सेक्स वर्कर को पैसा देने से ग्राहक का इनकार रेप नहीं: सुप्रीम कोर्ट

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। देश की सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट ने एक रेप केस की सुनवाई करते हुए अहम बात कही है। कोर्ट ने कहा कि अगर कोई ग्राहक, सेक्स वर्कर से काम लेने के बाद पैसे देने से मना करता है, तो सेक्स वर्कर उस ग्राहक पर रेप केस नहीं कर सकती है।

अधेड़ उम्र के यात्री ने फ्लाइट में कपड़े उतार महिला क्रू से की बदसलूकी

आखिर क्यों 'मोहर्रम' एक त्योहार नहीं बल्कि है मातम का दिन?

अदालत ने ये फैसला बेंगलुरू के एक बीस साल पुराने मामले में सुनाया है और इसके साथ ही इस मामले के तीन आरोपियों को बाइज्जत बरी कर दिया है।

क्यों 'हाजी अली दरगाह' की मजार तक नहीं जाती महिलाएं?

अदालत ने कहा कि अगर कोई महिला किसी पर बलात्कार का आरोप लगाती है तो उसका मामला तुरंत दर्ज होना चाहिए लेकिन इस मामले में उसी की सारी बात सही हो, ऐसा होना हर वक्त सही नहीं होता, इसलिए इस मामले की पर्याप्त जांच होनी चाहिए और महिला के पास भी अपने ऊपर हुए अत्याचार को साबित करने के लिए पुख्ता सबूत होना चाहिए।

प्रियंका चोपड़ा की टी-शर्ट पर मचा हंगामा, जानिए क्यों?

मालूम हो कि कोर्ट ने इसलिए ऐसा कहा क्योंकि जिस केस की सुनवाई वो कर रही थी, उसमें महिला ने तीन लोगों पर खुद का अपहरण और जबरन रेप करने का आरोप लगाया था, जिसे सही मानते हुए कर्नाटक हाईकोर्ट ने रेप का केस दर्ज किया था। जिसके बाद आरोपियों ने सुप्रीमकोर्ट में अपील की थी।

बाबूजी की चुनिंदा कविताएं जो बिग-बी को बेहद पसंद हैं...

इस केस में महिला की सहेली ने कोर्ट में बयान दिया था कि उसकी दोस्त दिन में नौकरानी का और रात में सेक्स वर्कर का काम करती थी। इस काम के दौरान उसने तीनों आरोपियों के साथ डील की और 1000 रूपए की मांग की, जिसे कि इन तीनों लोगों ने देने से मना कर दिया इसलिए महिला ने इन तीनों पर अपहरण और रेप का केस दर्ज कर दिया।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Acquitting three persons of rape charges, the Supreme Court has ruled that a sex worker cannot lodge a sexual assault complaint against her customers if they refuse to pay.
Please Wait while comments are loading...