• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

डोवाल ने पीएम मोदी को दिया भरोसा, अमरनाथ यात्रा हमले का कोई आतंकी नहीं बचेगा जिंदा

|

नई दिल्‍ली। राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह को भरोसा दिलाया है कि अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले में शामिल किसी भी आतंकी को बख्‍शा नहीं जाएगा। गुरुवार को पीएम मोदी और गृहमंत्री के साथ हुई एक मीटिंग में एनएसए ने पीएम मोदी को उन आतंकियों की लिस्‍ट भी सौंपी है जिन्‍हें कश्‍मीर में सेना ने हाल के कुछ दिनों में मार गिराया है।

छिप नहीं सकते हैं आतंकी

छिप नहीं सकते हैं आतंकी

एनएसए अजित डोवाल ने पीएम मोदी से कहा है कि आतंकी भले ही कितना दूर भाग लें लेकिन वह छिप नहीं सकते हैं। इसके साथ ही उन्‍होंने पीएम मोदी को आश्‍वासन दिया है कि अमरनाथ आतंकी हमले में शामिल किसी भी आतंकी को बख्‍शा नहीं जाएगा। पिछले कुछ हफ्तों में सेना और सुरक्षा बलों ने करीब 50 आतंकियों को मारा है।

आतंकियों की पहचान

आतंकियों की पहचान

अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले में हिजबुल मुजाहिद्दीन की तीन यूनिट्स की पहचान की गई है जिन्‍होंने 'ग्राउंड वर्कर्स' के तौर पर हमले में मदद की। इनकी जिओ-पोजिशन का भी पता लगा लिया गया है। हिजबुल के दो हैंडलर्स ने आतंकियों को हथियार मुहैया कराए और इनकी भी पहचान कर ली गई है।

थर्मल सेंसर्स का प्रयोग

थर्मल सेंसर्स का प्रयोग

सरकार अब उस रूट मैप को हासिल करने की प्रक्रिया में है जिसका प्रयोग करके आतंकी अमरनाथ यात्रियों पर हमला करने में कामयाब रहे। इसके अलावा थर्मल सेंसर्स से लैस ड्रोन्‍स का प्रयोग किया जा रहा है। इनकी मदद से हाई रेजॉल्‍यूशन फोटोग्राफ्स का प्रयोग करके आतंकियों का पता लगाया जा रहा है। इसके अलावा नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (एनटीआरओ) की मदद भी ली जा रही है।

मिनी रडार्स की भी मदद

मिनी रडार्स की भी मदद

जंगलों में मिनी रडार्स का प्रयोग करके आतंकियों के बारे में संभावित जानकारियों को जुटाने की कोशिशें हो रही हैं। आतंकियों को तलाशने का यह ऑपरेशन 50 किलोमीटर के दायरे में चलाया जा रहा है और 400 से ज्‍यादा ऑफिसर्स को तलाश में लगाया गया है। इस ऑपरेशन में सेना, स्‍पेशल ऑपरेशन ग्रुप, सीआरपीएफ और बीएसएफ भी शामिल हैं।

70 आतंकियों की ली गई थी मदद

70 आतंकियों की ली गई थी मदद

इंटेलीजेंस इनपुट्स के मुताबिक लश्‍कर-ए-तैयबा के आतंकी अबु इस्‍माइल ने सोमवार को हुए अमरनाथ आतंकी हमले के लिए साउथ कश्‍मीर के 40 से ज्‍यादा आतंकियों की भती की थी और 30 आतंकी नॉर्थ कश्‍मीर से शामिल थे। इस्‍माइल पाकिस्‍तान के मीरपुर का रहने वाला और अब उस पर 10 लाख रुपए का इनाम है।

बिपिन रावत ने सौंपी रिपोर्ट

बिपिन रावत ने सौंपी रिपोर्ट

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने भी बुधवार को एनएसए अजित डोवाल से मुलाकात करके उन्‍हें अमरनाथ यात्रा पर एक रिपोर्ट सौंपी है। सभी टूरिस्‍ट्स के साथ यात्रियों की ही तरह बर्ताव किया जाएगा और उसके मुताबिक सुरक्षा के इंतजाम बढ़ाए जाएंगे। रात में और एक निश्चित समय के बाद किसी भी गाड़ी को मंजूरी नहीं दी जाएगी।

English summary
National Security Advisor (NSA) Ajit Doval has told Prime Minister Narendra Modi and Home Minister Rajnath Singh that no terrorist can be left.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X