• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भजनपुरा हत्याकांड में आरोपी ने किए बड़े खुलासे, पूरे परिवार को एक-एक कर इस तरह मारा

|
Google Oneindia News

दिल्ली। राजधानी दिल्ली के भजनपुरा इलाके से हैरान कर देने वाली वारदात सामने आई थी। पुलिस ने इस हत्याकांड की गुत्थी को 24 घंटे में ही सुलझा लिया है। पूरे परिवार की हत्या के पीछे इनके रिश्तेदार का ही हाथ था। जानकारी सामने आई है कि मृतक शंभूनाथ के बुआ के बेटे प्रभुनाथ ने ही पूरे परिवार को लोहे की रॉड से मौत के घाट उतारा। उसने घर के तीन बच्चों समेत पांच लोगों को महज 4 घंटे के भीतर मार डाला।

30 हजार रुपये नहीं लौटा पा रहा था

30 हजार रुपये नहीं लौटा पा रहा था

आरोपी शख्स ने खुलासा किया है कि वह उधार लिए गए 30 हजार रुपये नहीं लौटा पा रहा था, जिसके बाद उसने पूरे परिवार की हत्या कर दी। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल की गई लोहे की रॉड भी बरामद कर ली है। पुलिस को घटना की सूचना 12 फरवरी को दोपहर के समय मिली थी। उन्हें बताया गया था कि सी ब्लॉक में स्थित इस घर से बदबू आ रही है। जब पुलिस ने घर का दरवाजा खोलकर देखा तो वह हैरान रह गई। अंदर पांच शव मिले थे।

 परिवार मूल रूप से बिहार से थे

परिवार मूल रूप से बिहार से थे

शवों की पहचान शंभूनाथ, उनकी पत्नी सुनीता और दो बेटे सचिन और शिवम और एक बेटी कोमल के रूप में हुई है। ये परिवार मूल रूप से बिहार के सुपौल जिले के मलहनी गांव का रहने वाला था। पुलिस ने जांच के लिए कई टीमों को लगाया था। बाद में इनके फोन डीटेल और सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की गई। जिसमें प्रभुनाथ का नाम सामने आया। जो मृतकों के घर से थोड़ी दूरी पर ही रहता है। पुख्ता सबूत मिलने के बाद पुलिस ने उसे गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया।

इन सभी को प्रभुनाथ ने अकेले मारा

इन सभी को प्रभुनाथ ने अकेले मारा

पूर्वी जिले के जिला पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने बताया कि पांच लोगों की हत्या देखकर लग रहा था कि कई लोगों ने वारदात को अंजाम दिया होगा। लेकिन ऐसा नहीं था, इन सभी को प्रभुनाथ ने अकेले मारा। सभी हत्या एक-एक कर की गई। ये शव दस दिनों से कमरे में ऐसे ही पड़े हुए थे। पुलिस फिलहाल आरोपी से पूछताछ कर रही है।

सबसे पहले महिला को मारा

सबसे पहले महिला को मारा

पूछताछ में आरोपी प्रभुनाथ ने बताया कि तीन फरवरी को उसने शंभूनाथ को पैसे के लिए लक्ष्मी नगर बुलाया। जिसके बाद शंभूनाथ तो वहां पहुंच गया। लेकिन प्रभुनाथ यहां पहुंचने के बजाय खुद शंभूनाथ के घर चला गया। दोपहर करीब तीन बजे के करीब शंभूनाथ की पत्नी सुनिता घर पर अकेली थी। सुनिता ने प्रभुनाथ से उधार दिए पैसे मांगे तो प्रभुनाथ ने मना कर दिया। जिसके बाद दोनों के बीच कहासुनी हो गई। फिर आरोपी ने महिला को गला दबाकर मार डाला। फिर वो यहीं नहीं रुका, इसके बाद उसने घर पर पड़ी लोहे की रॉड देखी और लगातार सुनिता के सिर पर हमला करता गया।

घर के बाहर ताला लगाकर भाग गया था आरोपी

घर के बाहर ताला लगाकर भाग गया था आरोपी

सुनिता की हत्या करने के बाद जब उसकी बेटी कोमल ट्यूशन पढ़कर आई तो प्रभुनाथ ने उसकी भी लोहे की रोड से मारकर हत्या कर दी। फिर शंभूनाथ का बड़ा बेटम शिवम जैसे ही ट्यूशन से घर पहुंचा, उसे भी लोहे की रॉड से मार दिया। इसके बाद वो घर का दरवाजा बंद करके चला गया। फिर उसने शंभूनाथ को गांवणी गांव बुलाया और खूब शराब पिलाई। फिर वो शंभूनाथ को लेकर उसके घर आया और गला दबाने के बाद लोहे की रॉड से मारकर हत्या कर दी। सबकी हत्या करने के बाद वो घर के बाहर ताला लगाकर भाग गया।

पुलिस ने मामले की जांच के दौरान जब शंभूनाथ का फोन चेक किया तो उन्हें आखिरी कॉल प्रभुनाथ का मिला। फिर पुलिस ने घर के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो उन्हें उसमें प्रभुनाथ दिखाई दिया। जो घर के दरवाजे पर ताला लगा रहा था। इसके बाद पुलिस को उसपर शक हुआ और उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की। जिसके बाद उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया।

शाहीन बाग से पीएम मोदी को भेजा गया Valentine का न्योता, पैगाम में लिखा- तुम कब.....शाहीन बाग से पीएम मोदी को भेजा गया Valentine का न्योता, पैगाम में लिखा- तुम कब.....

English summary
revelation of accused of family murder in bhajanpura delhi during interrogation, know what he said.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X