• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ऋषिकेश: लॉकडाउन तोड़कर घूम रहे थे विदेशी, 500 बार 'I am sorry'लिखवाया

|

नई दिल्ली- लॉकडाउन में देश के कई हिस्सों में विदेशी टूरिस्ट भी फंसे हुए हैं। इस समय ऋषिकेश में भी करीब 500 विदेशी नागरिक मौजूद हैं। हालांकि, वहां ज्यादातर विदेशी लंबा वक्त गुजारने की तैयारी करके ही आते हैं। लेकिन, देखा जा रहा है कि वहां लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने में ये हिप्पी टाइप विदेशी खूब शामिल हो रहे हैं। ऐसे में इन्हें नियमों का पालने करने के लिए पुलिस ने ऐसा सबक सिखाया है, जिसके बाद ये शायद ही फिर कभी कानून की मर्यादा का उल्लंघन करने के बारे में सोचें। पुलिस ने 10 विदेशियों को घूमते हुए पकड़ा और उन सबसे 500-500 बार लिखवाया 'मुझे माफ कर दें।'

    Rishikesh: Lockdown उल्लंघन करने पर पुलिस ने टूरिस्ट से 500 बार लिखवाया 'Sorry'| वनइंडिया हिंदी
    लॉकडाउन में गंगा किनारे घूमते पकड़े गए

    लॉकडाउन में गंगा किनारे घूमते पकड़े गए

    ऋषिकेश में लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाते 10 विदेशी उत्तरखंड पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पुलिस ने इन्हें गंगा किनारे आवारा घूमते हुए पकड़ा तो ये कहने लगे कि वो लॉकडाउन तोड़ नहीं रहे थे, बल्कि लॉकडाउन में मिली छूट में घूमने निकले हैं। पुलिस अधिकारी विनोद कुमार ने बताया, 'जब मैंने उन्हें आवारा घूमते हुए पकड़ा तो वे कहने लगे कि वो गाइडलाइंस नहीं तोड़ रहे क्योंकि वो तो लॉकडाउन में मिली छूट के दौरान बाहर निकले हैं। तब मैंने उनसे कहा कि छूट तो सिर्फ जरूरी सामान खरीदने के लिए दी गई है, इधर-उधर घूमने के लिए नहीं। '

    'मैंने लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं किया है....'

    'मैंने लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं किया है....'

    फिर पुलिस ने पकड़े गए सभी 10 विदेशियों से कहा कि उन्हें लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने के लिए 500 बार ये लिखना पड़ेगा कि 'मैंने लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं किया है, आई एम सॉरी' तभी छोड़ा जाएगा। फिर क्या था, उन सारे विदेशियों ने 500-500 बार सजा के तौर पर वह लिखकर दिया तभी उन्हें इस हिदायत के साथ छोड़ा गया कि जाएं और घरों के अंदर ही रहें। जानकारी के मुताबिक इस वक्त ऋषिकेश के तपोवन क्षेत्र में करीब 500 विदेशी नागरिक ठहरे हुए हैं, जो अक्सर लॉकडाउन के नियमों को तोड़ते हुए दिख जाते हैं। इसी के मद्देनजर पुलिस ने उन्हें दी गई सजा के जरिए उन्हें यह संदेश देने की कोशिश की है कि वो लॉकडाउन को हल्के में लेने की आदत छोड़ें और हालात की गंभीरता को समझें।

    लॉकडाउन बढ़ाने पर मंगलवार को घोषणा संभव

    लॉकडाउन बढ़ाने पर मंगलवार को घोषणा संभव

    रविवार को उत्तराखंड के स्वास्थ्य विभाग ने बताया था कि पिछले चार दिनों में प्रदेश में कोविड-19 का एक भी पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है। तब तक राज्य में कुल मामले 35 थे। सात लोगों को अस्पतालों से इलाज के बाद छोड़ा जा चुका है। जबकि देशभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या सोमवार दोपहर बाद तक बढ़कर 9,152 पहुंच चुकी है और 308 लोगों की मौत हो चुकी है। कुल मामलों में 857 लोग ठीक होकर घर भी लौट चुके हैं। इस बीच 21 दिन का राष्ट्रीय लॉकडाउन मंगलवार को खत्म हो रहा है। इसे आगे और बढ़ाया जाएगा, किस रूप में बढ़ाया जाएगा, क्या कुछ रियातें मिलेंगी या फिर यह 14 तारीख को ही खत्म हो जाएगा इसको लेकर मंगलवार सुबह 10 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ घोषणा कर सकते हैं। वैसे संभावना है कि लॉकडाउन में कुछ रियातें तो मिल सकती हैं, लेकिन इसका 30 अप्रैल तक बढ़ना लगभग तय है। क्योंकि, ज्यादातर राज्यों की ओर से यह मांग की गई है और चार राज्यों ने इसे अपने प्रदेशों में महीने के अंत तक बढ़ाने का ऐलान भी कर दिया है।

    इसे भी पढ़ें- पीएम मोदी का कल 10 बजे संबोधन, लॉकडाउन बढ़ाने का कर सकते हैं ऐलान

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Rishikesh-Foreigners were breaking the lockdown police made them write to sorry 500 times
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X