• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कभी भी रिया चक्रवर्ती को हिरासत में ले सकती है सीबीआई, जानिए जल्द गिरफ्तारी क्यों है जरूरी ?

|
Google Oneindia News

बेंगलुरू। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत को 54 दिन पूरे हो चुके हैं, लेकिन अभी तक मौत की गुत्थी का सिरा पकड़ा नहीं जा सका है, लेकिन गत 5 अगस्त को बिहार की नीतीश सरकार द्वारा मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश केंद्र द्वारा स्वीकार करने के बाद मामले में जल्द न्याय की संभावना बढ़ गई है, क्योंकि मामले की जांच सीबीआई जांच की सिफारिश के बाद से संदिग्धों हलचल बढ़ गई है।

    Rhea Chakraborty Case : Sushant Case में पूछताछ के लिए ED दफ्तर पहुंचीं रिया | वनइंडिया हिंदी

    Reha

    राम मंदिर पॉलिटिक्सः अगस्त में कभी भी रामलला दर्शन को अयोध्या जा सकते हैं राहुल गांधी!राम मंदिर पॉलिटिक्सः अगस्त में कभी भी रामलला दर्शन को अयोध्या जा सकते हैं राहुल गांधी!

    अब तक लुकाछुपी की खेल रहीं कथित गर्लफ्रेंड व अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती

    अब तक लुकाछुपी की खेल रहीं कथित गर्लफ्रेंड व अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती

    सुशांत सिंह राजपूत केस में लुकाछुपी की खेल रहीं कथित गर्लफ्रेंड व अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती प्राइम सस्पेक्ट के रूप में उभर कर सामने आ चुकी है। सुशांत की मौत के बाद सबसे अधिक किसे फायदा हुआ है, तो सिर्फ उन्हें हुआ है। एक फ्लॉफ अभिनेत्री में शुमार हो चुकी रिया चक्रवर्ती का बॉलीवुड का कैरियर अब तक कुछ खास नहीं रहा है, लेकिन रिया चक्रवर्ती का खुद का मुंबई के पॉश इलाके में दो फ्लैट होना आश्यर्चचकित करता है।

    अभी तक औसत दर्जे का रहा है रिया चक्रवर्ती का फिल्मी सफर

    अभी तक औसत दर्जे का रहा है रिया चक्रवर्ती का फिल्मी सफर

    रिया चक्रवर्ती का फिल्मी सफर अभी तक बिल्कुल औसत दर्ज का रहा है। तेलुगु फिल्म तुनीगा-तुनीगा से बड़े पर्दे पर आने से पहले रिया टेलीविजन पर छोटे मोटे शोज किया करती थी। उनकी पहली हिंदी फिल्म मेरे डैड की मारूती बुरी तरह फ्लॉफ रही थी। फिर आई उनकी दूसरी हिंदी फिल्म सोनाली केबल, बैंक चोर, दोबारा बुरी तरह फ्लॉफ रहीं। सुशांत सिंह राजपूत के लीड रोल में बनने वाली फिल्म हॉफ गर्लफ्रेंड में रिया ने बेहद छोटा सा रोल किया था।

    एक बिहारी पृष्ठभूमि वाले फिल्म हॉफ गर्लफ्रेंड में छोटा सा रोल मिला था

    एक बिहारी पृष्ठभूमि वाले फिल्म हॉफ गर्लफ्रेंड में छोटा सा रोल मिला था

    मोहित सूरी निर्देशित और मशहूर नोबलिस्ट चेतन भगत के नोबल हॉफ गर्लफ्रेंड पर बेस्ड यह फिल्म बाद में सुशांत सिंह राजपूत से छीनकर अर्जुन कपूर को दे दी गईं। यह फिल्म भी नहीं चली और शायद इसीलिए फ्लॉफ रहीं, क्योंकि फिल्म का हीरो एक बिहारी पृष्ठभूमि वाला था, जिसमें सुशांत सिंह सिंह को इसीलिए कास्ट किया गया था, लेकिन सुशांत यहां भी नेपोटिज्म के शिकार हुए। फिल्म में अर्जुन कपूर बिल्कुल अनफिट थे और रिया का रोल बहुत छोटा था।

