• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Farmers Protest: पंजाब में कोरोना की नई पाबंदियों के बाद किसान आंदोलन का क्या होगा?

|

Farmers Protest चंडीगढ़: पूरी दुनिया की तुलना में भारत में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान युद्ध स्तर पर जारी है। अब तक 1 करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है, लेकिन देश के कई राज्यों में फिर से हालात बिगड़ना शुरू हो गए हैं। महाराष्ट्र के बाद अब मध्य प्रदेश और पंजाब में भी कोरोना केसों के आंकड़ों में लगातार इजाफा हो रहा है। ऐसे में कोरोना के नए मामलों को लेकर पंजाब सरकार गंभीर है, लेकिन यहां जारी किसानों के आंदोलन का भविष्य अभी भी स्पष्ट नहीं हुआ है। क्योंकि राज्य सरकार ने मंगलवार को इनडोर और आउटडोर समारोहों पर नए प्रतिबंधों की घोषणा की है। डिप्टी कमिश्नरों को 1 मार्च से रात में कर्फ्यू लगाने के आदेश दिए हैं।

    Rakesh Tikait की 40 Lakh ट्रैक्‍टर वाली रैली पर Narendra Tomar ने कही ये बात | वनइंडिया हिंदी

    farmers Protest

    पिछले साल सितंबर में लागू किए गए तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानूनी गारंटी देने के लिए हजारों किसान, जो ज्यादातर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हैं लगभग तीन महीने से दिल्ली की बॉर्डर पर डेरा डाले हुए हैं। इसके अलावा पंजाब में भी किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है। ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि अगर इस तरह की सरकार की ओर से सख्तियां लागू की गई है तो फिर किसान आंदोलन को लेकर अब क्या रणनीति अपनाई जाएगी।

    वहीं पंजाब की मुख्य विपक्षी पार्टी AAP ने पहले कहा था कि वह किसानों के आंदोलन के समर्थन में 21 मार्च को मोगा जिले में "किसान महासम्मेलन" का आयोजन करेगी। पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।

    Covid-19: महाराष्ट्र के बाद अब पंजाब और MP में बिगड़ रहे हालात, लगाई गईं नई पाबंदियांCovid-19: महाराष्ट्र के बाद अब पंजाब और MP में बिगड़ रहे हालात, लगाई गईं नई पाबंदियां

    पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर नए आदेश जारी किए, जिसके तहत इंडोर कार्यक्रम में सिर्फ 100 लोगों के इकट्ठा होने की इजाजत रहेगी। इसके अलावा आउटडोर प्रोग्राम में 200 से ज्यादा लोग इकट्ठा नहीं हो सकते। हालांकि ये पाबंदियां 1 मार्च से लागू होंगी। वहीं मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का सख्ती से पालन करवाने के निर्देश प्रशासन को दिए गए हैं। मौजूदा वक्त में पंजाब में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 1,78,847 है, जिसमें 5,769 की मौत हुई है, जबकि 1,69,911 लोग ठीक हो चुके हैं।

    English summary
    Strategy of farmers Protest in Punjab after Corona new guideline
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X