• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

SIFF Young Artiste 2020: यंग आर्टिस्ट ने अपने स्कॉलरशिप प्रोग्राम के लिए टॉप 100 फाइनलिस्ट की घोषणा की

|

बेंगलुरू। संगीत और नृत्य की विभिन्न विधाओं में राष्ट्रीय स्तर की प्रतिभा प्रतियोगिता एसआईएफएफ यंग आर्टिस्ट 2020 (SIFF Young Artiste 2020) के 100 फाइनलिस्ट घोषित कर दिए गए हैं। इसके लिए देशभर के 11-18 साल की उम्र के 12 हजार से अधिक छात्रों ने आवेदन किया था। इस साल की शुरुआत में कार्यक्रम को दिग्गज कलाकारों जैसे अमजद अली खान, शोवना नारायण, अरूणा साईराम, टेंरेस लुईस और शाल्मली खोलगड़े ने लॉन्च किया था। अब इन 100 फाइनलिस्ट को 25 लाख रुपये की छात्रवृत्ति से सम्मानित किया जा रहा है, जिसमें उच्च गुणवत्ता वाला मेंटरशिप प्रोग्राम और फाइनल में कैश अवॉर्ड भी शामिल है। फिलहाल फाइनलिस्ट यंग आर्टिस्ट एडवांस्ड मेंटरशिप प्रोग्राम (YAMP) में शामिल हो रहे हैं, जिसमें उन्हें अपने चुने हुए क्षेत्र को लेकर जरूरी परामर्श दिए जाएंगे।

SIFF Young Artiste 2020, Young Artiste 2020, SIFF Young Artiste, young artiste 2020, young artiste 2020 contest, national level talent competition, Young Artiste Journey, scholarship, mentorship programme, SIFF YOUNG ARTISTE 2020, Apply, India, talent competition, प्रेस रिलीज, राष्ट्रीय टैलेंट प्रतियोगिता, आवेदन, भारत, टैलेंट, प्रतियोगिता, टैलेंट प्रतियोगिता, एसआईएफएप टैलेंट प्रतियोगिता

संगीत और नृत्य जगत के कलाकार डॉ. एल सुब्रमण्यम, कविता कृष्णमूर्ति और माधवी मुद्गल प्रतिभागियों को परामर्श देंगे। इनके साथ ही इन क्षेत्र के विशेषज्ञ जैसे रुकमणी विजयकुमार (भरतनाट्यम), अनुपमा भागवत (सितार / सरोद), निकिता गांधी (भारतीय और पश्चिमी वोकल), सागर बोरा (हिप-हॉप) तथा अन्य लोग अपने-अपने क्षेत्र में विशेष सेशन भी लेंगे। फिनाले का आयोजन कोविड-19 से बचाव के उपाय अपनाते हुए किया जाएगा, जिसमें सरकार द्वारा जारी जरूरी दिशा निर्देशों का पालन भी होगा। यंग आर्टिस्ट की को-फाउंडर कविता अय्यर का कहना है, 'इन असाधारण प्रतिभाओं को जानने से बेहद खुशी मिल रही है और हम चयनित फाइनलिस्ट घोषित करते हुए गर्व महसूस कर रहे हैं। हम मेंटर्स और ज्यूरी के आभारी हैं, जो इस प्रयास में हमारे साथ जुड़ने के लिए राजी हुए।'

यंग आर्टिस्ट के सीजन 1 में देशभर के बच्चों ने आवेदन किया था। जिसकी अपार सफलता के बाद ये प्रयास ऐसे ही जारी है। इस साल कोरोना वायरस लॉकडाउन लगने के बावजूद भी ये पहल आगे बढ़ी। सभी सावधानी बरतते हुए ऑडिशन आयोजित किए गए। कार्यक्रम में ऐसे छात्र भी आए जिनके परिवार में कोई ना कोई कलाकार रहा है। साथ ही ऐसे परिवार से भी छात्र आए जहां उनकी पसंद की कला का किसी को अनुभव नहीं है। जो कला किसी अन्य स्थान पर मशहूर है, उसी में किसी अन्य राज्य के बच्चे में रुचि देखी गई। जिससे इतना जरूर समझ में आया कि कला कोई भेदभाव नहीं करती, वह कोई सीमा नहीं जानती। कोई भी कलाकार हो सकता है!

