• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रूसी वैक्सीन स्पुतनिक वी के ट्रायल को लगा झटका, टीकाकरण में दुनिया की मदद करेगा भारत

|

नई दिल्ली। रूसी कोरोनावायरस वैक्सीन स्पुतनिक वी के तीसरे चरण के क्लिीनिकल परीक्षण का ट्रायल रोक दिया गया है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि मॉस्को के कई केंद्रों में स्पूतनिक वी वैक्सीन के तीसरे चरण का क्लिीनिकल ट्रायल को रोक दिया गया, क्योंकि ट्रायल के लिए वालंटियर्स को दिए जाने वाले खुराक की कमी हो गई थी। भारत सरकार ने कहा है कि वह पूरी दुनिया में टीकाकरण में मदद करेगा।

vaccine

पुलवामा हमले पर पाक मंत्री के खुलासे पर जावड़ेकर ने कहा, 'कांग्रेस को माफी मांगनी चाहिए'

    Adar Poonawalla का बयान, Emergency License के लिए अप्लाई कर सकता है Serum Institute | वनइंडिया हिंदी
    वैक्सीन उत्पादन व वितरण क्षमताओं का उपयोग भारत टीकाकरण में करेगा

    वैक्सीन उत्पादन व वितरण क्षमताओं का उपयोग भारत टीकाकरण में करेगा

    भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वैक्सीन के उत्पादन और वितरण क्षमताओं का उपयोग भारत दुनिया की आबादी को कोरोनावायरस टीके देने में किया जाएगा। मंत्रालय के मुताबिक वैक्सीन निर्माण के मोर्चे पर आगे चल रहे भारतीय कंपनियां क्रमशः मॉडर्ना, फाइज़र और एस्ट्राजेनेका अपने क्लीनिकल ​​परीक्षणों के साथ मजबूत हो रहे हैं और कंपनियों ने कहा है कि वे ट्रैक पर हैं।

    खुराक की कमी के चलते रूसी टीका के परीक्षण को लगा झटका

    खुराक की कमी के चलते रूसी टीका के परीक्षण को लगा झटका

    रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार रूस ने मॉस्को क्लिीनिकल ट्रायल सेंटरों में उच्च मांग और खुराक की कमी के कारण कोरोनोवायरस वैक्सीन स्पुतनिक वी के परीक्षण को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है। मॉस्को के 25 में से 8 क्लीनिकों में परीक्षण और वॉलंटियर्स की टीकाकरण मेजबानी कर रहे हैं। एक स्टाफ ने रायटर को बताया कि नए प्रतिभागियों का टीकाकरण रोक दिया गया है। कई लोगों ने बताया कि उन्होंने अपने क्लीनिक को आवंटित खुराक का इस्तेमाल किया था और बताया कि वहां वालंटियर्स की एक बड़ी संख्या मौजूद थी।

    डॉ. रेड्डी लेबोरट्रीज को DCGI के आदेश के बाद परीक्षण रोकना पड़ा है

    डॉ. रेड्डी लेबोरट्रीज को DCGI के आदेश के बाद परीक्षण रोकना पड़ा है

    मॉस्को की महत्वाकांक्षी और अपरंपरागत वैक्सीन योजना के लिए खुराक की कमी नवीनतम चुनौती है, जिसके ट्रायल को पूरा करने के लिए सरकार ने सुरक्षा और प्रभावकारिता के पूर्ण परीक्षण से पहले ही नियामक को आगे बढ़ने और बड़े पैमाने पर टीकाकरण के लिए आम जनता को भी देखा गया है। रूसी स्पुतनिक वी के भारत परीक्षणों का संचालन कर रही हैं डॉ. रेड्डी लेबोरट्रीज को भारतीय ड्रग कंट्रोलर के आदेश के बाद परीक्षण रोकना पड़ा है। डॉ. रेड्डीज लैब्स को भी अपने सर्वर में डेटा ब्रीच का सामना करना पड़ा था।

    भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा, भारत दुनिया को पहुंचाएगी वैक्सीन

    भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा, भारत दुनिया को पहुंचाएगी वैक्सीन

