उद्धव ठाकरे ने किया SC के चारों जजों का समर्थन, बोले- जस्टिस लोया की मौत की जांच हो, बीजेपी पर कसा तंज

By: योगेंद्र कुमार
Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करने वाले चारों जजों का तारीफ की है। उन्‍होंने कहा कि वह सुप्रीम कोर्ट के चारों जजों- जस्टिस मदन लोकुर, जस्टिस चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई और जस्टिस कुरियन जोसेफ का पूरा समर्थन करते हैं। ठाकरे ने कहा कि जजों ने मामले को देश के सामने रखकर अच्‍छा काम किया है। हालांकि, उन्‍होंने इस पूरे मामले को बेहद चौंकाने वाला भी बताया।

Action can be initiated against the 4 SC judges

उद्धव ठाकरे ने कहा कि सरकार को इस मामले में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए और जजों के विरुद्ध एकतरफा कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए। उन्‍होंने सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले के सीबीआई जज लोया की मौत के मामले में जांच कराए जाने की भी मांग की है। ठाकरे ने कहा कि अगर किसी ने कुछ गलत नहीं किया है तो उसे जांच से क्या दिक्कत हो सकती है? ठाकरे का बयान बीजेपी पर तंज है। हालांकि, उन्‍होंने खुलकर किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि इशारा बीजेपी की ही ओर है।

उद्धव ठाकरे से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी जस्टिस लोया की मौत के मामले की जांच कराने की मांग कर चुके हैं। उन्‍होंने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के जजों ने जो सवाल उठाए हैं, उन्‍हें ध्यान से देखा जाना चाहिए और मसले को सुलझाया जाना चाहिए। जजों ने जस्टिस लोया की मौत का मामला उठाया है, जिसकी शीर्ष स्तरीय जांच होनी चाहिए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Shivsena chief Uddhav Thackeray said that What happened y'day was very disturbing. Action can be initiated against the 4 SC judges but what is important is that we should try to understand why they took such a step. All 4 pillars of democracy shd stand independently,if they fall on each other,it will collapse.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.