    पिता केके सिंह की प्राथमिकी में रिया की भूमिका पर उठाए सवाल

    पिता केके सिंह की प्राथमिकी में रिया की भूमिका पर उठाए सवाल

    शायद यही कारण है कि सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह की प्राथमिकी में उठाए गए सवालों और आरोपों को आधार बनाकर गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती से अपनी जांच की शुरूआत की है और ईडी ऑफिस उनके द्वारा खरीदे गए दो मंहगे दो फ्लैट्स के बार में पूछताछ कर रही है। सवाल यही है कि कहां से रिया के पास इतने पैसे आए कि उन्होंने दो महंगे फ्लैट खऱीदने में खर्च किए थे।

    इन्हीं सवालों में रिया चक्रवर्ती के गुनाहों की कहानी छिपी हुई है

    इन्हीं सवालों में रिया चक्रवर्ती के गुनाहों की कहानी छिपी हुई है

    संभवतः इन्हीं सवालों में रिया चक्रवर्ती के गुनाहों की कहानी छिपी हुई है, क्योंकि सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने सीधे-सीधे रिया चक्रवर्ती पर सुशांत सिंह के पैसों की हेराफेरी का आरोप लगाया है और बिहार में दर्ज प्राथमिकी में रिया को आरोपित किया है कि वह सुशांत के एकाउंट का हैंडल करती थीं और सुशांत के एकाउंट से 15 करोड़ से अधिक रुपए अपने या किसी और के एकाउंट ट्रांसफर किए हैं।

    रिया चक्रवर्ती पर आरोपों की एक फेहरिस्त बहुत लंबी हैं

    रिया चक्रवर्ती पर आरोपों की एक फेहरिस्त बहुत लंबी हैं

    खैर, रिया चक्रवर्ती पर आरोपों की फेहरिस्त बहुत लंबी हैं, जिसकी बिहार पुलिस जांच करना चाहती थी, लेकिन मुंबई पुलिस ने बिहार से मुंबई पहुंची पटना पुलिस को जांच के लिए फ्री हैंड नहीं दिया और जब बिहार पुलिस ने सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत की गुत्थी के बारें में पड़ताल करने के लिए आगे बढ़ रही थी, तो मुंबई पुलिस ने जबरन जांच करने पहुंचे बिहार पुलिस एक अफसर को 14 दिनों के लिए क्वॉरंटीन कर दिया।

    सुशांत सिंह राजपूत केस में मुंबई पुलिस का रवैया शुरू से ही संदिग्ध रहा

    सुशांत सिंह राजपूत केस में मुंबई पुलिस का रवैया शुरू से ही संदिग्ध रहा

    सुशांत सिंह राजपूत केस में मुंबई पुलिस का रवैया शुरू से ही संदिग्ध रहा, लेकिन जब मुंबई पुलिस ने बिहार पुलिस के अफसर को क्वॉरंटीन कर दिया तो मुंबई पुलिस द्वारा बिहार पुलिस के अफसर के खिलाफ की गई कार्रवाई से दो राज्य की सरकारें एक दूसरे भी भिड़ गई है। यही वजह समय था जब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पिता की टेस्टीमोनी को आधार बनाकर सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी।

    CBI जांच की मांग करने वाली रिया सीबीआई के विरोध में खड़ी हो गईं

    CBI जांच की मांग करने वाली रिया सीबीआई के विरोध में खड़ी हो गईं

    महत्वपूर्ण बात यह है कि सुशांत सिंह राजपूत की कथित गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती, जो कल तक बिहार पुलिस के सवालों से बचने के लिए छिपी फिर रहीं थी, सीबीआई जांच की सिफारिश होते ही वह बाहर आ गईं। ये वही रिया चक्रवर्ती हैं, जिन्होंने बेहद इमोशनल वीडियो में गृह मंत्री अमित शाह को टैग करके जारी एक वीडियो में मामले की सीबीआई जांच की मांग की थी, लेकिन जब सीबीआई जांच की सिफारिश हो गई तो रिया सीबीआई जांच के विरोध में खड़ी हो गईं।

