• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बच्चों के लिए मोबाइल टावर लगवाने के बाद झारखंड की 50 महिलाओं को एक हफ्ते के भीतर नौकरी देंगे सोनू सूद

|

नई दिल्ली। फिल्म अभिनेता सोनू सूद ने कोरोना संकट के दौरान लॉकडाउन में फंसे हजारो प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए अपना हाथ बढ़ाया था। उन्होंने प्रवासी मजदूरों सहित, छात्र-छात्राओं की भी मदद की थी। लॉकडाउन के बाद भी सोनू सूद लगातार सोशल मीडिया के जरिए लोगों की मदद कर रहे हैं और इस बात को सुनिश्चित कर रहे हैं कि वह अधिक से अधिक लोगों तक मदद पहुंचा सके। अब सोनू ने धनबाद की 50 महिलाओं को रोजगार मुहैया कराने के लिए हाथ बढ़ाया है।

एक हफ्ते के भीतर मिलेगा रोजगार

एक हफ्ते के भीतर मिलेगा रोजगार

दरअसल सोनामुनी राज के ट्विटर अकाउंट से झारखंड की महिलाओं की मदद के लिए सोनू सूद से गुहार लगाई गई थी। हम झारखण्ड के धनबाद जिला के रहने वाले है | लॉकडाउन के कारण हमारी और गांव की 50 लड़कियो की नौकरी चली गयी थी और अब हम सारे अपने घर में बेरोजगार बैठे है | हम सब को नौकरी की बहुत जरुरत है हमारी मदद कीजिए, आप ही आखिरी उम्मीद हो। महिलाओं की गुहार के बाद सोनू सूद ने ट्वीट करके मदद का भरोसा दिलाया है। सोनू ने ट्वीट कर लिखा धनबाद की हमारी यह 50 बहनें एक सप्ताह के भीतर कोई अच्छी नौकरी कर रहीं होंगी...यह मेरा वादा है।

बच्चों के लिए लगवा दिया मोबाइल टावर

बच्चों के लिए लगवा दिया मोबाइल टावर

इससे पहले हरियाणा में बच्चे धीमे इंटरनेट की वजह से पढ़ाई नहीं कर पा रहे थे तो उन्होंने मोबाइल टावर ही लगवा दिया। हरियाणा के पंचकुला से लगभग 15 किमी दूर स्थित दापना गांव में रहने वाले बच्चों को भी ऑनलाइन क्लास के माध्मय से पढ़ाया जा रहा था, लेकिन गांव में खराब नेटवर्क की वजह से उन्हें अपनी पढ़ाई पूरी करने में दिक्कत आ रही थी। गांव में एक भी मोबाइल टॉवर नहीं होने की वजह से बच्चों को नेटवर्क पाने के लिए पेड़ों पर चढ़कर पढ़ना पड़ता था। जब इस बात का पता सोनू सूद को चला तो उन्होंने बिना देर किए गांव में एक मोबाइल टॉवर लगाकर इन बच्चों की इस समस्या को पूरी तरह से दूर कर दिया। बताया जा रहा है कि बच्चों को पेढ़ पर चढ़कर पढ़ाई करने की एक तस्वीर सोनू सूद ने सोशल मीडिया पर देखी थी।

गांव में खुशी की लहर

गांव में खुशी की लहर

उसके बाद उन्होंने जब इस जगह और बच्चों की परशानी के बारे में पता किया तो वह खुद को उनकी मदद करने से रोक न सके। इस काम में सोनू सूद के एक दोस्त ने उनकी मदद की। सोनू सूद के प्रयास से गांव में मोबाइल टॉवर का काम पूरा हो गया, जिसके बाद गांव वालों में भी खुशी की लहर है। मोबाइल टॉवर को लेकर बच्चों में भी काफी उत्साह देखने को मिला है। इतना ही नहीं टॉवर लगने के बाद सोनू सूद ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बच्चों और गांव के दूसरे सदस्यों से मुलाकात भी की। उन्होंने बच्चों को भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

इसे भी पढ़ें- SSR Case: तो क्या कंगना रनौत पर गुस्सा हैं सिमी ग्रेवाल, पहले बताया था 'बहादुर'?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sonu Sood to provide job to 50 ladies of Jharkhand Dhanbad assures on twitter.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X