• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दोषी मुकेश का दावा है झूठा, निर्भया के लिए दिया गया ये बेशर्मी भरा बयान ही है उसकी हैवानियत का सबसे बड़ा सबूत!

|
Google Oneindia News

बेंगलुरु। निर्भया गैंगरेप मामले में मौत की सजा पा चुके चारों दोषियों में से एक मुकेश के वकील ने अब एक आखिरी चाल चली है। मुकेश के वकील एमएल शर्मा ने दिल्‍ली कोर्ट में दावा किया है कि मुकेश वारदात के वक्‍त वहां मौजूद ही नहीं था। ऐसे में वह इस केस में दोषी नहीं है। उसका दावा है कि मुकेश को 17 दिसंबर को राजस्‍थान से गिरफ्तार किया गया था। लेकिन मुकेश की इस अपील पर कोर्ट सुनवाई करने के बजाय सिरे से हर हाल में खारिज कर देगी। जानिए उसके पीछे की बड़ी वजह?

इस डॉक्‍यूमेंट्री में रिकार्ड है दोषी मुकेश ने दिया था इंटरव्‍यू

इस डॉक्‍यूमेंट्री में रिकार्ड है दोषी मुकेश ने दिया था इंटरव्‍यू

हालांकि निर्भया केस में पुलिस द्वारा की गई जांच रिपोर्ट को हर तरीके से कानूनी रुप से जांचने और लंबी जिरह के बाद लोअर कोर्ट से लेकर देश की सर्वोच्‍च कोर्ट ने इन दंरिदों को फांसी की सजा सुनाई हैं जिसके आधार पर ये अपील सिरे से खारिज कर दी जाएगी। साथ ही निर्भया का ये वो ही दरिंदा मुकेश हैं जिसने निर्भया कांड के दो साल बाद बीबीसी द्वारा बनाई गई एक डाक्यूमेंट्री फिल्‍म में इंटरव्‍यू दिया था। जो इसके द्वारा निर्भया के साथ उस रात चलती बस में की गई हैवानियत का सबसे बड़ा सबूत है।

मुकेश के बयान पर मच गया था बवाल

मुकेश के बयान पर मच गया था बवाल

बता दें इस डॉक्यूमेंट्री में मुकेश ने अपने किए पर शर्मिन्‍दा होने के बजाए निर्भया के लिए बहुत ही बेशर्मी भरा बयान दिया था जिसे बीबीसी पर प्रसारित किया गया था। 'इंडियाज़ डॉटर' नामक एक डॉक्यूमेंट्री, जिसे विदेशी फिल्ममेकर लेस्ली उड्विन ने बनाया था। यह डॉक्यूमेंट्री निर्भया केस पर आधारित थी। इसमें निर्भया के दोषी मुकेश सिंह के कबूलनामे से इस मुद्दे पर एक बार फिर नए सिरे से बहस शुरू हो गई थी। इस डॉक्यूमेंट्री में निर्भया के दोषी मुकेश सिंह के इंटरव्यू ने सनसनी मचा दी थी जिसके बाद भारत में उसके प्रसारण पर रोक लगा दी थी। इस डॉक्यूमेंटी में मुकेश का बयान भी इस बात का सबूत हैं कि उसने अपने पांच दोस्‍तों के साथ निर्भया के साथ उस रात दरिंदगी की थी। जिस पर शर्मिन्‍दा होने के बजाय मुकेश ने साक्षात्कार में निर्भया को ही इसके लिए दोषी बताया था।

    Nirbhaya case: गुनहगार Mukesh के वकील ने फिर चली चाल | वनइंडिया हिंदी
    मुकेश ने निर्भया के लिए ये दिया था बयान

    मुकेश ने निर्भया के लिए ये दिया था बयान

    गौरतलब हैं कि मुकेश ने इंटरव्यू के दौरान कहा था, 'किसी रेप के लिए एक लड़के से ज्यादा लड़की जिम्मेदार होती है। ताली कभी एक हाथ से नहीं बजती। इसके लिए 2 हाथ चाहिए होते हैं। कोई शरीफ लड़की रात के 9 बजे घर से बाहर नहीं घूमती है। लड़का और लड़की बराबर नहीं होते हैं।

    हमारी फांसी लड़कियों के लिए खतरा

    हमारी फांसी लड़कियों के लिए खतरा

    मुकेश ने भी ये भी कहा था कि 'लड़कियां घरों का काम करने के लिए बनी होती हैं न कि अश्‍लील कपड़े पहनकर डिस्को और बार में घूमने के लिए। सिर्फ 20 प्रतिशत लड़कियां ही अच्छी होती हैं। जब हम उसका रेप कर रहे थे, तब उसे हमें रोकने की कोशिश नहीं करनी चाहिए थी। उसे चुपचाप जो हो रहा था, होने देना था. तब हम उसके साथ रेप करने के बाद उसे घर छोड़ देते। सिर्फ लड़के को मारते़। किसी रेपिस्ट को मौत की सजा देना लड़कियों के लिए और खतरनाक हो जाएगा।

