• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रजनीकांत को चुनावी फायदे के लिए दिया गया दादा साहेब फालके अवार्ड? प्रश्‍न पर भड़के प्रकाश जावड़ेकर

|

नई दिल्ली: सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने गुरुवार को 51वें दादा साहेब फाल्के पुरस्कार का ऐलान किया। 2019 दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार से साउथ सुपरस्टार रजनीकांत दिया है। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज ये घोषणा की। तमिलनाडु विधान सभा चुनाव के बीच रजनीकांत को भारतीय फिल्म जगत का सर्वोच्च सम्मान दिए जाने पर भाजपा पर यह आरोप लग रहा है कि उसकी सरकार ने चुनावी फायदे के लिए ये पुरस्‍कार दिया है! केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब ये सवाल किया गया तब वो भड़क गए।

rajnikant

बता दें रजीनकांत तमिलनाडु के है, हर तमिल के दिल में रजनीकांत के लिए बहुत सम्‍मान है। केवल तमिल ही नहीं साउथ में रजनीकांत को बहुत सम्‍माान मिलता है। वहीं रजनीकांत की मातृभूमि तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव है इसी बीच उन्‍हें ये सम्‍मान दिया गया। इसको लेकर प्रेस वार्ता ने एक पत्रकार ने जावड़ेकर से सवाल कर दिया कि ''क्या तमिलनाडु में चुनाव होने की वजह से रजनीकांत को दादा साहेब फाल्के अवार्ड दिया जा रहा है? इस सवाल पर नाराज जावड़ेकर ने पत्रकार से गुस्‍से में कहा ''आप सवाल सही पूछा कीजिए।''

    Superstar Rajnikanth को मिलेगा Dada Saheb Phalke Award, Prakash Javadekar का ऐलान | वनइंडिया हिंदी

    javedkar

    प्रेस कॉन्फ्रेंस में जावड़ेकर ने कहा, ''मैं आज साल 2019 के लिए दादा साहब फाल्के पुरस्कार की घोषणा करते हुए बहुत खुश हूं कि इस साल यह भारतीय सिनेमा के इतिहास में सबसे महान अभिनेताओं में से एक रजनीकांत जी को उनके अभिनय, निर्माण और पटकथा लेखन के तौर पर दिए गए योगदान के लिए दिया जाएगा. मैं जूरी के सभी सदस्यों आशा भोंसले, सुभाष घई, मोहनलाल और बिस्वजीत चटर्जी को धन्यवाद देता हूं."

    दादा साहेब अवार्ड मिलने पर क्या बोले रजनीकांत

    दादा साहेब फाल्‍के अवार्ड मिलने के ऐलान के बाद रजनीकांत ने कहा कि भारत सरकार, आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, प्रकाश जावड़ेकर और ज्यूरी को मेरा धन्यवाद, जो उन्होंने मेरा नाम दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड के लिए चुना। मैं इस अवॉर्ड को उन लोगों को समर्पित करता हूं, जो मेरे इस सफर में साथ रहे। सभी को दिल से धन्यवाद।

    रजनीकांत को इससे पहले मिल चुके हैं ये अवार्ड

    हालांकि ये पहली बार नहीं है जब रजनीकांत को कोई अवार्ड मिला है। अपनी नायाब स्‍टाइल से लाखों दिलों पर राज करने वाले 2000 में पद्म भूषण और 2016 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया जा चुका है। रजनीकांत 5 दशकों से सिल्वर स्क्रीन और लोगों के दिलों पर राज कर रहे हैं। साल 2014 में रजनीकांत 6 तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवार्ड्स से सम्‍मानित हुए थे। जिनमें से 4 पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के और दो स्पेशल अवार्ड्स थे। 45वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया में रजनीकांत को 'सेंटेनरी अवॉर्ड फॉर इंडियन फिल्म पर्सन ऑफ द ईयर' से सम्मानित किया गया था।

    जैकी चेन के बाद सबसे अधिक फीस लेने वाले कलाकार हैं रजनीकांत

    12 दिसंबर 1950 को कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में जन्मे रजनीकांत ने अपनी ऐतिहासिक फिल्म 'शिवाजी' के लिए 26 करोड़ रुपए लिए थे, जिसके बाद वो एशिया में जैकी चैन के बाद सबसे ज्यादा पैसे लेने वाले कलाकार बन गए थे। रजनीकांत अपने प्रशंसकों के बीच बतौर थलाइवर (नेता) पहचाने जाते है।

    देविका रानी को सबसे पहले इस अवार्ड से किया गया था सम्‍मानित

    गौरतलब है कि देश का सबसे सम्‍मानित दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार भारत सरकार द्वारा हर साल दिया जाता है। ये पुरस्‍कार सूचना और प्रसारण मंत्रालय के फिल्म समारोह निदेशालय द्वारा नेशलन पुरस्‍कारों के साथ दिया जाता है। दादा साहेब फाल्के अवार्ड सर्वप्रथम एक्‍ट्रेस देवका रानी को दिया गया है। रजनीकांत से पहल ये सम्‍मानित पुरस्‍कार अमिताभ बच्चन, विनोद खन्ना, फिल्म निर्माता के. विश्वनाथ और मनोज कुमार को मिल चुका है।

    एक होने से पहले टूटा था किरण-अनुपम का दिल, जानिए परफेक्ट कपल की अनोखी प्रेम कहानी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Rajinikanth given Dadasaheb Phalke Award for electoral gains? Prakash Javadekar raging on the question
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X