    केंद्र सरकार ने कहा है कि भारत की वैक्सीन उत्पादन और वितरण क्षमता का उपयोग कोरोनोवायरस संकट से लड़ने में सभी मानवता की मदद करने के लिए किया जाएगा। भारत अपनी कोल्ड चेन और भंडारण क्षमता बढ़ाने में देशों की मदद करेगा। MEA के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा है कि भारत ने अपने पड़ोसी देशों के लिए दो प्रशिक्षण मॉड्यूल आयोजित किए हैं, जिसमें लगभग 90 स्वास्थ्य विशेषज्ञों और वैज्ञानिकों ने हिस्सा लिया। श्रीवास्तव ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण में घोषणा की कि भारत की वैक्सीन उत्पादन और वितरण क्षमता का उपयोग सभी मानवता की मदद करने के लिए किया जाएगा।

    बुजुर्गों के लिए काम कर रहा बीसीजी वैक्सीनः आईसीएआर अध्ययन

    बुजुर्गों के लिए काम कर रहा बीसीजी वैक्सीनः आईसीएआर अध्ययन

    आईसीएमआर के एक नवीनतम अध्ययन के अनुसार बच्चों को तपेदिक से बचाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले लोकप्रिय बीसीजी वैक्सीन के भारत में बुजुर्ग व्यक्तियों के एक समूह में शामिल होने के बाद सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। शुरुआती परिणामों से पता चला है कि बीसीजी वैक्सीन बुजुर्गों में दो प्रकार की प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाओं को संशोधित करने में प्रभावी है। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि बीसीजी वैक्सीन से कोरोनावायरस के खिलाफ संभावित उपयोगिता हो सकती है।

    वैक्सीन अपने अंतिम चरण के परीक्षण के साथ ट्रैक पर है: मॉर्डन

    वैक्सीन अपने अंतिम चरण के परीक्षण के साथ ट्रैक पर है: मॉर्डन

    अमेरिकी दवा निर्माता मॉडर्न ने कहा है कि वह कोरोनोवायरस वैक्सीन उम्मीदवार के अपने अंतिम चरण के परीक्षण के साथ ट्रैक पर है और अगले महीने इसके शुरुआती आंकड़ों से रिपोर्ट आने की उम्मीद की जा सकती है। मॉडर्ना ने वैक्सीन परीक्षणों पर अपनी डेटा उपलब्धता के लिए एक स्पष्ट समय रेखा भी दी है। कोरोनावायरस से बचाव के लिए टीकों का उत्पादन करने की वैश्विक दौड़ में सबसे आगे चलने वाले मॉडर्ना ने कहा कि एक स्वतंत्र डेटा निगरानी समिति से नवंबर में चल रहे 30,000-व्यक्ति परीक्षण की अंतरिम समीक्षा करने की उम्मीद है।

    कोरोनावायरस वैक्सीन वितरित करने की तैयारी कर रही है मॉडर्न

    कोरोनावायरस वैक्सीन वितरित करने की तैयारी कर रही है मॉडर्न

    अमेरिका स्थित फार्मा कंपनी मॉडर्न ने कहा है कि वह कोरोनावायरस वैक्सीन वितरित करने की तैयारी कर रही है, जिसे mRNA-1273 के रूप में जाना जाता है, और वर्ष के अंत तक 2 करोड़ खुराक का उत्पादन करने में सक्षम होने की उम्मीद है, और 2021 में 50 करोड़ और 1 अरब के बीच खुराक का उत्पादन करने में सक्षम होने की संभावना है।

    दिसंबर-जनवरी में अमेरिका में आ सकता है पहला टीका

    दिसंबर-जनवरी में अमेरिका में आ सकता है पहला टीका

    अमेरिका के शीर्ष रोग विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फौसी ने कहा है कि अगर सब कुछ पटरी पर रहा, तो अमेरिका में दिसंबर के अंत या जनवरी 2021 की शुरुआत में कोरोनावायरस का पहला टीका आ सकता है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिज़ीज़ के निदेशक फौसी ने कहा कि वैक्सीन निर्माण के मोर्च आगे चल रहे मॉडर्ना इंक और फाइज़र इंक के मौजूदा अनुमानों के आधार पर अमेरिकियों को संभवतः दिसंबर में पता चल जाएगा कि हमारे पास सुरक्षित और प्रभावी वैक्सीन है या नहीं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Trial of Phase III clinical trials of the Russian coronavirus vaccine Sputnik V has been stopped. A report stated that the third-phase clinical trial of the Sputnik V vaccine was halted in many centers in Moscow, as the dose to the volunteers was reduced for the trial. The Government of India has said that it will help in vaccination all over the world.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X