नोटबंदी: गुजरात में एसबीआई के कैशियर ने वर्क प्रेशर की वजह से फांसी लगा ली

Subscribe to Oneindia Hindi

बनासकांठा। नोटबंदी के बाद बैंक कर्मियों के ऊपर काम का काफी प्रेशर है। गुजरात के बनासकांठा इलाके में एसबीआई के एक कर्मचारी ने खुदकुशी कर ली। परिजनों का कहना है कि वर्क प्रेशर की वजह से बैंक कर्मी ने इतना बड़ा कदम उठा लिया।

Read Also: लड़की ने फेसबुक पर डाला अपने सुसाइट का LIVE वीडियो

suicide

वर्क प्रेशर की वजह से खुद को मार डाला!

बनासकांठा के थराद निवासी प्रेम शंकर प्रजापति एसबीआई के स्थानीय ब्रांच में कैशियर थे। 33 साल के प्रजापति ने रविवार को घर के पंखे से फांसी लगाकर जान दे दी।

पत्नी मंजुला ने कहा कि उनके पति काम का बहुत ज्यादा दबाव होने की बात कर रहे थे।

पुलिस ने कहा, मोटिव अभी मालूम नहीं

हलांकि इस मामले में पुलिस फिलहाल कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। पुलिस का कहना है कि प्रेम शंकर प्रजापति की खुदकुशी के मोटिव के बारे में अभी कुछ कहा नहीं जा सकता।

थराद थाने में पुलिस इंस्पेक्टर जे जी चावड़ा ने कहा, 'प्रजापति राजस्थान के बाड़मेर के रहनेवाले हैं। वह थराद में एसबीआई ब्रांच में पिछले डेढ साल से कैशियर की नौकरी कर रहे थे। उनकी खुदकुशी की वजह की अभी जानकारी नहीं है। कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।'

पत्नी मंजुला ने पति के बारे में कहा

प्रेम शंकर प्रजापति की पत्नी मंजुला ने कहा, 'मेरे पति बैंक से आने के बाद रोज टेंशन में रहते थे। वे कहते थे कि बैंक में बहुत ज्यादा वर्क प्रेशर है। वह टेंशन की वजह से बहुत ज्यादा बात भी नहीं करते थे।'

Read Also: पत्नी से झगड़कर 'क्राइम पेट्रोल' के अभिनेता कमलेश पांडे ने खुद को गोली मारी

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A SBI staff in Gujarat did suicide in Gujarat due to heavy work pressre after demonetisation in office.
Please Wait while comments are loading...