• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सोनिया गांधी ने चिट्ठी लिखकर जो मांगा था, पीएम मोदी ने उससे ज्यादा दिया

|

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (मंगलवार) देश के नाम अपने संबोधन में ऐलान किया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया गया है। अब नंवबर तक गरीबों को मुफ्त राशन मिलेगा। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर तीन महीने के लिए फ्री राशन स्कीम को बढ़ाने की मांग की थी। प्रधानमंत्री ने इसे नंवबर तक बढ़ाने का ऐलान किया है।

पीएम मोदी ने कब-कब जवानों के बीच पहुंचकर सबको चौंकाया ?

    PM Modi Address the Nation : Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana अब November तक | वनइंडिया हिंदी
    सोनिया गांधी ने की थी ये मांग

    सोनिया गांधी ने की थी ये मांग

    कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 22 जून को पत्र लिखकर पीएम मोदी से मुफ्त में दिए जा रहे राशन की अवधि को तीन महीने और बढ़ाकर सितंबर, 2020 तक करने की गुजारिश की थी। उन्होंने कहा था कि लॉकडाउन की वर्तमान परिस्थितियों में देश के सबसे कमजोर वर्ग से आने वाले कुछ लोगों की भूख की समस्या से निपटने के लिए खाद्य वस्तुओं के दिए जाने (की अवधि) को अवश्य बढ़ाया जाना चाहिए। इस पर आज पीएम मोदी ने अहम ऐलान करते हुए इसे नवंबर तक बढ़ा दिया।

    मोदी ने कहा, कोरोना से लड़ते हुए भारत में, 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 3 महीने का राशन, यानि परिवार के हर सदस्य को 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त दिया गया। त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए।

    90 हजार करोड़ होंगे खर्च

    पीएम मोदी ने कहा, गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च होंगे। अगर इसमें पिछले 3 महीने का खर्च जोड़ दें तो ये करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए हो जाता है। साथ ही उन्होंने कहा कि अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है यानि एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड। इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गाँव छोड़कर के कहीं और जाते हैं।

    20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ दिए

    20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ दिए

    प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में ये भी कहा कि बीते तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं। इस दौरान 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपए जमा हुए हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान देश की सर्वोच्च प्राथमिकता रही कि ऐसी स्थिति न आए कि किसी गरीब के घर में चूल्हा न जले। केंद्र सरकार हो, राज्य सरकारें हों, सिविल सोसायटी के लोग हों, सभी ने पूरा प्रयास किया कि इतने बड़े देश में हमारा कोई गरीब भाई-बहन भूखा न सोए।

    देश में कोरोना वायरस के फैलने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने आज छठीं दफा देश को संबोधित किया है। इससे पहले रविवार को रेडियो पर अपने 'मन की बात' कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा था कि कोरोना के संकट काल में देश लॉकडाउन से बाहर निकल आया है। अब हम अनलॉक के दौर में हैं। अनलॉक के दौर में दो बातों पर ध्यान देने की जरूरत है। कोरोना को हराना और अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाना है।

    कोरोना वैक्सीन की तैयारियों लेकर पीएम मोदी की उच्चस्तरीय बैठक, अधिकारियों को दिए अहम निर्देश

    दिल्ली: 10 दिन में तैयार हुई दुनिया की सबसे बड़ी Covid-19 केयर फैसिलिटी के बारे में सबकुछ जानिए

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    PM Narendra Modi extension free ration scheme for poor till November sonia demand 3 months
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more