• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

10 सितंबर को IAF के बेड़े में राफेल जेट को शामिल करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ

|

नई दिल्‍ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 10 सितंबर को हरियाणा के अंबाला स्थित इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) के स्‍टेशन पर औपचारिक तौर पर राफेल जेट को शामिल करेंगे। इस मौके पर फ्रांस के रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले को भी आमंत्रित किया गया है। भारत को 29 जुलाई को फ्रांस से राफेल फाइटर जेट की पहली खेप मिली थी। इसके तहत पांच जेट अंबाला पहुंचे थे। उस समय इन जेट्स को औपचारिक तौर पर आईएएफ में शामिल नहीं किया गया था।

rafale

यह भी पढ़ें-मॉस्‍को में LAC के हालातों पर चर्चा करेंगे एस जयशंकर

    Rajnath Singh 10 सितंबर को Rafale Fighter Jets को Indian Air Force में करेंगे शामिल | वनइंडिया हिंदी

    मॉस्‍को से लौटने के बाद कार्यक्रम

    आईएएफ ने कहा था कि राफेल, अंबाला पहुंचते ही किसी भी मिशन के लिए रेडी हो जाएंगे। न्‍यूज एजेंसी एएनआई ने रक्षा सूत्रों के हवाले से बताया है कि रक्षा मंत्री के रूस से लौटने के बाद कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। राजनाथ सिंह चार से छह सितंबर तक मॉस्‍को में शंघाई को-ऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (एससीओ) देशों के रक्षा मंत्रियों की मीटिंग में शिरकत करेंगे। सूत्रों के मुताबिक 10 सितंबर को इंडक्‍शन सेरेमनी होगी और इसमें रक्षा मंत्री बतौर चीफ गेस्‍ट शामिल होंगे। सूत्रों ने बताया है कि फ्रांस के रक्षा मंत्री को भी इसमें बुलाया गया है। कार्यक्रम का मकसद भारत और फ्रांस के बीच रणनीतिक साझेदारी को एक नया आयाम देना है। देश को राफेल जेट ऐसे समय में मिले हैं जब लद्दाख में लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर चीन के साथ टकराव जारी है। राफेल ने अगस्‍त माह में हिमाचल प्रदेश में एक अभ्‍यास को पूरा किया है। इस एक्‍सरसाइज में हिमाचल की मुश्किल पहाड़‍ियों के बीच राफेल की उपयोगिता को परखा गया है। फिलहाल राफेल, लद्दाख में तैनात हो चुके हैं।

    लद्दाख में तैनात राफेल जेट

    हांगकांग से निकलने वाले अखबार साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्‍ट की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत और चीन ने अपने सबसे एडवांस्‍ड फाइटर जेट्स को लद्दाख में एलएसी पर तैनात कर दिया है। अखबार ने फोर्ब्‍स की रिपोर्ट का हवाला देते हुए लिखा है कि दो चीनी जे-20 स्‍टेल्‍थ फाइटर जेट्स को वेस्‍टर्न शिनजियांग क्षेत्र में स्थित होटान एयरबेस पर तैनात किया गया है। फोर्ब्‍स ने अपनी रिपोर्ट में सैटेलाइट तस्‍वीरों के जरिए बताया है कि चीन के होटान एयर बेस पर दो जे-20 जेट तैनात हैं। ये जगह अक्‍साई चिन में है और लद्दाख से बस 320 किलोमीटर दूर है।अप्रैल 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी पहली फ्रांस की यात्रा पर गए थे। यहां पर 36 राफेल जेट की डील फाइनल हुई। यह डील करीब 59,000 करोड़ की बताई जा रही है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Rajnath Singh to induct Rafales on Sept 10 at Ambala in Haryana.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X