• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'सती' कांड में खुलासा: पहले ही मर चुकी थी महिला, एक ही चिता पर हुआ दाह संस्‍कार

|

पटना। शनिवार को बिहार के सहरसा में एक 65 साल की महिला के पति की चिता में कूदकर सती होने के सनसनीखेज मामले में एक नया मोड़ आया है। जी हां महिला के बेटे ने मां के 'सती' होने से इंकार करते हुए खुलासा किया है कि महिला की मौत चिता पर पहुंचने से पहले ही हो चुकी थी। सीधे शब्‍दों में कहें तो महिला 'सती' नहीं हुई थी बल्कि एक ही चिता पर पति संग उसका भी दाह संस्‍कार किया गया था।

Saharsa 'Sati' case

आपको बताते चलें कि शनिवार को बिहार के सहरसा से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आयी थी। खबर ये थी कि पति के दाह संस्‍कार के वक्‍त 65 वर्षीय पत्‍नी उसके चिता पर कूद कर सती हो गई। पत्‍नी का नाम गवाह देवी था। इस संबंध में गवाह देवी के बेटे रमेश मंडल ने बताया कि जैसे ही मां को पिता जी की मौत की खबर मिली उन्‍हें दिल का दौरा पड़ गया और उनकी मौत हो गई। रमेश ने बताया कि पिता का नाम रामचरित्र मंडल था और वो कैंसर से पीडि़त थे।

रमेश ने बताया पिता के दाह संस्‍कार के दौरान एक ही चिता पर मां का भी अंतिम संस्कार कर दिया गया। लेकिन आस-पास के लोगों ने गलतफहमी में पुलिस को सूचना दे दी कि एक महिला ने खुद को आग में कूदकर सती कर लिया है। लोगों ने ये भी आरोप लगाया कि परिजनों ने महिला को बचाने की कोशिश नहीं की। फिलहाल पुलिस इस मामले की छानबीन कर रही है। पुलिस का कहना है कि जल्‍द ही तस्‍वीर साफ हो जाएगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In a twist in the shocking news of a 65-year-old woman performing Sati in Bihar's Saharsa. The family of the woman has claimed that she was already dead and the couple was cremated together.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X