• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिशा रवि पर बोले प्रकाश जावडेकर-सरकार आलोचना के लिए खुली है लेकिन....

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा सोशल मीडिया और ओवर-द-टॉप (ओटीटी) प्लेटफॉर्म के लिए नए दिशा-निर्देश जारी करने के एक दिन बाद पर्यावरण कार्यकर्ता और टूलकिट मामले में कथित आरोपी दिशा रवि को लेकर एक अहम बयान दिया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को कहा कि सरकार आलोचना के लिए खुली है लेकिन "देश को बदनाम करने के लिए एक आतंकवादी समूह के साथ गठजोड़ आपत्तिजनक है।

    OTT Guidelines पर बोले Prakash Javadekar, Censor Certificate की जरूरत नहीं | वनइंडिया हिंदी
    Prakash Javadekar refused to comment on the bail granted to Disha Ravi

    प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को दिशा रवि की जमानत पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारत में लोग देश को बदनाम करने के लिए किसी को भी साजिश रचने मंजूरी नहीं देते हैं। इंडिया टुडे में छपी खबर के मुताबिक यह पूछे जाने पर कि क्या केंद्र सरकार एंटी गवर्नमेंट सामग्री को लेकर सख्त हो जाएगी? इस पर प्रकाश जावड़ेकर ने जोर देकर कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली सरकार भारत की सबसे खुली सरकार है। लेकिन, उन्होंने कहा, शालीनता और राष्ट्रीय हित के मानदंडों का पालन करना होगा।

    केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि हमारे पास एक ऐसा प्रधानमंत्री है, जिसने अपने सात साल के शासन में, हर पिछले प्रधानमंत्री के काम की सराहना की है, चाहे वह कांग्रेस हो, जनता दल हो या कोई भी हो। वह, हमेशा संसद सत्रों की शुरुआत में, कहते हैं कि आप सरकार की आलोचना करते हैं क्योंकि वह सभी लोकतंत्र के बारे में है। इसलिए हम भारत की सबसे खुली सरकार हैं। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सरकार आलोचना को रोकना या हतोत्साहित नहीं करना चाहती।

    उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि राष्ट्रीय हित के लिए, शालीनता के मानदंडों का पालन करना चाहिए ... अगर कोई किसी आतंकवादी समूह के साथ गठजोड़ करता है, तो यह आपत्तिजनक है। मैं इस बात पर टिप्पणी नहीं करना चाहता कि अदालत ने क्या देखा .... इस देश के अधिकांश लोगों ने किसी को भारत को बदनाम करने की साजिश रचने की मंजूरी नहीं दी है। लोगों को यह पसंद नहीं है। आखिरकार, यह भी लोकतंत्र है।

    <br/><strong>सिद्धिविनायक मंदिर में दर्शन के नियमों में किया गया बदलाव, जानिए एंट्री के लिए क्या करना होगा</strong>
    सिद्धिविनायक मंदिर में दर्शन के नियमों में किया गया बदलाव, जानिए एंट्री के लिए क्या करना होगा

    English summary
    Prakash Javadekar refused to comment on the bail granted to Disha Ravi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X