• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर बोले शिवराज सिंह चौहान, उनकी मानसिकता तालिबानी है

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 23 जून। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने एक मीडिया रिपोर्ट को साझा करते हुए आरोप लगाया कि भारतीय अधिकारियों ने चुपचाप तरीके से तालिबान के नेताओं से मुलाकात की है। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करके लिखा, यह बहुत ही गंभीर विषय है। भारत सरकार को इस विषय पर तत्काल वक्तव्य देना चाहिए। क्या BJP IT Cell इसको संज्ञान में ले कर राष्ट्र द्रोह की श्रेणी में लेगा? दिग्विजय सिंह के इस ट्वीट के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिग्विजय सिंह को सोच को तालिबानी करार दिया है। दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दिग्विजय सिंह की सोच तालिबानी है।

shivraj
    Secret Taliban Meeting: Digvijay Singh के Tweet पर Shivraj Singh Chauhan का तंज | वनइंडिया हिंदी

    दरअसल दिग्विजय सिंह ने बीबीसी की एक रिपोर्ट को साझा करके आरोप लगाया है कि भारतीय नेताओं ने तालिबानी नेताओं से मुलाकात की। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय अधिकारियों ने कतर की राजधानी दोहा में गुपचुप तरीके से तालिबानी नेताों से मुलाकात की है। ऐसा पहली बार है कि भारत सीधे तालिबान से बात कर रहा है। एक अधिकारी ने द हिंदू को बताया कि मेरा मानना है कि भारतीय अधिकारियों का यह चुपचाप दौरा तालिबान से बात करने के लिए हुआ है। गौर करने वाली बात है कि भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कतर में नेताओं से मुलाकात कर चुके हैं। हालांकि आधिकारिक रूप से इसपर कुछ भी नहीं कहा गया है कि क्या भारतीय अधिकारियों ने तालिबानी नेताओं से बात की है।

    इसे भी पढ़ें- बिहार बाढ़ पर राहुल ने जताई चिंता, कांग्रेस कार्यकर्ताओं से लोगों की मदद करने की अपीलइसे भी पढ़ें- बिहार बाढ़ पर राहुल ने जताई चिंता, कांग्रेस कार्यकर्ताओं से लोगों की मदद करने की अपील

    माना जा रहा है कि भारत के नेताओं ने तालिबान के नेताओं से इसलिए बात की है क्योंकि अफगानिस्तान में तालिबान बड़ी भूमिका निभाने वाला है। अफगानिस्तान में तालिबान का लंबे समय से वर्चस्व है, लिहाजा हर पक्ष से वार्ता करना ही बेहतर विकल्प है। गौर करने वाली बात है कि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन भी अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से मुलाकात कर सकते हैं। भारत लंबे समय से तालिबान से वार्ता को खारिज करता आया है, भारत ने अफगानिस्तान में कभी भी तालिबान को मान्यता नहीं दी है।

    English summary
    Shivraj Singh Chouhan calls Digvijaya Singh mentality Talibani
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X