• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोवैक्सिन का उत्पादन बढ़ाने की बड़ी तैयारी, केंद्र और भारत बायोटेक ने शुरू की ये पहल

|

नई दिल्ली, 13 मई: केंद्र सरकार के सलाहकार डॉक्टर वीके पॉल ने कोरोना के देसी टीके कोवैक्सिन का उत्पादन बढ़ाने को लेकर गुरुवार को बहुत बड़ी जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार और कोरोना के टीके कोवैक्सिन की निर्माता कंपनी भारत बायोटेक उन कंपनियों को इसके उत्पादन के लिए बुलाना चाहती है, जो इसका प्रोडक्शन करना चाहते हैं। बता दें कि दिल्ली जैसे कुछ राज्यों ने कोवैक्सिन की सप्लाई की कमी बताकर इसका टीकाकरण बंद करने की बात कही है।

To increase production of Covaxin, the Central Government and Bharat Biotech have invited other companies

कोवैक्सिन का उत्पादन बढ़ाने की बड़ी तैयारी
डॉक्टर वीके पॉल ने कहा है 'लोग कह रहे हैं कि दूसरी कंपनियों को भी कोवैक्सिन का उत्पादन देना चाहिए। मुझे यह कहते हुए खुशी हो रही है कि जब हमने उनके साथ इसपर चर्चा की है तो कोवैक्सिन बनाने वाली कंपनी ने इसका स्वागत किया है। इस टीके के तहत जिंदा वायरस को निष्क्रिय किया जाता है और यह सिर्फ बीएसएल 3 प्रयोगशालाओं में होता है।' उन्होंने यह भी कहा है कि, 'सभी कंपनियों के पास यह नहीं है। हम कंपनियों को खुला बुलावा दे रहे हैं, जो यह करना चाहते हैं। जो कंपनियां कोवैक्सिन बनाना चाहती हैं, उन्हें इसे मिलकर करना चाहिए। सरकार इसमें सहयोग करेगी, जिससे कि क्षमता बढ़ सके।'

वैक्सीन की करीब 18 करोड़ डोज लग चुके हैं
इसी बीच वैक्सीनेशन कवरेज के बारे में नीति आयोग के सदस्य ने बताया कि 45 साल और उससे ऊपर की एक-तिहाई आबादी को वैक्सीन की डोज लग चुकी है। बता दें कि महाराष्ट्र और दिल्ली जैसे राज्यों ने कहा है कि उसके पास वैक्सीन की किल्लत है, जिसके चलते उसे टीकाकरण अभियान रोकना भी पड़ रहा है। कर्नाटक ने भी गुरुवार को कहा है कि वह वैक्सिनेशन ड्राइव रोक रहा है। इस दौरान डॉक्टर पॉल ने बताया कि भारत में अबतक करीब 18 करोड़ डोज दी जा चुकी है, इस तरह से वह इस समय टीकाकरण के मामले में तीसरे स्थान पर है। अमेरिका में करीब 26 करोड़ डोज लग चुकी है।

प्लाज्मा और रेमडेसिविर का आंख मूंदकर इस्तेमाल ठीक नहीं, ICMR के पूर्व वैज्ञानिक ने क्यों दी चेतावनीप्लाज्मा और रेमडेसिविर का आंख मूंदकर इस्तेमाल ठीक नहीं, ICMR के पूर्व वैज्ञानिक ने क्यों दी चेतावनी

इस बीच गुरुवार सुबह पिछले 24 घंटे के लिए जारी आंकड़ों के हिसाब से देश में कोरोना के 3,62,727 नए केस सामने आए हैं, जबकि 3,52,181 करोड़ लोग स्वस्थ हुए हैं। हालांकि, इस दौरान देश में 4,120 लोगों की मौत भी हुई है। इसके साथ ही देश में कुल संक्रमण का आंकड़ा 2,37,03,665 तक पहुंच चुका है। इसमें 1,97,34,823 लोग ठीक हो चुके हैं और 2,58,317 लोगों ने इस वायरस की वजह से दम तोड़ दिया है। इस समय देश में कोविड के 37,10,525 ऐक्टिव केस हैं। बता दें कि देर शाम तक देश में 17,82,96,882 वैक्सीन दी जा चुकी थी।

English summary
To increase production of Covaxin, the Central Government and Bharat Biotech have invited other companies
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X