    मुकेश वकील ने भी निर्भया के लिए कहीं थी ये बेशर्मी भरी बात

    मुकेश वकील ने भी निर्भया के लिए कहीं थी ये बेशर्मी भरी बात

    इतना ही नहीं, दोषियों के एक वकील ए.पी. सिंह ने भी कुछ इसी तरह की मानसिकता का प्रदर्शन करते हुए उस वक्त कहा था कि 'अगर मेरी बेटी या बहन शादी से पहले किसी के साथ संबंध बनाएगी, अपना चरित्र खराब करेगी, तो मैं खुद उसे अपने फार्म हाउस लेकर जाऊंगा और सबके सामने उस पर पेट्रोल डाल कर उसे जला दूंगा।

    मिलिए निर्भया के दोषियों के वकील एपी सिंह से, जिन्‍होंने निर्भया के लिए कही थी ये घिनौनी बातमिलिए निर्भया के दोषियों के वकील एपी सिंह से, जिन्‍होंने निर्भया के लिए कही थी ये घिनौनी बात

    20 मार्च को फांसी टलवाने के लिए चल रहे दोषी चाल

    20 मार्च को फांसी टलवाने के लिए चल रहे दोषी चाल

    गौरतलब हैं कि पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया केस में पांच मार्च को चौथी बार डेथ वारंट जारी करते हुए 20 मार्च को सुबह साढ़े पांच बजे निर्भया के चारों दरिंदों की फांसी की तारीख निर्धारित की है। इन चारों के फांसी से बचने के सभी कानूनी आधिकार समाप्‍त हो चुके हैं लेकिन चौथे डेथ वारंट के बाद एक-एक के बाद ये दरिंदें कोर्ट में अपील कर चुके हैं। वहीं इस केस में कई कोर्ट में लंबित केसों का हवाला देकर दोषियों के वकील एपी सिंह 20 मार्च को फांसी की तारीख एक बार फिर टलवाने के लिए जुट चुके है।

    मुकेश लगा चुका है पूर्व वकील पर ये घिनौना आरोप

    मुकेश लगा चुका है पूर्व वकील पर ये घिनौना आरोप

    मालूम हो कि निर्भया के दोषी मुकेश ने ही चौथा डेथ वारंट जारी होने के दो दिन बाद अपनी पूर्व वकील वृंदा ग्रोवर, पुलिस और केन्‍द्र सरकार पर आरोप लगाकर सीबीआई जांच करवाने की मांग की थी। उसका आरोप था कि उसकी पूर्व वकील ने उसको नहीं बताया कि क्यूरेटिव याचिका दायर करने के लिए उसके पास तीन साल का समय हैं। उसे डरा कर उससे समय से पूर्व क्यूरेटिव याचिका कोर्ट में दाखिल करवा दी इसलिए उसे क्यूरेटिव याचिका यानी कि सुधारात्मक याचिका दाखिल करने का जुलाई 2021 तक का समय दिया जाए। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने उसकी याचिका को सोमवार को खारिज कर दिया था।

    निर्भया केस: जानिए वृंदा ग्रोवर को जिस पर निर्भया के दरिंदें मुकेश ने लगाए हैं ये संगीन आरोपनिर्भया केस: जानिए वृंदा ग्रोवर को जिस पर निर्भया के दरिंदें मुकेश ने लगाए हैं ये संगीन आरोप

    16 दिसंबर 2012 को 6 दोषियों ने निर्भया से दरिंदगी की थी

    16 दिसंबर 2012 को 6 दोषियों ने निर्भया से दरिंदगी की थी

    दिल्ली में पैरामेडिकल छात्रा से 16 दिसंबर, 2012 की रात 6 लोगों ने चलती बस में दरिंदगी की थी। गंभीर जख्मों के कारण 26 दिसंबर को सिंगापुर में इलाज के दौरान निर्भया की मौत हो गई थी। घटना के 9 महीने बाद यानी सितंबर 2013 में निचली अदालत ने 5 दोषियों... राम सिंह, पवन, अक्षय, विनय और मुकेश को फांसी की सजा सुनाई थी। मार्च 2014 में हाईकोर्ट और मई 2017 में सुप्रीम कोर्ट ने फांसी की सजा बरकरार रखी थी। ट्रायल के दौरान मुख्य दोषी राम सिंह ने तिहाड़ जेल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। एक अन्य दोषी नाबालिग होने की वजह से 3 साल में सुधार गृह से छूट चुका है।

    निर्भया केस: दोषियों के परिजनों की इच्‍छा-मृत्यु की मांग क्या मानी जाएगी, जानें क्या है नियमनिर्भया केस: दोषियों के परिजनों की इच्‍छा-मृत्यु की मांग क्या मानी जाएगी, जानें क्या है नियम

    English summary
    In the Nirbhaya case, Nirbhaya's convict Mukesh has claimed in court that he was not there at the time of the incident. Whereas this same Mukesh made a shameless statement for Nirbhaya in a documentary made by BBC. This statement is the biggest proof of his crime.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X