• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मुस्लिम महिलाओं की नीलामी ऐप पर गरमाई राजनीति, राहुल और शशि थरूर ने एक्शन पर उठाए सवाल

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 02 जनवरी। 'बुल्ली बाई' नाम के आपत्तिजनक मोबाइल ऐप पर मुस्लिम महिलाओं की फोटो पोस्ट कर उनकी नीलामी मामले को लेकर अब राजनीतिक गरमा गई है। विपक्षी दलों ने सोशल मीडिया पर महिलाओं के खिलाफ अपराध पर एक्शन को लेकर केंद्र सरकार और बीजेपी पर निशाना साधा है। शिवसेना, कांग्रेस और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी (ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिममीन) समेत कई राजनीतिक दलों ने अपराधियों के खिलाफ सरकार द्वारा त्वरित और सख्त कार्रवाई की मांग की है।

    Bulli App, मुस्लिम महिलाएं, नीलामी और सियासत ! सरकार के दावों पर विपक्ष का प्रहार | वनइंडिया हिंदी
    Politics starts on Bulli Bai app, Priyanka Chaturvedi and Shashi Tharoor raise questions on action

    इस मामले पर कांग्रेस के पूर्व सांसद राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर महिलाओं के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया है। उन्होंने लिखा,

    महिलाओं का अपमान और सांप्रदायिक नफरत तभी बंद होंगे जब हम सब एक आवाज में इसके खिलाफ खड़े होंगे। साल बदला है, हाल भी बदलो- अब बोलना होगा!

    अपने एक ट्वीट में शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने लिखा, 'इस मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है, हालांकि आपत्तिजनक ऐप और साइटों को ब्लॉक कर दिया गया है। 'सुल्ली डील्स' के बाद 'बुल्ली डील्स' के फिर से शुरू होने से पहले मेरे द्वारा 30 जुलाई और 6 सितंब, 2021 को आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव को पत्र लिखा गया था, जिसका जवाब मुझे 2 नवंबर को मिला।' उन्होंने बताया कि इस मामले में उनकी बात मुंबई पुलिस कमिश्नर और डीसीपी क्राइम से भी हुई है। शिवसेना नेता ने उनसे अपील की कि इस मामले में तुरंत जांच की जाए।

    यह भी पढ़ें: 'सुल्ली डील्स' के बाद सामने आया 'बुल्ली बाई' ऐप, फोटो पोस्ट कर मुस्लिम महिलाओं को किया जा रहा था 'नीलाम'

    वहीं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने अपने एक ट्वीट में लिखा, 'अब समय आ गया है कि हमारी दिल्ली पुलिस पर शिकंजा कसा जाए। यह शर्मनाक है कि ऐसी मानसिकता के लोग मौजूद हैं लेकिन अगर उन्हें आज सबक नहीं सिखाया गया तो वे अपराध का अगला मौका तलाश लेंगे।' उधर, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने ट्विटर पर महिलाओं का समर्थन किया। उन्होंने आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव से भी मामले का संज्ञान लेने को कहा। ओवैसी ने ट्वीट में कहा, 'शर्मनाक! अधिकारियों की निष्क्रियता ने इन अपराधियों को बेशर्म बना दिया है। अश्विनी वैष्णव और दिल्ली पुलिस से आग्रह है कि वह इस मामले की जांच करें और सख्त कार्रवाई करें।'

    Comments
    English summary
    Politics starts on Bulli Bai app, Priyanka Chaturvedi and Shashi Tharoor raise questions on action
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X