• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारतीय राजनयिकों को अभिमानी कहने पर राहुल गांधी पर बरसे किरन रिजिजू-हिमंत बिश्व शर्मा

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 22 मई। लंदन के कैंब्रिज विश्वविद्यालय में राहुल गांधी के भाषण पर जिस तरह से विदेश मंत्री एस जयशंकर ने तीखा हमला बोला, उसके बाद केंद्रीय मंत्री किरन रिजिजू और असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिश्व शर्मा ने राहुल गांधी के बयान पर निशाना साधा है। ट्विटर के जरिए शर्मा ने राहुल गांधी के बयान की आलोचना की है। राहुल गांधी ने कहा था कि भारतीय विदेश सेवा बिल्कुल बदल गई है और ये अभिमानी हो गए हैं, ये किसी की सुनते नहीं हैं, ये अब सिर्फ आदेश देते हैं।

rahul

कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में राहुल गांधी ने दिए अपने इंटरव्यू में कहा कि मैं कुछ यूरोप के राजनयिकों से बात कर रहा था, उनकी बात सुनकर लग रहा था कि वो किसी की सुनते नहीं हैं, वो अभिमानी हो गए हैं। बता दें कि राहुल गांधी ने ब्रिज इंडिया द्वारा आयोजित कार्यक्रम में यह बयान दिया है। यूक्रेन का हवाला देते हुए राहुल ने कहा कि लद्दाख में यूक्रेन जैसी स्थिति है, लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार इस मुद्दे पर चीन से बात तक नहीं करना चाहती है। एस जयंशकर ने राहुल के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि अब चीजें पहले जैसी नहीं हैं, भारतीय विदेश सेवा बदल गई है, अब राजनयिक सरकार के आदेश का पालन करते हैं, दूसरों से बहस करते हैं इसे अभिमानी होना नहीं कहा जाता है, इसे देश के प्रति विश्वास और देशहित की रक्षा करना कहा जाता है।

इसे भी पढ़ें- Fuel Rates: राजस्थान सरकार ने भी पेट्रोल-डीजल पर घटाया वैट, जानिए आपके शहर में आज क्या है तेल का भाव?
हिमंत बिश्व शर्मा ने कहा कि फर्जी बौद्धिकता का यह चरम है, असम ने भारत के साथ कभी भी शांति समझौता नहीं किया, गांधी जी के समर्थन से गोपीनाथ बोर्दोलोई ने असम को भारत माता के साथ रखने के लिए संघर्ष किया। नेहरू ने हमे कैबिनेट मिशन प्लान के तहत पाकिस्तान के साथ जाने के लिए छोड़ दिया था। दरअसल राहुल गांधी ने असम को लेकर कहा था कि भारत ने ऊपर से नीचे तक विकास नहीं किया है, बल्कि नीचे से ऊपर हुआ है, ये सभी राज्य यूपी, असम, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, ये सभी एकजुट हुए और इन्होंने शांति को तैयार किया, राज्यों के संघ जिसे बातचीत की जरूरत है, वह बातचीत के लिए एक यंत्र के तौर पर उभरा और संविधान बना। एक व्यक्ति को एक वोट का अधिकार होगा, चुनाव व्यवस्था होगी, लोकतांत्रित व्यवस्था होगी, चुनाव आयोग होगा, आईआईटी, आईआईएम होगा।

    Rahul Gandhi in London: Himanta Biswa Sarma ने राहुल को क्यों दिलाई नेहरू की याद ? | वनइंडिया हिंदी

    राहुल गांधी ने कहा कि भारत की विदेशी राजनयिक अभिमानी हो गए हैं, उनके इस बयान पर रिजिजू ने कहा कि , चूंकि कोई भारत पर विदेशी जमीन पर हमला बोल रहा है और हमारी स्वतंत्र विदेशी सेवा पर हमला बोल रहा है, ट्वीट ये दर्शाते हैं कि कांग्रेस का तौर तरीका क्या है, राजनयिक पंडित नेहरू की गलतियों को सही करने में लगे हैं, कांग्रेस को इसपर शर्मिंदा होना चाहिए। मुझे समझ नहीं आता है कि आखिर किसी को भारत पर विदेशी जमीन पर हमला करके क्या हासिल होता है। किरन रिजिजू ने एक ट्विटर यूजर का स्क्रीनशॉट शेयर किया, जिसमे उसने कहा कि उनके दादा ने राजीव गांधी के लिए ट्रिनिटी कॉलेज का सुझाव दिया था। राजयनिक टीएन कौल के पत्र को शेयर करते हुए उसने दावा किया राजीव को कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में किस कोर्स में दाखिला बेहतर होगा।

    Comments
    English summary
    S Jaishankar hits on Rahul Gandhi over his statement on indian foreign sevices.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X