    इसलिए सीबीआई को मामले में दखल नहीं देना चाहिए: रिया चक्रवर्ती

    इसलिए सीबीआई को मामले में दखल नहीं देना चाहिए: रिया चक्रवर्ती

    सीबीआई जांच का विरोध करते हुए रिया चक्रवर्ती ने दलील देती हैं, चूंकि अभी मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है, इसलिए सीबीआई को मामले में दखल नहीं देना चाहिए। गुरूवार को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने गिरफ्तारी से बचने के लिए रिया चक्रवर्ती की याचिका को कोई भाव नहीं देते हुए उसे खारिज कर दिया। रिया अब भी नहीं चूंकी और उन्होंने एक बार गिरफ्तारी से बचने के लिए सीबीआई से गुजारिश कर डाली।

    रिया चक्रवर्ती से पूछताछ के लिए लगातार भटकती रही थी बिहार पुलिस

    रिया चक्रवर्ती से पूछताछ के लिए लगातार भटकती रही थी बिहार पुलिस

    रिया चक्रवर्ती की इन्हीं हरकतों की वजह बिहार पुलिस सुशांत सिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती से पूछताछ के लिए लगातार भटकती रही थी। कही न कहीं रिया को शक था कि अब तक हुए घटनाक्रम से पटना पुलिस उसे हिरासत में लेकर पूछताछ कर सकती है इसलिए रिया और उसका भाई पटना पुलिस के सामने नहीं आ रही हैं। रिया अच्छी तरह से जानती थीं कि प्राथमिकी में दर्ज धाराओं में उनकी गिरफ्तारी बगैर वारंट के भी संभव है।

    पिता केके सिंह ने पटना में दर्ज प्राथमिकी में रिया पर लगाया था आरोप

    पिता केके सिंह ने पटना में दर्ज प्राथमिकी में रिया पर लगाया था आरोप

    सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने पटना में दर्ज प्राथमिकी में रिया पर आरोप लगाया था कि उसने सुशांत से पैसे लिए और उन्हें सुसाइड के लिए उकसाया और पटना पुलिस ने रिया चक्रवर्ती पर आईपीसी की धारा 341, 342, 380, 406, 420, 306 जैसे गंभीर धाराओं के तहत रिया पर केस दर्ज किया है। सीबीआई अब बिहार पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी के आधार पर केस की जांच कर रही है, जिससे रिया चक्रवर्ती की मुश्किलें बढ़नी तय है और उनकी कभी भी गिरफ्तारी हो सकती है।

    सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने रिया को अंतरिम संरक्षण से वंचित कर दिया

    सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने रिया को अंतरिम संरक्षण से वंचित कर दिया

    फिलहाल, सर्वोच्च न्यायालय का फैसला आने के बाद रिया चक्रवर्ती अंतरिम संरक्षण से वंचित कर दी गई है। सीबीआई अब मामले की जांच में जुट गई है और एजेंसी ने पहली कार्रवाई करते हुए सुशांत सिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है। इनमें रिया के अलावा पांच और लोग शामिल हैं, जिनके नाम क्रमशः इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा और श्रुति मोदी है।

    जब एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती ने कहा कि CBI को मामले से रहना चाहिए

    जब एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती ने कहा कि CBI को मामले से रहना चाहिए

    हालांकि मामले को उलझाने के लिए रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानेशिंद ने एक बयान जारी कर सीबीआई की कार्रवाई को गैरकानूनी बता दिया। उनका कहना है कि सीबीआई ने उक्त कार्रवाई को लंबित रखते हुए अवैधानिक रूप से केस पंजीकृत किया है, जो बिहार पुलिस के हाथ में रहने के दौरान आगे बढ़ रहा था। कुछ ऐसा ही रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में लंबित सुनवाई से पहले कहा था। उन्होंने कहा कि CBI को मामले से तब तक दूर रहना चाहिए जब तकसुप्रीम कोर्ट फैसला नहीं दे देता है। हालांकि अब सुप्रीम कोर्ट का फैसला अब आ चुका है।

