• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पुणे की आधी आबादी कोरोना की चपेट में, सर्वें में सामने आई चौंकाने वाली बात

|

पुणे। कोरोनावायरस महामारी को लेकर देश के कई शहरों में सीरो सर्वे करवाया जा रहा है। दिल्‍ली के बाद महाराष्‍ट्र के पुणे में लोगों में कोरोना का संक्रमण चेक करने के लिए सीरो सर्वे करवाया गया। जिसमें चौंकाने वाले परिणाम सामने आए हैं। सीरो सर्वे के अनुसार पुणे के 51.5 प्रतिशत लोगों के शरीर में एंटीबॉडी पाया गया।

corona

मालूम हो कि शरीर में कोविड 19 एंटीबॉडी होने का ये मतलब होता है कि व्‍यक्ति संक्रमित हो चुका है। इसका मतलब यह कि शहर के आधे से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद ठीक हो चुके लोगों में यह एंटीबॉडी मौजूद होती है। पुणे में सीरो सर्वे के नतीजों को सोमवार को जारी किया गया।

इस सर्वे में ये चौंकाने वाले परिणाम का हुआ खुलासा

इस सर्वे में ये चौंकाने वाले परिणाम का हुआ खुलासा

पुणे में महामारी और सीरम सर्विलांस कोविड-19 की स्टडी नगर निगम के तहत पांच प्रभावित इलाकों से 1644 सैंपल लिए गए थे। इस जांच में पाया गया कि 51.5 प्रतिशत लोगों में पाया गया कि उनमें कोरोना एंटीबॉडी की मौजूद है। यानी की पुणे में इतने प्रतिशत कोरोना का शिकार हो चुके हैं। मालूम हो कि सीरोलॉजिकल सर्वे शरीर में किसी विशेष एंटीबॉडी की मौजूदगी का पता लगाने के लिए किया जाता है। इससे पता चलता है कि कोई बीमारी आबादी के कितने हिस्से और किस दिशा में फैली है।

सर्वे में 52.8 प्रतिशत पुरुष और 51.1 प्रतिशत महिलाओं में एंडीबॉडी मिली

सर्वे में 52.8 प्रतिशत पुरुष और 51.1 प्रतिशत महिलाओं में एंडीबॉडी मिली

पुणे शहर के 18 साल से अधिक उम्र के लोगों की संख्या 3.66 लाख है। शहर के 5 सबसे अधिक प्रभावित इलाकों से 1664 व्यस्कों के सैंपल लिए गए थे। यह स्टडी पुणे नगर निगम और भारतीय विज्ञान शिक्षा एंड रिसर्च इंस्‍टीट्यूट के साथ मिलकर की थी। पुणे में महामारी और सीरम सर्विलांस के तहत सबसे अधिक प्र‍भावित 5 इलाकों में लिए गए सैप्‍पल में पॉजिटिविट की दर 36.1 प्रतिशत से 65.4 प्रतिशत के बीच निकली। सर्वे में 52.8 प्रतिशत पुरुष और 51.1 प्रतिशत महिलाओं में एंडीबॉडी मिली है।

पुणे के इस इलाके में पाए गए सबसे अधिक पाया गया कोरोना

पुणे के इस इलाके में पाए गए सबसे अधिक पाया गया कोरोना

भवानी पेठ वॉर्ड के तहत आने वाले लोहियानगर-कासेवाडी के क्षेत्र कोरोना संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित पाए गए। सर्वे टीम का हिस्सा वरिष्‍ठ शोधकर्ता अर्णब घोष ने बताया कि टेस्‍ट में इन क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण सबसे ज्यादा पाया गया। जिसमें शरीर में SARS-CoV-2 के मुकाबले IgG एंटीबॉडी की मौजूदगी का पता लगा।

इन वर्ग के लोगों में अधिक पाई गई एंटीबॉडी

इन वर्ग के लोगों में अधिक पाई गई एंटीबॉडी

पुणे में एक जुलाई तक सामने आए कोरोना पॉजिटिव मामलों को आधार मानकर 20 जुलाई से 5 अगस्त के बीच ये सर्वे किया गया। बता दें ये एंटीबॉडी की मौजदूगी हर तरह की आवासीय सुविधा वालों लोगों में पाई गई। इस सर्वे में बंगले में रहने वाले 49 प्रतिशत, आबादी वाली झुग्गियों में रहने वाले 56 से 62 प्रतिशत, अपार्टमेंट में रहने वाले 33 प्रतिशत लोगों में सीरोपॉजिटिविटी रजिस्टर की गई।

कोरोना अपडेट: 24 घन्टे में 55 हज़ार संक्रमित और 57 हज़ार ठीक होकर हुए डिस्चार्ज

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pune's first sero-survey report Pune , corona antibodies found in 51.5% of citizens
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X