• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

विजय माल्‍या को भारत लाने में अभी तक क्‍या हुई कार्रवाई, केंद्र से SC ने मांगा जवाब

|

नई दिल्‍ली। भगोड़ा कोरोबारी विजय माल्‍य को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सख्‍ती दिखाई है। कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा है कि वह ब्रिटेन में माल्‍या को भारत लाए जाने संबंधी कार्यवाई पर 6 हफ्ते के भीतर रिपोर्ट पेश करे। न्यायमूर्ति यूयू ललित की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने कहा कि विजय माल्या के प्रत्यर्पण के बाद मामले की सुनवाई यूनाइटेड किंगडम में उनके खिलाफ "गुप्त कार्यवाही" के कारण नहीं हो रही थी।

    Supreme Court ने केंद्र से Vijay Mallya के प्रत्यर्पण को लेकर मांगी स्टेटस रिपोर्ट | वनइंडिया हिंदी

    lalya

    31 अगस्त को पुनर्विचार याचिका खारिज होने और सजा की पुष्टि होने के बाद माल्या अपने खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की अवमानना मामले में सुप्रीम कोर्ट में पेश होने वाले थे। पीठ ने अवमानना के अपने आदेश में कहा था कि माल्या के खाते में 25 फरवरी 2016 को साढ़े सात करोड़ डॉलर के भुगतान के एक हिस्से के रूप में चार करोड़ डॉलर आए थे।

    उसने कुछ ही दिनों के भीतर 26 फरवरी और 29 फरवरी 2016 को इस रकम को दूसरी जगह हस्तांतरित कर दिया। कोर्ट के बार-बार आदेश दिए जाने के बावजूद माल्या ने अपनी संपत्ति का स्पष्ट खुलासा नहीं किया था। न ही चार करोड़ डॉलर खाते में आने और फिर इससे निकलने के बारे में कोई जानकारी दी थी। माल्या की दलील थी कि शीर्ष अदालत के निर्देशानुसार उसे 31 मार्च 2016 की स्थिति के अनुसार अपनी संपत्ति का खुलासा करना था और इस तरह से न्यायालय के किसी निर्देश का उल्लंघन नहीं किया गया था।

    जम्‍मू-कश्‍मीर में अबतक 200 खूंखार आतंकियों का सफाया, पुलवामा और शोपियां में सबसे ज्‍यादा एनकाउंटर

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Supreme Court seeks status report from Centre on extradition of fugitive businessman Vijay Mallya within six weeks.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X