• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राहुल गांधी भ्रम में हैं.......प्रशांत किशोर ने पीएम मोदी की मजबूती का बखान कर क्या कह दिया ? जानिए

|
Google Oneindia News

पणजी, 28 अक्टूबर: कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों के बीच चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राजनीतिक शक्ति का बखान करके कांग्रेस के मौजूदा नेतृत्व को बहुत बड़ा झटका दे दिया है। उन्होंने कहा है कि पीएम मोदी की राजनीतिक ताकत को लेकर लगता है कि राहुल गांधी अभी भी भ्रम में हैं। उन्होंने बाकी क्षेत्रीय नेताओं को लेकर भी ऐसा ही कहा है। वह इस समय गोवा में हैं और ममता बनर्जी की टीएमसी के लिए नया राजनीतिक जमीन तैयार कर रहे हैं। पीके ने कहा है कि भाजपा अभी कई दशकों तक राष्ट्रीय राजनीति में प्रभावी रहेगी, क्योंकि उसके साथ एकमुश्त जन-समर्थन है। गौरतलब है कि कुछ समय पहले तक उनके कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें थीं।

'भाजपा कई दशकों तक राजनीति के केंद्र में रहेगी'

'भाजपा कई दशकों तक राजनीति के केंद्र में रहेगी'

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा है कि भारत की राजनीति में आने वाले कई दशकों तक भारतीय जनता पार्टी एक बड़ी ताकत के रूप में मौजूद रहेगी। वह इन दिनों गोवा में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस की चुनावी जमीन तैयार करने में जुटे हुए हैं। इंडियन पॉलिटिकल ऐक्शन कमिटी (आईपीएसी) के हेड के मुताबिक बीजेपी के खिलाफ अभी लड़ाई कई दशकों तक लड़नी पड़ेगी। गौरतलब है कि किशोर का चुनावी प्रोफाइल इस साल पश्चिम बंगाल में भाजपा और उसके नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुकाबले टीएमसी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को बड़ी जीत मिलने के बाद बहुत बढ़ चुका है। इससे उत्साहित ममता बंगाल की खाड़ी के तट से निकलकर अरब सागर के तट पर स्थित गोवा में अपनी राजनीतिक जमीन तलाश रही हैं और पीके वहां भी उनकी सहायता के लिए अपने चुनावी तरकीबों को आजमाने की कोशिशों में लगे हुए हैं।

'भाजपा से कई वर्षों तक मुकाबला करना होगा'

'भाजपा से कई वर्षों तक मुकाबला करना होगा'

पिछले कई चुनावों से बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सियासी जमीन खराब करने में जुटे प्रशांत किशोर को यह तो लगता ही है कि अभी भाजपा का मुकाबला कठिन है, लेकिन साथ ही उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भी जबर्दस्त खिंचाई कि है कि संभवत: वह अभी भी इसी भ्रम में पड़े हुए हैं कि मोदी का करिश्मा जल्द खत्म होने वाला है। उन्होंने कहा है, 'भाजपा ही भारतीय राजनीति के केंद्र में रहने वाली है, चाहे वह जीते या हार जाए- जैसे पहले के 40 वर्षों तक कांग्रेस होती थी। बीजेपी कहीं नहीं जा रही है। जब आप राष्ट्रीय स्तर पर एक बार 30% वोट हासिल कर लेते हैं तो आप जल्दी कहीं नहीं जाने वाले हैं।' गोवा म्यूजियम में आयोजित बातचीच के एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, 'इसलिए इस जाल में कभी मत पड़िए कि लोग नाराज हो रहे हैं और मोदी को फेंक देंगे। हो सकता है कि वो मोदी को हटा भी देंगे, लेकिन बीजेपी कहीं नहीं जा रही है। आपको इससे कई वर्षों तक मुकाबला करना होगा।'

'राहुल गांधी के साथ यही तो समस्या है'

'राहुल गांधी के साथ यही तो समस्या है'

लेकिन, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और इस समय बिना पद के भी पार्टी के सबसे प्रभावी नेता बन चुके राहुल गांधी के लिए उन्होंने जो कुछ कह दिया है, वो शायद ज्यादातर कांग्रेसियों को पसंद नहीं आने वाला। प्रशांत किशोर ने कहा है, 'राहुल गांधी के साथ यही तो समस्या है। शायद, उन्हें लगता है कि यह बस समय की बात है, जब लोग उन्हें (नरेंद्र मोदी) उठाकर फेंक देंगे। ऐसा नहीं होने जा रहा है।' पीके का मानना है कि, 'जबतक आप उनकी (मोदी की) ताकत की पड़ताल नहीं करेंगे, समझेंगे नहीं और उसपर ध्यान नहीं देंगे, तब तक आप उन्हें किनारा करके हराने में सक्षम नहीं होंगे।' वो बोले कि 'मुझे लगता है कि दिक्कत ये है कि ज्यादातर लोग यह समझने की कोशिश नहीं करते कि उनकी ताकत किया है, यह नहीं समझते कि वह लोकप्रिय क्यों हैं। जब आप यह जान जाएंगे, तभी आप काउंटर खोज पाएंगे।'

इसे भी पढ़ें-आसियान शिखर सम्मेलन: पीएम मोदी बोले-कोरोना काल भारत-आसियान मित्रता की भी परीक्षा थीइसे भी पढ़ें-आसियान शिखर सम्मेलन: पीएम मोदी बोले-कोरोना काल भारत-आसियान मित्रता की भी परीक्षा थी

दो-तिहाई लोग बंटे हुए हैं- किशोर

दो-तिहाई लोग बंटे हुए हैं- किशोर

प्रशांत किशोर यहीं तक नहीं रुके। उन्होंने कहा कि 'आप जाइए और कांग्रेस के किसी भी नेता से बात कीजिए या किसी भी क्षेत्रीय नेता से पूछिए, वह कहेंगे कि कुछ ही समय की बात है, लोग पक चुके हैं, एंटी-इंकंबेंसी होगी और लोग उन्हें बाहर कर देंगे। मुझे इसपर संदेह है। यह नहीं होने जा रहा। ' उन्होंने तेल की कीमतों में इजाफे का उदाहरण देकर बताया कि कि इस आदमी (मोदी) के खिलाफ 'कोई स्पष्ट असंतोष नहीं है।' उन्होंने यह भी निराशा जताई कि 'सिर्फ एक-तिहाई जनता ही भाजपा को समर्थन दे रही है।' लेकिन, उन्हें दिक्कत यह लगता है कि दो-तिहाई (65%) लोग बंटे हुए हैं। '10-15 पार्टियों में विभाजित हैं और इसकी बड़ी वजह कांग्रेस का पतन है।' टीएमसी के लिए पीके के आईपैक ने सर्वे करना शुरू कर दिया है। गोवा में टीएमसी मजबूती से विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में है और उसने कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व सीएम लुईजिन्हो फलेरियो को पार्टी में शामिल कराकर उन्हीं की अगुवाई में चुनाव लड़ने का इरादा जताया है।

English summary
Election strategist Prashant Kishor has said about Rahul Gandhi that he is still in illusion about PM Modi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X