India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

CPM की बैठक को लेकर सोनिया गांधी सख्त, थरूर समेत अन्य नेताओं को नहीं जाने के निर्देश

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 21 मार्च: हाल ही में पांच राज्यों में विधानसभा के चुनाव हुए थे, जिसमें हर जगह कांग्रेस की करारी हार हुई। पार्टी इस टेंशन से अभी उबरी भी नहीं थी कि जी-23 के नेताओं ने कई दौर की बैठकें करके बगावत को हवा दे दी। कुछ दिनों से खबर आ रही है कि शशि थरूर, केवी थॉमस और मणिशंकर अय्यर को सीपीएम की राष्ट्रीय संगोष्ठी के लिए आमंत्रण मिला था, लेकिन अब पार्टी ने सभी नेताओं को उसमें नहीं जाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी सभी नेताओं को कड़ा संदेश दिया है।

Shashi Tharoor

दरअसल 6 अप्रैल से 10 अप्रैल तक सीपीएम की संगोष्ठी होगी, जिसमें कुछ कांग्रेस नेताओं को भी बुलाया गया है। इसके बाद प्रदेश कांग्रेस ने किसी भी नेता के इस संगोष्ठी में शामिल होने पर रोक लगा दी। सूत्रों के मुताबिक जब केरल के कांग्रेस नेताओं ने दिल्ली में पार्टी के संसदीय कार्यालय में सोनिया गांधी से मुलाकात की, तो कुछ नेताओं ने चिंता जताई कि थरूर और अन्य नेता सीपीएम के कार्यक्रम में जाकर पार्टी को शर्मिंदा कर सकते हैं। ऐसे में इस पर हाईकमान कोई फैसला ले।

सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी ने कड़े शब्दों में कहा कि जिन नेताओं को सीपीएम की संगोष्ठी में आमंत्रित किया गया था, उन्हें केरल राज्य कांग्रेस के फैसले का पालन करना चाहिए। थरूर को लेकर पार्टी इसलिए भी चिंता में रहती है, क्योंकि वो बागी गुट जी-23 के सदस्य हैं। हाल ही में हुई बैठक में भी वो शामिल हुए थे।

प्रदेश अध्यक्ष ने कही ये बात
वहीं केरल पीसीसी चीफ सुधाकरण ने कहा कि पार्टी ने सभी सांसदों और नेताओं को इस संबंध में निर्देश जारी कर दिया है। अगर कोई नेता कार्यक्रम में शामिल हुआ, तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि केरल सरकार सेमी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के नाम पर लोगों पर अत्याचार कर रही है। अगर कांग्रेस का कोई नेता उनके कार्यक्रम में गया तो ये अन्य नेताओं का अपमान होगा।

कांग्रेस से जुड़े दो चर्चित संगठनों पर छाया गहरा संकट, इन सभी बड़े NGO पर भी लटकी FCRA की तलवारकांग्रेस से जुड़े दो चर्चित संगठनों पर छाया गहरा संकट, इन सभी बड़े NGO पर भी लटकी FCRA की तलवार

थरूर ने कही थी ये बात
इस मुद्दे पर थरूर ने कहा था कि उनको प्रदेश इकाई के निर्देश के बारे में पता नहीं है। अगर सोनिया गांधी ने ऐसा कुछ कहा है तो वो उसने मिलकर बैठक को लेकर फैसला लेंगे। उनका मानना है कि ऐसी राजनीतिक चर्चाओं में जाने में कुछ भी गलत नहीं है।

Comments
English summary
Sonia Gandhi strict on CPM meeting invitation Shashi Tharoor
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X