• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Special Trains Fare:ट्रेन किराया बढ़ाने की खबरों पर आया रेलवे का जवाब, जानिए क्या कहा

|

नई दिल्ली- भारतीय रेलवे ने त्योहारी मौसम में चलने वाले स्पेशल ट्रेनों के किराए में इजाफे की खबरों का खंडन किया है। रेलवे के मुताबिक त्योहार के समय में यात्री किराए में इजाफे की खबरें पूरी तरह से भ्रामक और गलत हैं। बता दें कि कुछ मीडिया में ऐसा दावा किया जा रहा था कि रेलवे ने त्योहारी सीजन में यात्रियों की मजबूरी का फायदा उठाना शुरू कर दिया है और उसने जो 392 फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन चलाने का ऐलान किया है, उसके लिए किराए में 10 से 30% तक बढ़ोतरी कर दी गई है। लेकिन, इन खबरों पर रेलवे को तब बयान जारी कर सफाई देनी पड़ी है, जब कांग्रेस ने इस मुद्दे पर सरकार को घेरना शुरू कर दिया था।

Special Trains Fare:Railways response to the news of increasing train fare, know what said

भारतीय रेलवे ने फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों के नाम पर ट्रेन किराया बढ़ाने की खबरों पर बयान जारी करके इनका खंडन किया है। रेलवे की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि, 'फेस्टिवल सीजन में रेल यात्री किराए में इजाफे से संबंधित खबरें भ्रामक और गलत हैं। नियमों के मुताबिक त्योहारी सीजन, गर्मियों की छुट्टियों वाले सीजन में भारी मांग के दौरान चलने वाली स्पेशल ट्रेनों का किराया अलग होता है और टाइम-टेबल के हिसाब से चलने वाली नियमित मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों से ऊंचा होता है।'

बता दें कि रेलवे ने इस साल 20 अक्टूबर से लेकर 30 नवंबर के बीच 392 फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों के संचालन का ऐलान किया है। गौरतलब है कि इसकी घोषणा के साथ ही यह बताया गया था कि इन ट्रेनों का किराया उसी तरह से होगा जो स्पेशल ट्रेनों में लगता है यानि कि स्पेशल चार्ज के साथ, जिससे कि इनका किराया नियमित मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के मुकाबले 10 से 30 फीसदी ज्यादा होगा। बावजूद इसके बताया जा रहा था कि रेलवे फेस्टिवल स्पेशल के नाम पर यात्रियों से ज्यादा किराया वसूल रहा है। यह ट्रेनें दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली और छठ पूजा के मद्देनजर यात्रियों की भारी भीड़ को देखते हुए कोलकाता, पटना, वाराणसी, लखनऊ समेत देश के कुछ खास स्टेशनों के बीच चलाई जा रही हैं।

इनके अलावा रेलवे 666 नियमित मेल/ एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेनें पहले से ही चला रहा है। लेकिन, फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें 30 नवंबर के बाद नहीं चलेंगी। गौरतलब है कि फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों के लिए ज्यादा किराया वसूलने की खबरों पर विरोधी पार्टियां सवाल भी उठाने लगी थीं। मसलन, बुधवार को ही कांग्रेस ने इसके नाम पर केंद्र सरकार पर हमला बोला था और कथित बढ़ा हुआ किराया तत्काल वापस लेने को कहा था। कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने कहा था कि केंद्र सरकार ना सिर्फ बढ़ा हुआ किराया वापस ले, बल्कि उसपर सब्सिडी अलग से दे, ताकि त्योहारी मौसम में सामान्य यात्री आसानी से ट्रेन यात्रा कर सकें।

इसे भी पढ़ें- नवरात्रि 2020: रोहिंग्याओं के बीच दिल्ली के रेस्टोरेंट मालिक बांट रहे हैं खाना, खातिरदारी पर ये बोले मुस्लिम शरणार्थी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Special Trains Fare:Railway's response to the news of increasing train fare, know what said
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X