एसआईएफएफ के ट्रस्टी संदीप सिंघल कहते हैं, 'भारत में युवा कलाकारों की छिपी क्षमता को पहचानने और उन्हें एक राष्ट्रीय स्तर का मंच देने के लिए यंग आर्टिस्ट (Young Artiste) की स्थापना की गई है। ताकि इन कलाकारों को अपने कौशल में महारथ हासिल करने के लिए राह मिल सके। मेंटरशिप कार्यक्रम और विविध कलाओं के बारे में जानने से भी इनके ज्ञान का दायरा बढ़ेगा।' आपको बता दें फिनाले के परफॉर्मेंस की तैयारियों में YAMP मास्टरक्लास और वर्कशॉप को शामिल करेगा। यंग आर्टिस्ट के पास ज्यूरी का एक पैनल होगा, जो कार्यक्रम की शुरुआत से ही इस प्रक्रिया में शामिल रहे हैं और यही विशेषज्ञ 20 श्रेणियों में प्रत्येक के लिए वर्कशॉप्स भी लेंगे।

यंग आर्टिस्ट मेंटर, डॉ. एल. सुब्रमण्यम ने कहा, 'मुझे यंग आर्टिस्ट मेंटरशिप प्रोग्राम से जुड़कर खुशी हो रही है। भारत एक ऐसा देश है जो छिपी हुई प्रतिभाओं से भरा हुआ है, जिसकी खोज की जा रही है। इन नए कलाकारों से मिलना वास्तव में उत्साहजनक है। मैं हमारे देश के प्रतिभाशाली युवाओं की खोज करने जैसा अद्भुत काम करने के लिए SIFF- यंग आर्टिस्ट की सराहना करता हूं।' आपको बता दें यंग आर्टिस्ट एडवांस्ड मेंटरशिप प्रोग्राम कला शिक्षा में गेम चेंजर साबित हुआ है। जो भारत में छात्रों के लिए पथप्रदर्शक तो बन ही रहा है, साथ ही समान कला में निपुण लोगों के लिए समुदाय का निर्माण कर रहा है। 100 फाइनलिस्ट की सूची देखने के लिए आप यंग आर्टिस्ट की वेबसाइट पर जा सकते हैं।

शीर्ष 100 युवा कलाकारों की यात्रा-

यंग आर्टिस्ट 2020 भारत के स्कूली बच्चों के लिए एक राष्ट्रीय स्तर की प्रतिभा प्रतियोगिता है। जिसका उद्देश्य छात्रों को प्रेरणा और मान्यता प्रदान करना है। इस कार्यक्रम के जरिए ज्यादा से ज्यादा छात्रों को प्रोत्साहित किया जाता है और उन्हें पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है। और अब सभी 20 श्रेणियों के फाइनलिस्ट्स को 25 लाख रुपये की 100 छात्रवृत्ति प्रदान की जाएंगी। कार्यक्रम का उद्देश्य छात्र प्रतिभाओं को ढूंढना और कला के माध्यम से उनकी यात्रा में उनका समर्थन करना है। अब छात्रों को राष्ट्रीय मंच पर प्रदर्शन करने का अवसर मिलेगा। देश के बेहतरीन और प्रसिद्ध कलाकार जैसे अमजद अली खान, टेरेंस लुईस, शोवना नारायण, शाल्मली खोलगड़े, अरुणा साईराम और कई अन्य छात्रों को गाइडेंस देंगे।

एसआईएफएफ क्या है-

एसआईएफएफ की फुल फॉर्म सिंघल अय्यर फैमिली फाउंडेशन है। जो कर्नाटक राज्य के बेंगलुरू में स्थित एक परोपकारी संगठन है। इसकी स्थापना बेहतर शिक्षा की दिशा में काम करने और भारतीय संगीत एंव कला के प्रति प्यार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से की गई थी।

फिल्म स्कूल से निकाली गई थीं भूमि पेडनेकर, सिर पर था 13 लाख रुपए का कर्ज, जानिए कैसे बनीं बॉलीवुड एक्ट्रेस

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
SIFF Young Artiste 2020 announced top 100 finalists for scholarship programme know all important details
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X