    गुजरात कैडर के IPS गगनदीप गंभीर व मनोज शशिधर करेंगे निगरानी

    गुजरात कैडर के IPS गगनदीप गंभीर व मनोज शशिधर करेंगे निगरानी

    सीबीआई ने भी मामले की जांच के लिए टीम गठित कर ली है। सुशांत मामले की जांच भगौड़े विजय माल्या और अगस्त्या वेस्टलैंड की जांच करने वाली टीम को सौंपी गई है। सीबीआई की टीम में बिहार के अधिकारियों को भी शामिल किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस अधीक्षक नूपुर प्रसाद के नेतृत्व में विशेष जांच दल जांच करेगा, जिसकी निगरानी गुजरात कैडर के IPS अफसर डीआईजी गगनदीप गंभीर व संयुक्त निदेशक मनोज शशिधर करेंगे।

    सुशांत केस में कई लोगों के खिलाफ सबूतों की मोटी फाइल तैयार है

    सुशांत केस में कई लोगों के खिलाफ सबूतों की मोटी फाइल तैयार है

    बिहार पुलिस ने रिया चक्रवर्ती के साथ कई लोगों के खिलाफ सबूतों की मोटी फाइल तैयार की है, जिसके आधार पर वो जल्द ही रिया की गिरफ्तारी के लिए कोर्ट में वारंट की अर्जी दे सकती है। जानकारी के मुताबिक पटना पुलिस ने सुशांत के तीनों बैंकों के अकाउंट, यूपीआइ पेमेंट का स्टेटमेंट और चार्टर्ड अकाउंटेंट के लेजर बैलेंस की कॉपी को भी सबूत के तौर पर अपने पास रख लिया है।

    बिहार पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 48 पन्ने का लोखा-जोखा तैयार किया

    बिहार पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 48 पन्ने का लोखा-जोखा तैयार किया

    जानकारी के मुताबिक पता चला है कि पुलिस ने 48 पन्ने का एक लोखा-जोखा तैयार किया है, जिसमें रिया चक्रवर्ती और सुशांत सिंह राजपूत के बीच बैंक अकाउंट से हुई लेन-देन का प्रमाण छिपा हुआ है। इसके अलावा पुलिस ने 13 पन्नों का सुशांत और उनकी पूर्व प्रेमिका अभिनेत्री अंकिता लोखंडे के बीच हुई बातचीत के स्क्रीनशॉट भी अपने पास रख लिए है।

    सुशांत सिंह राजपूत की पर्सनल डायरी से गायब हैं तीन पन्ने

    सुशांत सिंह राजपूत की पर्सनल डायरी से गायब हैं तीन पन्ने

    सुशांत सिंह के सुसाइड मामले में एक अहम खुलासे के तहत सुशांत सिंह राजपूत की एक पर्सनल डायरी सामने आई जिसमें वे अपने निजी अनुभव लिखा करता थे। लेकिन सुशांत सिंह की डायरी के कुछ पन्ने गायब हैं। एक चैनल ने दावा किया है कि उसके पास सुशांत सिंह की डायरी हाथ लगी है जिसके आखिरी के पन्ने फटे हुए हैं। टाइम्स नाऊ ने सुशांत सिंह के एक करीबी के हवाले से लिखा है कि डायरी में एक नाम का जिक्र है जिसके बाद के पन्ने गायब कर दिए गए हैं। हालांकि डायरी में किस शख्स का नाम है, इसे चैनल ने उजागर नहीं किया है।

    पूर्व गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे ने बताया था कि सुशांत पर्सनल डायरी लिखते थे

    पूर्व गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे ने बताया था कि सुशांत पर्सनल डायरी लिखते थे

    डायरी का जिक्र सुशांत सिंह की एक्स गर्लफ्रेंड रहीं अंकिता लोखंडे ने भी किया था। अंकिता ने बताया था कि सुशांत सिंह लगातार पर्सनल डायरी लिखता था। उसे जो भी लगता था वो अपनी डायरी में लिखता था। अंकिता ने तब बताया था कि सुशांत पांच साल आगे की प्लानिंग भी इस डायरी में लिखता था। मैं जब उसके साथ थी और वो डायरी देखी तो जो चीज़ें उसने पांच साल पहले लिखी थी वो सारी चीज़ें वो कर चुका था।

    डायरी से पता चल सकता था कि सुशांत के दिमाग में क्या चल रहा था?

    डायरी से पता चल सकता था कि सुशांत के दिमाग में क्या चल रहा था?

