• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

IIT छात्रों की आत्महत्या से संबंधित याचिका को SC ने किया खारिज, वकील पर लगाया जुर्माना

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली: आईआईटी में छात्रों की आत्महत्या का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, लेकिन कोर्ट ने इस याचिका को खारिज कर दिया। साथ ही इसे 'तुच्छ' याचिका करार देते हुए वकील पर 10 हजार का जुर्माना लगाया है। कोर्ट के मुताबिक केंद्र सरकार के अधिकारी इस मामले से पूरी तरह से अवगत हैं और इसको लेकर एक कमेटी का गठन भी किया गया था। याचिकाकर्ता ने कोर्ट से IIT में विशेष कमेटी बनाने की मांग की थी।

sc

दरअसल वकील गौरव कुमार बंसल ने सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की थी। जिसमें उन्होंने कहा कि देशभर के आईआईटी में आत्महत्या के मामले बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में वहां मानसिक स्वास्थ्य अधिनियम की धारा 29 को लागू किया जाए। बंसल के मुताबिक आत्महत्या के कारणों का पता लगाने के लिए आईआईटी कानपुर की अध्यक्षता में एक समिति बनाई गई, उसके बावजूद भी मौत का सिलसिला जारी है। याचिकाकर्ता के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट को इस मामले में दखल देनी चाहिए। साथ ही शिक्षा मंत्रालय और आईआईटी को 'छात्र कल्याण कार्यक्रम' लागू करने के निर्देश दिए जाएं।

NEET-JEE उम्मीदवारों को परिवहन सुविधा दिलाने की शानदार कोशिश, IIT के छात्रों ने शुरू किया पोर्टलNEET-JEE उम्मीदवारों को परिवहन सुविधा दिलाने की शानदार कोशिश, IIT के छात्रों ने शुरू किया पोर्टल

इस पूरे मामले की सुनवाई जस्टिस आर. एफ. नरीमन की अध्यक्षता वाली पीठ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए की, जिसमें जस्टिस नवीन सिन्हा और जस्टिस इंदिरा बनर्जी भी शामिल थीं। सुनवाई के बाद जस्टिस नरीमन ने इसे अपमानजनक याचिका बताते हुए खारिज कर दिया। उन्होंने वकील बंसल से पूछा कि आप पर इसके लिए कितना जुर्माना लगाया जाए। बाद में जस्टिस नरीमन ने कानूनी सेवा प्राधिकरण के लिए देय लागत के रूप में 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया।

English summary
Supreme court rejects PIL on suicide case in iit
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X