• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'हर भारतीय का सीना गर्व से फूल जाएगा अगर पूरी बात बता दी तो...', भारत-चीन विवाद पर राजनाथ सिंह का बड़ा बयान

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 21 मई: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि अगर भारत और चीन विवाद पर सरकार ने पूरी जानकारी दे दी तो हर भारतीय का सीना गर्व से फूल जाएगा। राजनाथ सिंह ने शुक्रवार (20 मई) को पुणे के एक कार्यक्रम में कहा, अगर हमने भारत और चीन के 2020 के आमने-सामने की पूरी जानकारी दी तो हर भारतीय का सीना गर्व से फूल जाएगा, वो देश के जवानों पर और भी गर्व करेंगे। राजनाथ सिंह ने इसके अलावा ये भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत एक शक्तिशाली देश के रूप में उभरा है। विश्व पटल पर भारत का कद बढ़ा है।

भारत-चीन आमने-सामने विवाद, ज्यादा नहीं कहूंगा...: राजनाथ सिंह

भारत-चीन आमने-सामने विवाद, ज्यादा नहीं कहूंगा...: राजनाथ सिंह

राजनाथ सिंह ने कहा, ''भारत-चीन आमने-सामने विवाद, इस पर ज्यादा कुछ नहीं कहूंगा क्योंकि जिस तरह से हमारी सेना ने साहस दिखाया और करिश्माई काम किया, मैं केवल इतना कहूंगा कि अगर पूरी जानकारी दी जा सकती है, तो हर भारतीय का सीना गर्व से फूल जाएगा।'' पिछले महीने रक्षा मंत्री ने चीन को स्पष्ट संदेश देते हुए कहा था कि अगर नुकसान हुआ तो भारत किसी को नहीं बख्शेगा।

राजनाथ सिंह बोले- 'दुनिया में बढ़ा है भारत का कद'

राजनाथ सिंह बोले- 'दुनिया में बढ़ा है भारत का कद'

इसके साथ राजनाथ सिंह ने कहा, ''रूस-यूक्रेन संकट के दौरान, हमारे प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) की बातों का मान और कद था। क्योंकि रूसी राष्ट्रपति पुतिन से प्रधानमंत्री मोदी ने अनुरोध किया था कि जब तक भारतीय नागरिकों को यूक्रेन से निकाला नहीं जाता, तब तक युद्धविराम हो, और वैसा ही हुआ। जब तक भारतीय नागरिकों को निकाला जा सकता था, तब तक युद्धविराम किया गया था। दुनिया में भारत का कद बढ़ा है।''

क्या है भारत चीन-सीमा विवाद?

क्या है भारत चीन-सीमा विवाद?

भारतीय और चीनी सैनिकों का सीमा गतिरोध 5 मई 2020 से बंद कर दिया गया है, जब दोनों पक्ष पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग झील क्षेत्रों में हिंसक झड़प में शामिल थे। 15 जून 2020 को गालवान घाटी में हुई झड़प के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था, इस झड़प में 20 भारतीय सैनिक और अनिर्दिष्ट संख्या में चीनी सैनिक मारे गए थे।

पूर्वी लद्दाख गतिरोध को हल करने के लिए दोनों देशों ने अब तक कई दौर की कूटनीतिक और सैन्य स्तर की वार्ता की है। वार्ता के परिणामस्वरूप, दोनों पक्षों ने पिछले साल पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारे और गोगरा क्षेत्र में अलगाव की प्रक्रिया पूरी की है।

ये भी पढ़ें-'राहुल गांधी नॉन-प्लेइंग कप्तान हैं...', BJP नेता रमन सिंह ने कांग्रेस के चिंतन शिविर पर साधा निशानाये भी पढ़ें-'राहुल गांधी नॉन-प्लेइंग कप्तान हैं...', BJP नेता रमन सिंह ने कांग्रेस के चिंतन शिविर पर साधा निशाना

Comments
English summary
Rajnath Singh on India-China face-off says every Indian's chest would swell with pride
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X