• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली: वाल्मीकि मंदिर में हाथरस पीड़िता के लिए प्रार्थना सभा, प्रियंका गांधी भी पहुंची

|

नई दिल्ली। हाथरस में 19 वर्षीय युवती के साथ हुई दरिंदगी और हत्या के बाद देशभर में आक्रोश है। लोग सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक पीड़िता को न्याय दिलाने की मांग कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ विपक्षी दलो और सामाजिक संगठनों ने उत्तर प्रदेश सरकार की लापरवाही को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमलावर हैं। गुरुवार को हाथरस के लिए रवाना हुईं प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी को यूपी पुलिस ने बीच रास्ते ही रोक लिया जिसके बाद मामले ने राजनीतिक मोड़ भी ले लिया है।

    Hathras Case: Valmiki Temple में आयोजित प्रार्थना सभा में पहुंची Priyanka Gandhi | वनइंडिया हिंदी
    हाथरस पीड़िता के लिए प्रार्थना सभा

    हाथरस पीड़िता के लिए प्रार्थना सभा

    इस बीच शुक्रवार को कांग्रेस नेता और उत्तर प्रदेश की महासचिव प्रियंका गांधी दिल्ली में पंचकुइन्या रोड स्थित वाल्मीकि मंदिर में हाथरस पीड़िता के लिए रखी गई प्रार्थना सभा में पहुंची। बता दें कि यह वही मंदिर है जहां से महात्मा गांधी ने अप्रैल 1946 और जून 1947 के बीच 214 दिनों तक रुक कर स्वाधीनता की अलख जगाई थी। प्रार्थना सभा में पहुंची प्रियंका गांधी की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं जिसमें वह मंदिर में पूजा-अर्चना करती नजर आ रही हैं।

    अन्याय के खिलाफ लड़ते रहेंगे

    अन्याय के खिलाफ लड़ते रहेंगे

    इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा कि हम अन्याय के खिलाफ लड़ते रहेंगे, इंसाफ मिलने तक शांत नहीं बैठेंगे। कांग्रेस नेता ने यूपी सरकार पर निशना साधते हुए पूछा कि रात के समय अंतिम संस्कार करने की परंपरा कहां है। बता दें कि गुरुवार को प्रियंका और राहुल गांधी हाथरस के लिए रवाना हुए थे लेकिन उनके काफिले को एक्सप्रेसवे पर ही रोक दिया गया।

    हाथरस जाने से प्रियंका-राहुल को रोका

    हाथरस जाने से प्रियंका-राहुल को रोका

    इसके बाद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पैदल ही हाथरस के लिए निकल पड़े लेकिन इसी बीच पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प शुरू हो गई और इस दौरान राहुल गांधी के साथ धक्का-मुक्की हुई है, जिसकी वजह से राहुल गांधी जमीन पर गिर पड़े, बताया जा रहा है कि उनके हाथ में चोट आई है तो वहीं इस झड़प में कुछ कार्यकर्ताओं को भी चोटें लगी हैं, इसके बाद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को यूपी पुलिस ने हिरासत में ले लिया ।

    सवालों के घेरे में योगी सरकार

    सवालों के घेरे में योगी सरकार

    बता दें कि 14 सितंबर को कुछ लोगों ने लड़की को खेत से अगवाकर उसके साथ बर्बरता की। घायल अवस्था में पीड़िता को दिल्ली के सफदर जंग अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां 30 सितंबर को इलाज के दौरान युवती ने दम तोड़ दिया। इस बीच परिजनों ने यूपी पुलिस पर आरोप लगाया था कि उन्हें पीड़िता का शव नहीं दिया गया और आधी रात उसका जबरन अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस घटना के बाद अब योगी आदित्यनाथ की मुश्किलें बढ़ गई हैं, उन्हें कई सवालों के जवाब देने पड़ रहे हैं।

    पीड़ित परिवार के साथ अन्याय पर अन्याय

    पीड़ित परिवार के साथ अन्याय पर अन्याय

    प्रर्थना सभा में पहुंचीप्रियंका गांधी वाड्रा बोलीं, जो इस लड़की के साथ हुआ, जो उसके परिवार के साथ हो रहा है, उन पर अन्याय पर अन्याय हो रहा है। इसके खिलाफ इस देश की एक-एक महिला और एक-एक पुरुष की आवाज़ उठनी चाहिए। जो भी उस लड़की के साथ किया गया उसको झेलते हुए भी सरकार की कोई मदद नहीं मिली। इसीलिए मैं आपके बीच आई हूं, जब मैंने सुना की आपके समाज, वाल्मीकि समाज ने उनके लिए प्रार्थना सभा रखी है। मैं इसीलिए यहां आई कि आपको और उनके परिवार को कभी महसूस नहीं होने देना चाहिए कि वे अकेले हैं, हम सभी से आग्रह करते हैं, अपनी आवाज़ उठाओ।'

    यह भी पढ़ें: हाथरस पीड़िता के अंतिम संस्कार पर BJP सांसद का बड़ा दावा, 'DM से कहा था दाह संस्कार सुबह करने को लेकिन...'

    English summary
    Priyanka Gandhi prays for Hathras victim in Delhi's Valmiki temple
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X