नोटबंदी: भीड़ के सामने कैश गिनते-गिनते कैशियर को पड़ा दिल का दौरा, मौत

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

भोपाल। नोटबंदी की वजह से बैम कर्मचारियों पर बढ़े काम के दबाव का एक दर्दनाक परिणाम सामने आया है। भोपाल में बैंक के अंदर भीड़ देखकर कैश गिनते हुए एक सीनियर कैशियर को दिल का दौरा पड़ गया और उनकी मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक मामला भोपाल के एसबीआई बैंक रातीबड़ ब्रांच का है। बैंक के काउंटर पर पुरुषोत्तम व्यास कैश गिन रहे थे. इसी दौरान अचानक नोट गिनते समय पुरूषोत्तम टेबल पर बेहोश होकर गिर गए।

नोट बदलने गई लड़की को आया गुस्सा, भीड़ के सामने उतारे कपड़े 

SBI cashier dies of heart attack in Bhopal amid rush to exchange notes

बैंक के अन्‍य स्‍टॉफ फौरन उन्‍हें लेकर अस्‍पताल पहुंचे लेकिन तबतक उनकी मौत हो गई। पुरूषोत्तम व्यास की उम्र लगभग 45 साल थी। उनके परिवार में पत्नी, एक बेटा और बेटी है। आपको बता दें कि नोटबंदी के कारण रविवार को भी बैंक खुले थे। काम का लोड भी बैंक कर्मचारियों पर था। सुबह से बैंकों के बाहर लंबी लंबी लाइनें लगी थी। हालांकि, बैंक मैनेजर का कहना है कि काम का लोड तो रहता है, लेकिन काम करने में कोई भी दिक्कत और परेशानी नहीं थी।

VIDEO: पानी में डुबोने पर 2000 के नोट का क्‍या हुआ हाल 

लाइन में खड़े रहने के दौरान हार्ट अटैक

मध्‍यप्रदेश में नोटबंदी को लेकर मौत का यह दूसरा मामला है। सागर जिले में शनिवार को बैंक की कतार में लगे सेवानिवृत्त कर्मचारी विनोद पांडे (70) चक्कर खाकर गिर पड़े, उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। जानकारी के मुताबिक विनोद पांडे काफी देर तक यूनियन बैंक की कतार में लगे थे, तभी उन्हें चक्कर आ गया। वह जमीन पर गिर पड़े, उन्हें तुरंत पुलिस की सूचना पर 108 वाहन से अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A 45-year-old cashier at the Neelbad branch of State Bank of India here reportedly died of heart attack on Sunday evening at Ratibad locality in Bhopal.
Please Wait while comments are loading...