• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

देश के 18 बैंकों में तीन महीने में 32000 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा: RTI

|

नई दिल्ली। सरकार लगातार बैंकिंग व्यवस्थाा को बेहतर करने और इसमे व्याप्त भ्रष्टाचार को खत्म करने का दावा कर रही है। लेकिन सरकार के दावे से इतर आरटीआई से जो खुलासा हुआ है वह बैंकों में व्याप्त भ्रष्टाचार को उजागर करने के लिए काफी है। इस वर्ष अप्रैल और जून माह के बीच देश के 18 पब्लिक सेक्टर की जानकारी को लेकर एक आरटीआई दायर की गई थी, जिसमे बड़ा खुलासा हुआ है। आरटीआई से खुलासा हुआ है कि बैंको में कुल 2480 मामलों में 31898.63 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा हुआ है।

सबसे अधिक मामले एसबीआई में

सबसे अधिक मामले एसबीआई में

देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में सबसे अधिक 38 फीसदी का फर्जीवाड़ा सामने आया है। नीमच के आरटीआई एक्टविस्ट चंद्रशेखर गौड़ा ने पीटीआई को बताया कि उनके आरटीआई के जवाब में आरबीआई ने उन्हें आधिकारिक जवाब दिया है। एसबीआई के पहले क्वार्टर में 12012.77 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा सामने आया है। स्टेट बैंक के बाद इलाहाबाद दूसरे पायदान पर है, जहां पर धोखाधड़ी के कुल 381 मामले सामने आए हैं, जिसमे 2855.46 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा हुआ है।

पीएनबी में 99 फर्जीवाड़े के मामले

पीएनबी में 99 फर्जीवाड़े के मामले

तीसरे पायदान पर पंजाब नेशनल बैंक का नाम आता है, जहां पर कुल 99 धोखाधड़ी के मामले सामने आए हैं, जिसमे कुल 2526.55 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा हुआ है। हालांकि आरबीआई द्वारा दी गई जानकारी इस बारे में सटीक जानकारी नहीं दी गई है कि यह फर्जीवाड़ा किस तरह का है और इससे बैंक या उसके ग्राहकों को कितना नुकसान हुआ है। फर्जीवाड़े से पब्लिक सेक्टर के बैंकों को कितना नुकसान हुआ है इसपर आरबीआई का कहना है कि उसके पास यह आंकड़े नहीं है।

बैंक ऑफ बड़ौदा में हजारों करोड़ का फर्जीवाड़ा

बैंक ऑफ बड़ौदा में हजारों करोड़ का फर्जीवाड़ा

बैंक ऑफ बड़ौदा की बात करें तो पहले क्वार्टर में इसमे कुल 75 फर्जीवाड़े के मामले सामने आए हैं, जिसमे कुल 2297.-5 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी हुई है। वहीं ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स में कुल 45 मामले सामने आए, जिसमे 2133.08 करोड़ रुपएा फर्जीवाड़ा हुआ है। केनरा बैंक में कुल 69 मामले सामने आए जिसमे 2035.81 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में 194 मामले, जिसमे कुल 1982.27 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा, युनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया में कुल 31 मामले में 1196.19 करोड़ रुपए के फर्जीवाडे़ का मामला आरटीआई में सामने आया है।

अन्य बैंको में भी हुआ फर्जीवाड़ा

अन्य बैंको में भी हुआ फर्जीवाड़ा

कॉर्पोरेशन बैंक की बात करें तो यहां पर 16 फर्जीवाड़े के मामले सामने आए हैं जिसमे 960.80 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी हुई है, इंडियन ओवरसीज बैंक में 46 मामले सामने आए, जिसमे 934.67 करोड़ का फर्जीवाड़ा, सिंडिकेट बैंक में 54 मामले सामने आए, जिसमे 795.75 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में 51 मामले जिसमे 753.37 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा, यूको बैंक में 42 मामले सामने आए जिसमे कुल 517 करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा हुआ है।

इसे भी पढ़ें- चिन्मयानंद की मुश्किलें बढ़ीं, वीडियो वायरल करने वाली छात्रा ने लगाया रेप का आरोप

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
RTI reveals 32000 crore rupees fraud in 18 public sector bank in 3 months.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X