India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

शरद पवार बोले- देवेंद्र फडणवीस ने खुशी से नहीं स्‍वीकार किया दूसरे नंबर का पद

|
Google Oneindia News

मुंबई, 01 जुलाई: महाराष्‍ट्र को गुरुवार को नई सरकार मिल गई। उद्धव ठाकरे को सत्‍ता से पैदल कर एकनाथ शिंदे मुख्‍ममंत्री बनाए गए और भाजपा के देवेंद्र फडणवीस डिप्‍टी सीएम बने। फडणवीस इससे पहले पिछली भाजपा शिवसेना की गठबंधन सरकार में महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री रह चुके हैं। महाराष्‍ट्र की नई सरकार में फडणवीस के आसानी से उप मुख्‍यमंत्री पद स्‍वीकार कर लेने पर हर कोई हैरान हैं वहीं अब विपक्षी नेता और एनसपी प्रमुख ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

    Sharad Pawar को IT का नोटिस, पवार बोले- Love Letter मिला है | Maharashtra | वनइंडिया हिंदी | *News
    sp

    बता दें शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी महाराष्‍ट्र की महा विकास अघाड़ी का हिस्सा रही जो बुधवार को उद्धव ठाकरे के इस्‍तीफा देते ही कल सत्ता खो दी।

    शरद पवार ने कहा

    मुझे नहीं लगता कि देवेंद्र फडणवीस जिन्‍होंने महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री का नंबर दो का पद खुशी-खुशी स्वीकार किया है। पवार ने कहा यह उनके चेहरे पर देखा जा सकता है, लेकिन वह नागपुर में रहते थे। यह एक स्वयंसेवक (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के) के रूप में उनका लोकाचार है, इसलिए उन्होंने यह पद स्वीकार कर लिया। नागपुर भाजपा के वैचारिक गुरु आरएसएस का मुख्यालय है।

    फडणवीस ने खुद शिंदे के सीएम बनने का ऐलान किया था

    बता दें गुरुवार को जब ये माना जा रहा था कि फडणवीस महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेंगे तभी महाराष्‍ट्र की राजनीति में नया ट्टविस्‍ट आया और फडणवीस ने सामने आकर खुद से ऐलान कर दिया कि शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री होंगे। उन्होंने कहा कि वह सरकार का हिस्सा नहीं होंगे, लेकिन बाहर से इसका समर्थन करेंगे। एक सप्ताह से अधिक समय से चल रही चर्चा को धता बताते हुए कि वह अगली सरकार का नेतृत्व करेंगे।

    आदेशों का पालन करते हुए दो बार सीएम रहे फडणवीस बन गए डिप्‍टी सीएम

    वहीं इस ऐलान के ठीक तीन घंटे बाद दो बार महाराष्‍ट्र के मुख्यमंत्री रहे फडणवीस को शिंदे के साथ-साथ उनके डिप्टी के रूप में शपथ लेते देखा गया। माना जा रहा है कि डिप्‍टी सीएम के पद के लिए उनकी स्वीकृति अंतिम समय में थी। एक अतिरिक्त कुर्सी लाई गई ताकि वह राजभवन में शपथ समारोह के लिए शिंदे के साथ मंच पर शामिल हो सकें। डिप्‍टी सीएम का पद स्‍वीकार करके फडणवीस ने यह स्पष्ट कर दिया था कि वह केवल आदेशों का पालन कर रहे थे।

    पार्टी का आदेश जो मुझे सर्वोच्च स्थान दिया

    फडणवीस ने मराठी में ट्टीट करते हुए लिखा एक प्रामाणिक कार्यकर्ता के रूप में, मैं पार्टी के आदेशों का पालन करता हूं। जिस पार्टी का आदेश मुझे सर्वोच्च पद पर लाता है वह मेरे लिए सर्वोपरि है। एक ईमानदार कार्यकर्ता के रूप में मैं पार्टी के आदेशों का पालन करता हूं। पार्टी का आदेश जो मुझे सर्वोच्च स्थान दिया।

    जेपी नड्डा ने अचानक किया था ऐलान

    वहीं भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा ने कहा कि उनसे एक व्यक्तिगत अनुरोध किया गया। केंद्रीय नेतृत्व ने कहा है कि देवेंद्र फडणवीस को उपमुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभालना चाहिए।

    शाह बोले- फडणवीस ने बड़ा दिल दिखाया

    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्टीट करते हुए लिखा जेपी नड्डा के कहने पर, देवेंद्र फडणवीस ने बड़ा दिल दिखाते हुए महाराष्ट्र राज्य और लोगों के हित में सरकार में शामिल होने का फैसला किया है। यह निर्णय महाराष्ट्र के प्रति उनकी सच्ची वफादारी और सेवा का प्रतीक है। इसके लिए मैं उन्हें दिल से बधाई देता हूं।

    जब अपने सौभाग्य को.....उद्धव ठाकरे के महाराष्‍ट्र की सत्‍ता गंवाने पर चचेरे भाई राज ठाकरे ने किया ये कटाक्षजब अपने सौभाग्य को.....उद्धव ठाकरे के महाराष्‍ट्र की सत्‍ता गंवाने पर चचेरे भाई राज ठाकरे ने किया ये कटाक्ष

    Comments
    English summary
    Sharad Pawar said - Devendra Fadnavis did not happily accept the second position
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X