    उधर, सुशांत सिंह राजपूत के फैमिली वकील विकास सिंह ने बातचीत में कहा कि इस डायरी में कई अहम जानकारियां हो सकती है। चाहे ये सुसाइड है या मर्डर, लेकिन इस डायरी से पता चल सकता था कि सुशांत के दिमाग में क्या चल रहा था। उन्होंने आगे कहा कि सुशांत ने क्यों सुसाइड किया और इसके अलावा उसे कौन धमका रहा था। डायरी के पन्ने फटे हुए थे। ये काफी हैरानी की बात है। आखिर किसने ये पन्ने फाड़े हैं। विकास सिंह की मानें तो सुशांत की बहन ने भी ये फटे हुए पन्ने देखे हैं।

    हलफनाम में कहा गया कि सुशांत को दवाओं का ओवरडोज देती थीं रिया?

    हलफनाम में कहा गया कि सुशांत को दवाओं का ओवरडोज देती थीं रिया?

    अभिनेत्री की बढ़ी मुश्किलें सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच को लेकर बिहार पुलिस ने हलफनामा दायर किया है। जिसमें बताया गया है सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती उन्हें अपने घर ले गई थीं और उन्हें दवाओं का ओवरडोज दे रही थीं। वहीं बिहार सरकार से सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया है, जिसमें रिया और उनके परिवार पर आरोप लगाया गया है कि यह सभी सुशांत सिंह राजपूत की जिंदगी में पैसों के लालच से आए थे।

    कभी भी गिरफ्तार की जा सकती है एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती

    कभी भी गिरफ्तार की जा सकती है एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती

    रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम राहत की मांग की थी। अब जब उनकी याचिका खारिज हो चुकी है, तो ऐसे में अब रिया चक्रवर्ती पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। रिया चक्रवर्ती ने केस को मुंबई ट्रांसफर कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी। इस पूरे प्रकरण में एडवोकेट ईशकरण सिंह भंडारी की मानें तो अगर रिया चक्रवर्ती की अंतरिम राहत की अर्जी मंजूर हो जाती है तो अर्जी लगाने वाले शख्स यानी रिया को गिरफ्तार नहीं किया जा सकता था।

    कथित मुख्य आरोपी रिया से पूछताछ के लिए एक प्रश्नावली तैयार की गई है

    कथित मुख्य आरोपी रिया से पूछताछ के लिए एक प्रश्नावली तैयार की गई है

    कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में ईडी सूत्रों के मुताबिक कहा जा रहा है कि अब तक की जांच के दौरान जो तथ्य सामने आए हैं, उनके आधार पर ईडी ने इस मामले में कथित मुख्य आरोपी रिया से पूछताछ के लिए एक प्रश्नावली तैयार की है, जिसमें 3 चरणों में सवाल पूछे जाएंगे। इन सवालों में सबसे अहम है कि क्या सुशांत सिंह ने अपने बैंक खाते को ऑपरेट करने के अधिकार रिया को दिए थे? क्या रिया ने सुशांत सिंह से कोई विल बनवाई थी? हाल ही में इस बारे में खुलासा हुआ है कि सुशांत केस में आरोपी रिया चक्रवर्ती ने में खार में दो फ्लैट खरीदे थे....तो ईडी इन फ्लैट्स के बारे में भी पूछताछ कर सकती है।

    सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने कहा सच्चाई सबके सामने आनी चाहिए

    सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने कहा सच्चाई सबके सामने आनी चाहिए

    सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि गिफ्टेड और टैलेंटेड आर्टिस्ट चला गया। असामान्य हालात में उनकी मौत हुई है ऐसे में सच्चाई सबके सामने आनी चाहिए। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने बीएमसी द्वारा पटना सिटी एसपी विनय तिवारी को जबरन क्वारैंटाइन किए जाने पर भी कड़ी आपत्ति जताई है। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि बिहार पुलिस के अफसर को क्वारैंटाइन करने से देश में अच्छा मैसेज नहीं गया है, जबकि मुंबई पुलिस की अच्छी प्रोफेशनल रेप्युटेशन है।

