कॉरेस्पोंडेंस के जरिए नहीं कर सकते इंजीनियरिंग जैसे कोर्स: सुप्रीम कोर्ट

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने शिक्षा के क्षेत्र में एक बड़ा फैसला देते हुए कहा है कि कॉरेस्पोंडेंस के जरिए तकनीकी कोर्स नहीं कराए जा सकते। शुक्रवार को अहम फैसला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इंजीनियरिंग जैसे तकनीकी कोर्स को संस्थान कॉरेस्पोंडेंस के जरिए नहीं करा सकते। उच्चतम न्यायालय ने इस मामले में ओडिशा हाईकोर्ट के उस फैसले को रद्द कर दिया जिसमें दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से टेक्नीकल एजुकेशन देने की इजाजत दी गई थी।

Supreme Court rules No technical education via correspondence courses

सुप्रीम कोर्ट ने इस अहम आदेश में पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के दो साल पहले दिए फैसले पर मुहर लगाई है। दो साल पहले पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से ली गई कंप्यूटर साइंस की डिग्री को रेगुलर कोर्स के जरिए ली गई कंप्यूटर साइंस के डिग्री के बराबर नहीं माना था और रेगुलर क्लास से ली गई डिग्री की अहमियत को ज्यादा माना था। इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, फार्मेसी, मेडिकल जैसे टेक्निकल कोर्स के कॉरेस्पोंडेंस से कराने पर अब कोर्ट ने रोक लगा दी है।

आरक्षित सीटों पर भी जनरल कैटेगरी वालों को मिलेगा प्रवेश 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Supreme Court rules No technical education via correspondence courses
Please Wait while comments are loading...