DUSU में हार के बीच RSS ने मोदी-शाह के लिए भेजी एक और बुरी खबर

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। क्या मोदी सरकार की लोकप्रियता घट रही है? ये सवाल इसलिए क्योंकि एक दिन पहले आए दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव में एबीवीपी को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद गंवाना पड़ा। मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद पहली बार डूसू चुनाव में एबीवीपी की इतनी बड़ी हार हुई है। इन नतीजों के बीच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की ओर से भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के लिए बुरी खबर आई है। आरएसएस ने मोदी-शाह को चेताया है।

आरएसएस ने बीजेपी और सरकार को चेताया

आरएसएस ने कहा है कि जनता का मूड मोदी सरकार के प्रति बदल रहा है। मोदी सरकार की लोकप्रियता घट रही है ऐसे में बीजेपी और सरकार दोनों को इस पर विचार करने की जरुरत है। आरएसएस ने विभिन्न संगठनों से मिले फीडबैक के बाद बीजेपी और मोदी सरकार को अलर्ट किया है।

इसे भी पढ़ें:- दिल्ली विश्वविद्यालय में NSUI के 2 सीटें हासिल करने के 4 सबक

संघ ने मोदी सरकार की नीतियों पर उठाए सवाल

संघ ने मोदी सरकार की नीतियों पर उठाए सवाल

'द टेलीग्राफ' में छपी रिपोर्ट के मुताबिक आरएसएस ने मोदी सरकार के प्रदर्शन पर विभिन्न संगठनों से जानकारी ली है। इसमें जो मुख्य बातें सरकार के खिलाफ जा रही हैं उनमें आर्थिक मंदी, बेरोजगारी, नौकरी से निकाले जाने और नोटबंदी की विफलता जैसे मुद्दे शामिल हैं।इसके साथ-साथ किसानों की खराब हो रही स्थिति भी सरकार के लिए खतरे की घंटी का काम कर सकती है।

नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता में कमी नहीं

नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता में कमी नहीं

आरएसएस ने सरकार से जुड़े नुमाइंदों और पार्टी नेताओं को बताया है कि कार्यकर्ताओं से जो जानकारी मोदी सरकार के लिए मिल रही है वो अच्छी नहीं है। आम आदमी गंभीर मुद्दों को उठा रहे हैं और सरकार के रवैये पर चर्चा कर रहे हैं। 'द टेलीग्राफ' की रिपोर्ट के मुताबिक संघ की ओर से ये जरूर कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता अभी भी कायम है, लेकिन इसका ये मतलब नहीं निकाला जा सकता है कि आने वाले चुनाव में जीत सुनिश्चित है।

क्या होगी बीजेपी की रणनीति

क्या होगी बीजेपी की रणनीति

आरएसएस ने 2004 के लोकसभा चुनाव का जिक्र करते हुए कहा कि उस चुनाव में इंडिया शाइनिंग कैंपेन और अटल बिहारी वाजपेयी की लोकप्रियता के बाद भी बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा था। जानकारी के मुताबिक संघ को विभिन्न संगठनों से जो रिपोर्ट मिली है उसके मुताबिक सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना की गई है। आरएसएस से जुड़े एक नेता ने 'द टेलीग्राफ' को बताया कि लोगों को मोदी सरकार से उम्मीद थी कि वो काला धन लेकर आ सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि नोटबंदी की गई थी, इसमें काला धन मिल सकता है लेकिन ऐसा नहीं हुआ, जिसके चलते लोग खुद को ठगा हुआ सा महसूस कर रहे हैं।

2019 से पहले RSS ने बीजेपी को किया अलर्ट

2019 से पहले RSS ने बीजेपी को किया अलर्ट

बता दें कि हाल ही आरएसएस नेताओं ने मथुरा में तीन दिन का समन्वय कार्यक्रम किया था। इस दौरान संघ को अपने विभिन्न संगठनों से अलग-अलग जमीनी हकीकत की जानकारी मिली। इस बैठक में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए थे।

इसे भी पढ़ें:- बुलेट ट्रेन के उद्घाटन पर क्या बोले पीएम नरेंद्र मोदी, पढ़िए भाषण की खास बातें

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
RSS alerted BJP to credible signs shift the public mood over performance of the modi government.
Please Wait while comments are loading...