Surya Grahan 2018: जानिए कहां और कैसे दिखाई देगा आंशिक सूर्यग्रहण

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। साल 2018 का पहला सूर्य ग्रहण आज है। जिस वक्त ग्रहण लगेगा उस वक्त भारत में रात होगी और इस वजह से यह भारत में कहीं पर दिखाई नहीं देगा। यह ग्रहण दक्षिणी अमेरिका महाद्वीप भाग, दक्षिण-पश्चिम, अण्टर्कटिका तथा दक्षिणी ध्रुव के समीपवर्ती दक्षिणी प्रशान्त महासागर में दिखाई देगा। भारतीय समयानुसार ग्रहण का प्रारम्भ रात्रि 12 बजकर 25 मिनट पर होगा और इसका अंत मध्य रात्रि 02 बजकर 05 मिनट पर होगा।

Surya Grahan 2018: कहां और कैसे दिखाई देगा आंशिक सूर्यग्रहण

ये एक आंशिक ग्रहण है, आपको बता दें कि इस बार साल में तीन ग्रहण लगेंगे। 15-16 फरवरी के बाद अगला ग्रहण 13 जुलाई और उसके बाद 15 अगस्त तो पड़ेंगे, हालांकि ये ग्रहण तीनों ही इंडिया में नहीं दिखेंगे लेकिन इसका असर लोगों के जीवन पर पड़ेगा, ऐसा धर्म के लोगों का कहना है।

क्या होता है आंशिक सूर्यग्रहण

आंशिक सूर्य ग्रहण को खंड सूर्य ग्रहण कहा जाता है। वैये तो ये एक भौगोलिक घटना है और यह तब होता है जब चंद्रमा सूर्य को पूरी तरह से ढ़क नहीं पाता है। जिससे दुनिया के कई हिस्सों में सूरज की रोशनी बरकरार रहती है जबकि कई जगहों पर अंधेरा छा जाता है।

वैज्ञानिक दृष्टिकोण में सूर्य ग्रहण

चाहे ग्रहण का कोई आध्यात्मिक महत्त्व हो अथवा न हो किन्तु दुनिया भर के वैज्ञानिकों के लिए यह अवसर किसी उत्सव से कम नहीं होता। क्यों कि ग्रहण ही वह समय होता है जब ब्राह्मंड में अनेकों विलक्षण एवं अद्भुत घटनाएं घटित होतीं हैं जिससे कि वैज्ञानिकों को नये नये तथ्यों पर कार्य करने का अवसर मिलता है।

Read Also:  लोगों को सूर्य ग्रहण के प्रकोप से बचाने के लिए सरकार ने लिया अमिताभ-धर्मेंद्र का सहारा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A partial eclipse occurs when the Sun and Moon are not exactly in line with the Earth and the Moon only partially obscures the Sun.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.