत्तों का इस्तेमाल सिर्फ़ सुरक्षा के लिए किया जाता है जैसे एयरपोर्ट सुरक्षा में विस्फोटक सूंघने के लिए. चाहे जो भी स्थिति हो हम कुत्तों को खुला नहीं छोड़ सकते हैं. सोवियत संघ और साउथ अफ्रीका में ऐसा किया जाता है सेकिन भारत में कुत्तों को ऐसे खुला छोड़ने का सवाल ही पैदा नहीं होता है. ''

सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे वीडियो में जो दावा किया जा रहा है कि कश्मीर में पत्थरबाज़ पर पुलिस के कुत्तों ने हमला कर दिया है, वह हमारी जांच में ग़लत निकला.

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Truth about dog attack on stonebag in Kashmir
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X