कितना खतरनाक है ओरल सेक्स, स्टडी में हुआ सन्‍न कर देने वाला खुलासा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। बहुत से लोगों को ऐसा लगता है कि ओरल सेक्‍स सुरक्षित है क्‍योंकि इससे गर्भ ठहरने की चिंता नहीं रहती और इससे किसी बीमारी से ग्रस्‍त होने का खतरा भी कम होता है। लेकिन अगर स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों की मानें तो यह गलत है। उनका कहना है कि सुरक्षित तरीके से ओरल सेक्स न करने से यौन संबंध बनाने के दौरान होने वाली बीमारियों का खतरा रहता है। उन खतरों में जो सबसे बड़ा खतरा है वो ''सूजाक''। जी हां WHO की एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि भारत समेत 50 देशों में सूजाक जैसी बीमारी बढ़ रही है। डॉक्‍टरों का यह भी मानना है कि इस बीमारी के बढ़ने के पीछे ओरस सेक्‍स खास वजह है।

क्‍या होता है सूजाक

क्‍या होता है सूजाक

सूजाक एक ऐसी यौन बीमारी है जिसमें शरीर दवा का असर कम करने की शक्ति प्राप्त कर लेता हैं या इसे आसान शब्दों में कह सकते हैं कि सूजाक की बीमारी हो जाने पर दवाओं का असर नहीं होता है। ओरल गॉनरिया यानी मुंह का सूजाक एक ऐसी बीमारी है जिसका पता लगाना और इलाज बहुत मुश्किल है।

सेक्‍स पार्टनर हो हो जाता है ट्रांसफर

सेक्‍स पार्टनर हो हो जाता है ट्रांसफर

सबसे चिंताजनक बात है कि यह बैक्टीरिया गले में मौजूद अन्य बैक्टीरिया से ऐंटिबायॉटिक्स को बेअसर करने की क्षमता हासिल कर लेता है और बाद में यह सेक्स पार्टनर्स में ट्रांसफर हो जाता है। हर साल करीब 7.8 करोड़ लोग सूजाक से संक्रमित होते हैं। मरीजों की संख्या दिन ब दिन बढ़ रही है।

लोगों ने कम कर दिया कंडोम का इस्‍तमाल

लोगों ने कम कर दिया कंडोम का इस्‍तमाल

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, बीमारी बढ़ने के कई कारण हैं। लोगों में एचआईवी फैलने का भय धीरे-धीरे खत्म हो रहा है जिस कारण उन लोगों ने कंडोम का इस्तेमाल कम कर दिया है। इन दिनों बड़ी संख्या में लोग दूसरे देश की यात्रा कर रहे एक जगह से दूसरी जगह के लोगों में दवाओं को बेअसर करने की बीमारी फैल रही है।

ओरल सेक्‍स को लेकर लोगों में गलतफहमियां

ओरल सेक्‍स को लेकर लोगों में गलतफहमियां

मुंह से एसटीडी नहीं फैलता। यह ओरल सेक्स को लेकर प्रचलित सबसे आम मिथक है। लेकिन यह पूरी तरह से गलत है। मैड्रिड के इंस्टीट्यूट ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन के विशेषज्ञ मारियानो रोजेलो गाया ने बताया, '' यह बात पूरी तरह गलत है। ओरल सेक्स के दौरान एसटीडी फैलने की आशंका रहती है।'' इसका उदाहरण देते हुए वो कहते हैं कि ओरल सेक्स से ह्यूमन पापील्यूमा वायरस (एचपीवी) के संक्रमण, जेनाइटल हर्प्स या सुजाक के संक्रमण का खतरा रहता है।

इंजीनियरिंग की छात्रा जो कैमरे पर न्यूड होकर कमाती है करोड़ों

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Throats act as a 'silent reservoir' for gonnorrhoea that is driving the drug-resistance crisis, a scientist reveals.
Please Wait while comments are loading...