• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Pranab Mukherjee की फैमिली को जानिए, परिवार में है कौन-कौन?

|

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) का निधन 31 अगस्त 2020 को हो गया। ब्रेन सर्जरी के बाद से उनकी तबियत बिगड़ गई थी। भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का 84 साल की उम्र में हो गया। पिछले कई दिनों से वो बीमार चल रहे थे। दिल्ली के आर्मी अस्पताल में भर्ती थे, जहां उनकी ब्रेन सर्जरी की गई, उसके बाद से ही वो आईसीयू में थे और उनकी तबीयत बिगड़ती जा रही थी। सोमवार को प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर प्रणब मुखर्जी के निधन की जानकारी दी। प्रणब मुखर्जी के निधन से पूरा देश शोक में डूब गया है। प्रणब दा की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने भावुक पोस्ट लिखी।

    Pranab Mukherjee Passed Away: जानिए कैसा रहा प्रणब मुखर्जी का राजनीतिक सफर | वनइंडिया हिंदी
     प्रणब मुखर्जी के परिवार में कौन-कौन

    प्रणब मुखर्जी के परिवार में कौन-कौन

    प्रणब मुखर्जी के परिवार में उनकी पत्नी शुभ्रा मुखर्जी, बेटी शमिष्ठा मुखर्जी और दो बेटे अभिजीत मुखर्जी और इंद्रजीत मुखर्जी हैं। प्रणव मुखर्जी का विवाद 22 साल की उम्र मे 13 जुलाई 1957 को शुभ्रा मुखर्जी के साथ हुआ था। शुभ्रा मुखर्जी बंग्लादेश की रहने वाली थी। जब वो 10 साल की थी, तभी उनका परिवार कोलकाता में बस गया था। जिसके बाद साल 1957 में उनकी शादी प्रणब मुखर्जी से हुई थी। साल 2015 में ही उनकी पत्नी शुभ्रा का निधन हो गया। उन्हें सांस संबंधी बीमारी थी, इलाज के दौरान उनका निधन हो गया। अब प्रणब दा के परिवार में सिर्फ उनके बच्चे हैं।

    कांग्रेस सांसद है अभिजीत मुखर्जी

    कांग्रेस सांसद है अभिजीत मुखर्जी

    प्रणब दा के दो बेटे हैं। अभिजीत मुखर्जी और इंद्रजीत मुखर्जी। उनके बड़े बेटे अभिजीत ने सरकारी नौकरी छोड़कर राजनीति का रुख कर लिया। साल 2019 तक अभिजीत मुखर्जी पश्चिम बंगाल के जंगीपुर सीट से सांसद है। ये सीट प्रणब मुखर्जी के छोड़ने पर खाली हुई थी। वो पश्चिम बंगाल के बीरभूमि के नालहाटी विधानसभा क्षेत्र विधायक रह चुके हैं।

     बेटी शर्मिष्ठा पिता के बेहद करीब

    बेटी शर्मिष्ठा पिता के बेहद करीब

    प्रणब दा की बेटी शर्मिष्ठा अपने पिता से बेहद एक नृत्यांगना हैं। वो कथक डांसक हैं। बाद में उन्होंने भी कांग्रेस पार्टी ज्वाइंन कर ली। मुखर्जी के पिताजी कामदा किंकर प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी थे और आज़ादी की लड़ाई में अपनी सक्रिय भूमिका निभाने के चलते 10 सालों तक ब्रिटिश जेलों में रहे। प्रणब दा को किताबें पढ़ना, बागवानी करना और संगीत सुनने का बहुत शोक था। पिछले कुछ सालों से वो बीमार चल रहे थे। लंबी बीमारी के बाद अब वो दुनिया को अलविदा कर गए हैं। उनके निधन के बाद उनकी बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने बेहद भावुक पोस्ट लिखा है।

    प्रणब मुखर्जी के निधन पर सात दिन के राजकीय शोक की घोषणा, नहीं होगा कोई सरकारी कार्यक्रम

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Pranab Mukherjee Passed Away: Know all about Pranab Mukherjee Family.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X