• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

निलंबित सांसदों का धरना खत्म, मानसून सत्र का विपक्ष करेगा बहिष्कार, जानें हंगामे पर क्या बोले गुलाम नबी

|

नई दिल्ली: राज्‍यसभा से निलंबित आठों सांसदों के बाद मंगलवार (22 सितंबर) को भी हंगामा जारी है। इसी बीच सांसदों ने धरना खत्म कर दिया है। राज्यसभा से निलंबित 8 सांसदों ने रातभर गांधी प्रतिमा के सामने धरना दिया था। इसी बीच कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि जब तक हमारे सांसदों के संस्पेंशन को वापिस नहीं लिया जाता और किसान के बिलों से संबंधित हमारी मांगों को नहीं माना जाता विपक्ष मानसून सत्र से बायकॉट करती है। उन्होंने कहा कि MSP को लेकर हमने तीन कंडीशनें रखी हैं जब तक वो पूरी नहीं हो जाती ये बायकॉट चलेगा।

    Suspension of 8 MPs : निलंबित सांसदों का धरना खत्म, विपक्ष ने किया सत्र का बहिष्कार | वनइंडिया हिंदी
    सदन के हंगामे पर क्या बोले गुलाम नबी आजाद

    सदन के हंगामे पर क्या बोले गुलाम नबी आजाद

    गुलाम नबी आजाद ने कहा, जब ये बिल ला रहे थे तो एमएसपी (MSP) उस वक्त अनाउंस करनी चाहिए थी पर नहीं की। खैर MSP बाद में अनाउंस किया गया, जिसका हम स्वागत करते हैं। MSP को लेकर हमने तीन कंडीशनें रखी हैं जब तक वो पूरी नहीं हो जाती ये बायकॉट जारी रहेगा।

    राज्यसभा सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा है, पिछले दो दिनों में जो सदन में हुआ मुझे नहीं लगता कि उससे कोई भी खुश है। करोड़ों लोगों को जो रिप्रेजेंट करते हैं उन्हें करोड़ों लोग देखते हैं। जो लक्ष्य है यहां आने का वो तो पूरा होना चाहिए।

    वापस लिया जाए किसान बिल: कांग्रेस सांसद सैयद नासिर हुसैन

    वापस लिया जाए किसान बिल: कांग्रेस सांसद सैयद नासिर हुसैन

    कांग्रेस के राज्यसभा सांसद सैयद नासिर हुसैन ने कहा है, हम सिर्फ सांसदों का निलंबन केवल निरस्त करवाना नहीं चाहते हैं बल्कि हमारी ये भी मांग है कि किसान वापस ले लिए जाए और फिर से उचित मतदान कराया जाए। लेकिन उस तरह का कुछ भी नहीं होने वाला था क्योंकि सभापति किसी की बात सुनने के लिए तैयार नहीं थे।

    कांग्रेस ने मंगलवार (22 सितंबर) को लोकसभा का सत्र शुरू होने से पहले अपने लोकसभा सांसदों की बैठक बुलाई। वहीं, राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को 20 सितंबर को कृषि विधेयकों के पारित होने के दौरान विपक्षी सांसदों द्वारा सदन में उनके साथ किए गए अनियंत्रित व्यवहार पर एक पत्र लिखा है।

    किन आठ सांसदों को किया गया था सस्पेंड

    किन आठ सांसदों को किया गया था सस्पेंड

    कांग्रेस के राजू साटव, सैयद नासिर हुसैन और रिपुण बोरा, तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ'ब्रायन और डोला सेन, आम आदमी पार्टी के संजय सिंह, सीपीआई-एम के केके रागेश और एलमाराम करीम को एक हफ्ते के लिए राज्यसभा से सस्पेंड किया गया है। राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने रविवार (20 सितंबर) को सदन में हंगामा करने और उपसभापति हरिवंश से बदसलूकी के लिए सस्‍पेंड किया था।

    ये भी पढ़ें- सभापति नायडू ने हंगामे पर जताई नाराजगी, कहा- 'मैं भी खुश नहीं हूं, सांसदों को सस्पेंड...'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Rajya Sabha mp Ghulam Nabi Azad says We'll boycott Parliament session until Govt accepts our 3 demands-govt to bring another bill under which no private player can purchase below MSP, MSP to be fixed under formula recommended by Swaminathan Commission & Govt agencies like FCI shouldn't buy crops below MSP.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X