• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कभी अमिताभ-सुशांत के साथ करती थी काम, आज सड़क पर मोमोज बेचने को है मजबूर

|

मुंबई। कोरोना महामारी ने करोड़ों लोगों के जीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है। इस दौर में जहां कई लोगों ने अपनी जान गवाईं वहीं कुछ ने अपनी आजिविका को ही खो दिया। लाखों लोग मुश्‍क‍िल की घड़ी में अपनों से दूर रहने पर मजबूत हो गए हैं। पैसों की तंगी ने कहीं कर्ज बढ़ाया तो कहीं इंडस्‍ट्री के ठप होने पर किसी की पूरी दुनिया ही उजड़ गई। लॉकडाउन के दौरान फिल्‍म इंडस्‍ट्री में भी काम ठप पड़ गया। जिसके चलते इस इंडस्ट्रीज से जुड़े कैमरामैन, टेक्‍न‍िकल वर्कर्स, जूनियर आर्टिस्‍ट्स जैसे लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इस महामारी का असर बॉलीवुड की फीमेल कैमरापर्सन सुचिस्‍म‍िता रोत्रेय पर भी पड़ा।

    Coronavirus India Update: 24 घंटे में COVID-19 के 59,118 नए केस, 257 की मौत | वनइंडिया हिंदी
    सुचिष्मिता आज मोमोज बेचकर गुजारा करने पर मजबूर है

    सुचिष्मिता आज मोमोज बेचकर गुजारा करने पर मजबूर है

    अमिताभ बच्चन, रणबीर कपूर, आलिया भट्ट जैसे सुपरस्टार संग काम कर चुकी सुचिष्मिता आज मोमोज बेचकर गुजारा करने पर मजबूर है। छह साल एक असिस्‍टेंट कैमरामैन के तौर पर काम करने वाली सुचिस्‍मता को आज ओडिशा में मोमोज बेचना पड़ रहा है जिससे वो रोज की 300-400 रुपये की कमाई करती हैं। सुचिस्मिता राउत्रे ने बताया कि, कोरोना लॉकडाउन से पहले उनकी लाइफ सही चल रही थी। उनको मनचाहा काम और नए अवसर भी मिल रहे थे। लेकिन कोरोना महामारी ने उनकी दुनिया ही पलट दी।

    अमिताभ बच्चन और सलमान खान की मदद से पहुंच पाई घऱ

    अमिताभ बच्चन और सलमान खान की मदद से पहुंच पाई घऱ

    लॉकडाउन के कारण उनका काम बंद हो गया। जिससे उनकी कमाई बंद हो गई। धीरे-धीरे उनकी सेविंग भी खत्म हो गई। अब वे अपने घर कटक लौटना चाह रही थी, लेकिन उनके पास इतने पैसे ना बचे की वे अपने घर भी लौट पाएँ। तब सलमान खान और अमिताभ बच्‍चन ने जूनियर आर्टिस्‍ट्स की मदद की तो सुचिस्‍म‍िता को भी कुछ पैसे मिल गए। उन पैसों की मदद से वह अपने घर कटक मां के पास लौट आईं।

    सुचिस्मिता राउत्रे 2015 में मुंबई आई थीं

    सुचिस्मिता राउत्रे 2015 में मुंबई आई थीं

    अब वह जीवन का गुजारा करने के लिए हर शाम कटक की सड़क पर मोमोज बेचती हैं। वे अपने घर में अकेली कमाने वाली हैं और पिता का भी निधन हो चुका है। ऐसे में उनके पास मोमोस बेचने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं था। सुचिस्मिता राउत्रे 2015 में मुंबई आई थीं। इससे पहले उन्होंने पढ़ाई पूरी करने के बाद ओडिशा की साइन इंडस्ट्री में काम किया था। 6 साल तक बॉलीवुड में उन्होंने असिस्टेंट कैमरा पर्सन के तौर पर काम किया है।

    अभी नहीं मिल पा रहा है काम

    अभी नहीं मिल पा रहा है काम

    कभी बड़ी-बड़ी फिल्मों में कैमरे के पीछे अपना हुनर दिखाने वालीं सुचिस्मिता अब मोमोज बेच कर रोज के 300-400 रुपये कमा रही हैं। सुचिस्मिता ने बताया कि, मैंने बॉलीवुड में वापसी की कोशिश की लेकिन अभी तक कोई काम नहीं मिल पाया है। जिससे कि वापस मुंबई लौट सकूं।

    सुशांत की बहन प्रियंका को सुप्रीम कोर्ट से झटका, FIR को रद्द करने की मांग वाली याचिका खारिजसुशांत की बहन प्रियंका को सुप्रीम कोर्ट से झटका, FIR को रद्द करने की मांग वाली याचिका खारिज

    English summary
    Suchismita, who has worked with Amitabh Bachchan, Ranbir Kapoor, Alia Bhatt is selling momos today
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X