10 साल की बच्ची से रेप के मामले में मामा पर दोषी साबित

Subscribe to Oneindia Hindi

चंडीगढ़। हरियाणा और पंजाब की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में 10 साल की बच्ची से दुष्कर्म करने के मामले में उसके मामा लोगों को दोषी करार दिया है। बता दें कि मामले की सुनवाई के 61वें दिन अदालत ने फैसला सुना दिया। दोनों आरोपिों के वकीलों ने सोमवार को अदालत में बचाव के लिए तमाम दलीलें दी। ये इस मामले में अंतिम बहस थी। कोर्ट ने तय किया था कि मामले में फैसला 31 अक्टूबर को सुनाया जाएा। इस मामले में पहली गिरफ्तारी पहले पीड़िता के मामा कुलबहादुर को गिरफ्तार किया गया थ लेकिन उसके नवजात से डीएनए मैच नहीं हुआ। इसके बाद पुलिस ने दोबारा काउंसलिंग कर पूछताछ की तो बच्ची ने दूसरे मामा शंकर का नाम लिया।

10 साल की बच्ची से रेप के मामले में मामा पर दोषी साबित

पुलिस ने 19 सितंबर के दिन शंकर को गिरफ्तार किया। शंकर से जब नवजात का DNA मैच कराया गया तो वो मिल गया। शंकर ने वकील ने कहा कि 8 लोगों के ब्लड सैंपल लिए गए ते लेकिन मिलावट हो जाने के कारण रिपोर्ट गड़बड़ हो गई। वकील ने कहा कि बच्ची के बयान के अनुसार दिसंबर से अप्रैल तक उसके साथ शंकर ने रेप किया इसके बाद कुल बहादुर ने। ऐसी परिस्थिति में बच्ची को गर्भपात का चांस हो सकता था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rape case in haryana punjab chandigarh,uncles guilty proved
Please Wait while comments are loading...