• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लॉकडाउन के बीच शुरू हो रहा है ट्रेनों का संचालन, जानिए क्या करना है, क्या नहीं

|

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने देशव्यापी लॉकडाउन के बीच विभिन्न राज्यों में फंसे लोगों को बड़ी राहत दी है। रविवार को रेलवे ने घोषणा करते हुए बताया कि 12 मई, 2020 से कुछ प्रमुख शहरों में यात्री रेलगाड़ियों का संचालन फिर से शुरू किया जाएगा। हालांकि इस बीच भारतीय रेलवे ने कोरोना वायरस संकट और लॉकडाउन के नियमों को ध्यान में रखते हुए यात्रा के इच्छुक लोगों के लिए कुछ नियम तय किए हैं जिनका पालन करना अनिवार्य होगा। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि यात्रा से पहले आपको क्या करना होगा और क्या नहीं करना है।

इन शहरों का कटेगा टिकट

इन शहरों का कटेगा टिकट

इंडियन रेलवे के प्रेस रिलीज में उन शहरों के नाम भी बताए गए हैं जहां से स्पेशल यात्री ट्रेनों को संचालन किया शुरू किया जाएगा। रेलवे के मुताबिक नई दिल्ली स्टेशन से डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगाँव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू तवी को जोड़ने वाली इन ट्रेनों को विशेष ट्रेनों के रूप में चलाया जाएगा।

यात्रा से पहले ये करना होगा अनिवार्य

यात्रा से पहले ये करना होगा अनिवार्य

जैसा कि आपको बताया गया है कि 12 मई से स्पेशल यात्री ट्रेनों का परिचालन फिर से शुरू किया जा रहा है। ऐसे में यात्रियों को लॉकडाउन के नियमों और सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही यात्रियों को चेहरे पर फेस कवर या मास्‍क लगाना अनिवार्य होगा, साथ ही प्रस्थान के समय स्क्रीनिंग से गुजरना होगा। इसके अलावा सिर्फ उन्हीं यात्रियों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति होगी जिनमें बीमारी के लक्षण नहीं होंगे।

जानिए, यात्रियों को क्या नहीं करना

जानिए, यात्रियों को क्या नहीं करना

भारतीय रेलवे ने अपने प्रेस रिलीज में साफ-साफ कहा है कि यात्रा के इच्छुक लोगों को टिकट बुकिंग के लिए रेलवे स्टेशन आने की जरूरत नहीं है। भारतीय रेल ने कहा कि स्टेशनों पर टिकट बुकिंग खिड़की बंद रहेगी। इसके अलावा प्लेटफॉर्म टिकट सहित कोई काउंटर टिकट जारी नहीं किया जाएगा इसलिए रेलवे स्टेशन पर भीड़ ना लगाएं। सिर्फ वैध आरक्षित टिकटधारकों को रेलवे स्टेशन में प्रवेश की अनुमति होगी। यात्रि अपने साथ किसी भी अन्य व्यक्ति को नहीं ला सकते जिसे यात्रा नहीं करना। ट्रेन में सिर्फ उन्हीं लोगों को चढ़ने दिया जाएगा जिनके पास वैध टिकट होगा। ट्रेन में चढ़ते समय सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखना अनिवार्य होगा।

सिर्फ IRCTC पर होगी टिकटों की बुकिंग

सिर्फ IRCTC पर होगी टिकटों की बुकिंग

भारतीय रेलवे ने बताया है कि इन ट्रेनों में आरक्षण के लिए बुकिंग 11 मई को शाम 4 बजे से शुरू होगी, टिकट की बुकिंग केवल IRCTC की वेबसाइट पर उपलब्ध होगी। अगर किसी यात्री को 12 मई की कन्फर्म टिकट नहीं मिलती है तो वह आगे के दिनों के लिए रिजर्वेशन कर सकता है। ध्यान देने योग्य बात यह है कि स्टेशन पर सिर्फ कन्फर्म टिकट वालों को यात्रा की अनुमति होगी, वेटिंग टिकट वाले इन ट्रेनों में सफर नहीं कर पाएंगे।

क्या यात्रा के बाद क्वारंटाइन में रहना होगा?

क्या यात्रा के बाद क्वारंटाइन में रहना होगा?

गौरतलब है कि प्रवासी मजदूरों के लिए चलाई गई स्पेशल ट्रेनों में गंतव्य स्थान पर पहुंचने के बाद यात्रियों को 21 दिन के लिए क्वारंटाइन में रहना अनिवार्य है। लेकिन 12 मई के बाद से शुरू हो रहीं यात्री ट्रेनों में यात्रा का बाद यात्रियों को अपने गृह राज्य में क्वारंटाइन में रहना होगा या नहीं, अभी रेलवे की तरफ से इस पर कोई स्पष्टीकरण नहीं किया गया है।

यात्रियों को कितना देना होगा किराया?

यात्रियों को कितना देना होगा किराया?

भारतीय रेलवे की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक इन स्पेशल ट्रेनों में यात्रा का पूरा खर्च यात्रियों को ही देना होगा। ट्रेनों में राजधानी के बराबर किराया होगा। लॉकडाउन के दौरान जिस भी यात्री को सफर करने की जरूरत होगी उसे टिकट पर भारी रकम चुकानी पड़ेगी। इन ट्रेनों में सिर्फ एसी कोच ही शामिल होंगे, जिनमें प्रथम श्रेणी एसी, द्वितीय श्रेणी एसी और तृतीय श्रेणी का ऐसी कोच होगा।

भारतीय रेलवे का बड़ा ऐलान, 12 मई से शुरू होगा ट्रेनों का संचालन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Trains are running between lockdown know what to do what not to do
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X