• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राज ठाकरे ने की उद्धव से शराब की दुकानें खोलने की मांग, शिवसेना ने दिया ये जवाब

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। मनसे प्रमुख राज ठाकरे की महाराष्ट्र सरकार से शराब की दुकानें खोलने की मांग शिवसेना ने तंज कसा है। शिवसेना की ओर से कहा गया है कि उनके चावल की प्लेट की तरह से ही पैग भी जरूरी है, इसलिए शराब की याद आ रही है। शिवसेना ने शनिवार को अपने मुखपत्र सामना में ये बातें लिखी हैं। सामना के संपादकीय में राज ठाकरे की दो दिन पहले सीएम उद्धव ठाकरे को लिखी उस चिट्ठी को बिल्कुल गैरजरूरी बताया गया है, जिसमें उन्होंने राज्य में शराब की दुकानों को खोल देने की मांग की है।

राज ठाकरे पर निशाना

राज ठाकरे पर निशाना

सामना में कहा गया है,अपनी मांग के जरिये राज ठाकरे ने सरकार को बताया कि शराब भी खाने जैसा महत्वपूर्ण है। जिस तरह चावल की थाली लोगों के लिए जरूरी है उसी तरह वो 'क्वार्टर' और 'पेग' पर निर्भर हैं। आगे संपादकीय में कहा गया है, राज ने कहा है कि वो राजस्व के लिए ऐसा कह रहे हैं लेकिन उन्हें समझना चाहिए कि केवल दुकानें खुल जाने से राजस्व नहीं मिलता। जब कोई वितरक कारखानों से उत्पाद खरीदता है तो सरकार को उत्पाद शुल्क और बिक्री कर के रूप में राजस्व मिलता है। इन इकाइयों को शुरू करने के लिए श्रमिकों की जरूरत होती है। ऐसे में ये सिर्फ दुकान खोलने का मामला नहीं है।

शराब दुकानें खुलीं तो भीड़ कैसे रुकेगी

शराब दुकानें खुलीं तो भीड़ कैसे रुकेगी

सामना में कहा गया है कि कोरोना संकट के चलते कहीं भी भीड़ ना हो ये बहुत जरूरी है। ऐसे में अगर शराब की दुकानें खुलीं तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना मुश्किल काम होगा। ऐसे में इस और भी शराब की दुकानों को खोलने से पहले सरकार को सोचना होगा। लेख में ये भी कहा गया है कि राज ठाकरे ने एक मुद्दा उठाया है और सरकार को समग्र स्थिति पर विचार करते हुए इस पर सोचना चाहिए।

महाराष्ट्र में 24 घंटे में कोरोना के 394 नए केस, संक्रमित मरीजों की संख्या 6817 पहुंचीमहाराष्ट्र में 24 घंटे में कोरोना के 394 नए केस, संक्रमित मरीजों की संख्या 6817 पहुंची

क्या कहा था राज ठाकरे ने

क्या कहा था राज ठाकरे ने

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने गुरुवार को महाराष्ट्र सीएम और अपने चचेरे भाई उद्धव ठाकरे से राज्य में शराब की दुकानों को खोलने को लेकर चिट्ठी लिखी है। उद्धव को लिखी चिट्ठी में राज ने कहा है, राज्य कोरोना संकट से जूझ रहा है। इस संकट से उबरने के लिए पैसा चाहिए और राज्य का खजाना खाली है, ऐसे में हमें इस और तुरंत सोचने की आवश्यकता है। 18 मार्च से माहाराष्ट्र में लॉकडाउन है। 3 मई के बाद भी ये कितना बढ़े, इस पर कुछ कहा नहीं जा सकता है। राज्य में सारा कामकाज बंद है। पेट्रोल-डीजल और जमीन की रजिस्ट्री से कोई कमाई इस वक्त नहीं हो रही है। सरकार की कमाई के ज्यादातर जरिए बंद हैं। इस हालत में बिना पैसे के सरकार कैसे कोरोना से जूझेगी, ये सोचने वाली बात है। ऐसे में राजस्व के लिए शराब की दुकानें खोलने को इजाजत दी जाए।

राज ठाकरे की उद्धव को चिट्ठी- महाराष्ट्र में खोली जाएं शराब की दुकानें, बताया क्यों है ये जरूरीराज ठाकरे की उद्धव को चिट्ठी- महाराष्ट्र में खोली जाएं शराब की दुकानें, बताया क्यों है ये जरूरी

English summary
Shiv Sena Mocks Raj Thackeray over his demand to restart wine shops in Maharashtra
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X