    रिया और उसका परिवार का मकसद सुशांत का पैसा हड़पना था

    रिया और उसका परिवार का मकसद सुशांत का पैसा हड़पना था

    बिहार सरकार ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में अपना हलफनामा दाखिल किया है। जिसमें रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। बिहार सरकार ने कहा है कि रिया चक्रवर्ती और उसका परिवार सुशांत के संपर्क में केवल उनका पैसा हड़पने के लिए आए थे। बिहार सरकार ने हलफनामे में सुशांत के पिता द्वारा की गई शिकायत का हवाला देते हुए रिया चक्रवर्ती की याचिका का विरोध किया है।

    सुशांत के लिए मानसिक बीमारी जैसा झूठा शब्द फैलाया: बिहार पुलिस

    सुशांत के लिए मानसिक बीमारी जैसा झूठा शब्द फैलाया: बिहार पुलिस

    बिहार सरकार द्वारा दायर हलफनामे में यह भी कहा गया है कि रिया ने सुशांत को दवाओं का ओवरडोज दिया था और फिर 'मानसिक बीमारी' जैसा झूठा शब्द भी फैलाया। रिया चक्रवर्ती ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की मेडिकल रिपोर्ट मीडिया को दे देगी और उन्हें पागल साबित कर देगी, जिसके बाद उन्हें (सुशांत) कोई काम नहीं मिल पाएगा।

    अपनी इच्छा के अनुसार सुशांत के अकाउंट का इस्तेमाल कर रही थी

    अपनी इच्छा के अनुसार सुशांत के अकाउंट का इस्तेमाल कर रही थी

    बिहार सरकार ने हलफनामे में कहा है कि रिया सुशांत को देती थी धमकी देती थी। रिया चकवर्ती ने सुशांत के बैंक अकाउंट की डिटेल्स भी ले ली थीं और अपनी इच्छा के अनुसार उनके अकाउंट का इस्तेमाल कर रही थी। दिवंगत अभिनेता फिल्म इंडस्ट्री को छोड़कर कुर्ग में खेती करना चाहते थे, लेकिन याचिकाकर्ता ने उन्हें धमकी देना शुरू कर दिया।

    बैंक अकाउंट से रिया और उनके भाई के जरिेए पैसों का लेनदेन हुआः ED

    बैंक अकाउंट से रिया और उनके भाई के जरिेए पैसों का लेनदेन हुआः ED

    पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय के कार्यालय में पहुंच रिया चक्रवर्ती से मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में पूछताछ की है। रिया चक्रवर्ती पर आरोप है कि उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के अकाउंट से 15 करोड़ रुपए निकाले। मुंबई पुलिस की जांच के दौरान ही ईडी ने जांच शुरू कर दी थी। ईडी को शक है कि सुशांत सिंह राजपूत के बैंक अकाउंट से रिया और उनके भाई के जरिेए पैसों का लेनदेन हुआ है। रिया के मुंबई के खार स्थिति फ्लैट को भी ईडी शक की निगाह से देख रहा है।

    मुंबई के खार (शिवालिक बिल्डर्स) में 85 लाख में खरीदा गया एक फ्लैट

    मुंबई के खार (शिवालिक बिल्डर्स) में 85 लाख में खरीदा गया एक फ्लैट

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रिया की एक प्रॉपर्टी मुंबई के खार (शिवालिक बिल्डर्स) में है जिसे 85 लाख में खरीदा गया था। इस प्रॉपर्टी के लिए 25 लाख की डाउन पेमेंट की गई थी। वहीं, 60 लाख का हाउसिंग लोन लिया गया था। 550 स्क्वैयर फीट का फ्लैट रिया के नाम पर बुक किया गया था। दूसरी प्रॉपर्टी रिया के पिता के नाम पर है जो 2012 में 60 लाख रुपये में खरीदी गई थी। 2016 में इस प्रॉपर्टी का पोजेशन पैराडाइज ग्रुप बिल्डर ने दिया था। ये प्रॉपर्टी 1130 स्क्वैयर फीट की है जो कि रायगढ़ जिले के Ulwe में स्थित है।

    English summary
    54 days have passed for the death of Bollywood actor Sushant Singh Rajput, but the tip of the death has not yet been caught, but on August 5, the Center recommended the CBI probe into the case by the Nitish government of Bihar. The possibility of early justice in the case has increased since the suspects' movement has increased since the CBI investigation recommended the case.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X