• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राहुल गांधी ने आरपीएन सिंह को Twitter पर अनफॉलो किया, अब सिर्फ रह गए इतने

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 25 जनवरी: पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह के कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने के कुछ ही घंटे बाद मंगलवार को राहुल गांधी ने उन्हें ट्विटर पर अनफॉलो कर दिया। कांग्रेस की यूपी की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी ने इससे पहले आरपीएन पर उनके फैसले के लिए जोरदार हमला बोला था। लेकिन वो अभी भी उन्हें ट्विटर पर फॉलो कर रही हैं। भाजपा में शामिल होने के बाद कांग्रेस मुख्यालय से आरपीएन सिंह का नेमप्लेट भी हटा दिया गया है। आरपीएन सिंह राहुल गांधी के बहुत ही करीबी नेताओं में से माने जाते रहे हैं।

Rahul Gandhi unfollows RPN Singh on Twitter, shows displeasure over leaving Congress and joining BJP

राहुल गांधी ने आरपीएन सिंह को ट्विटर अनफॉलो किया
न्यूज एजेंसी एएनआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक आरपीएन सिंह के बीजेपी में शामिल होने से पहले तक कांग्रेस नेता राहुल गांधी ट्विटर पर 280 लोगों को फॉलो करते थे। लेकिन, अब उनकी संख्या घटकर सिर्फ 279 रह गई है। उधर आरपीएन सिंह ने भी ट्विटर पर अपनी कवर तस्वीर बदल दी है और बीजेपी के नेता धर्मेंद्र प्रधान और यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ पार्टी में शामिल होने वाली तस्वीर लगाई है। कांग्रेस के लिए आरपीएन का फैसला इसलिए बहुत बड़ा झटका है, क्योंकि पार्टी ने उत्तर प्रदेश चुनावों के लिए उन्हें स्टार प्रचारकों की लिस्ट में शामिल किया था।

कांग्रेस की विचारधारा पर किया है चोट
इससे पहले दिल्ली स्थित बीजेपी मुख्यालय में आरपीएन ने मीडिया से कहा कि 'मैंने 32 साल एक राजनीतिक दल (कांग्रेस) में बिताया है। लेकिन, वह पार्टी अब पहले वाली नहीं रह गई है। ' उन्होंने कहा कि 'अब मैं भारत के लिए पीएम मोदी के सपने पूरे करने के लिए कार्यकर्ता की तरह काम करूंगा।' उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि अब पार्टी की वह विचारधारा नहीं रह गई है। उन्होंने बाद में कहा कि, 'मैंने अपने प्रेस कांफ्रेंस में साफ कहा है कि पार्टी अब वह पार्टी नहीं रह गई है, जहां मैं काम करता था, उसकी वह विचारधारा अब नहीं रह गई है। मैं इससे ज्यादा कुछ भी नहीं कहना चाहूंगा।'

प्रियंका गांधी ने किया है आरपीएन पर हमला
उनकी पत्नी और उनके यूपी विधानसभा चुनाव लड़ने को लेकर जारी अटकलों पर उन्होंने कहा कि 'सिर्फ मैं ही राजनीति में हूं। पार्टी मुझसे जो करने के लिए कहेगी, मैं निश्चित ही वैसा करूंगा।' उनके कांग्रेस से इस्तीफे पर पार्टी की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनते ने कहा कि 'कांग्रेस पार्टी जो लड़ाई लड़ रही है वह सिर्फ बहादुरी से लड़ी जा सकती है....इसमें साहस, ताकत की जरूरत है और प्रियंका गांधी जी ने कहा है कि कायर लोग इसे नहीं लड़ सकते।'

इसे भी पढ़ें- यूपी में का बा ? कांग्रेस से बीजेपी में आए आरपीएन सिंह से सुनिए इसका जवाबइसे भी पढ़ें- यूपी में का बा ? कांग्रेस से बीजेपी में आए आरपीएन सिंह से सुनिए इसका जवाब

कुंवर रतनजीत प्रताप नारायण सिंह, जो कि पडरौना में राजा साहेब के नाम से लोकप्रिय हैं, यूपीए सरकार में गृह राज्यमंत्री रह चुके हैं। 2009 में वह यूपी के कुशीनगर लोकसभा क्षेत्र से जीते थे। 57 वर्षीय नेता राहुल गांधी के बेहद खास लोगों में से माने जाते रहे हैं। वह 1996 से 2009 तक पडरौना से विधायक भी रहे हैं। उनके पिता सीपीएन सिंह भी कांग्रेस नेता थे। इस समय वह कांग्रेस के झारखंड प्रभारी थे। दून स्कूल के छात्र रहे आरपीएन 2014 के लोकसभा चुनाव में कुशीनगर से भाजपा के राजेश पांडे से हार गए थे।

Comments
English summary
Rahul Gandhi unfollows RPN Singh on Twitter, shows displeasure over leaving Congress and joining BJP
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X