• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

टीकाकरण की रफ्तार को नहीं बढ़ा पाया 'टीका उत्सव', पीएम मोदी ने 11 अप्रैल को की थी घोषणा

|

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बीच देश में टीकाकरण अभियान की रफ्तार धीमी चल रही है। यहां तक कि पीएम मोदी के द्वारा घोषित किया गया 'टीका उत्सव' भी टीकाकरण की रफ्तार पर कोई खास असर नहीं डाल पाया। बता दें कि 1 अप्रैल से देश में 45 साल से उपर के लोगों को वैक्सीन लगना शुरू हुई थी और 11 अप्रैल को पीएम मोदी ने 4 दिन के 'टीका उत्सव' की घोषणा की थी, लेकिन टीका उत्सव के दौरान वैक्सीन लेने वाले लोगों की संख्या में उम्मीद के मुताबिक इजाफा देखने को नहीं मिला है। बल्कि स्थिति ऐसी है कि टीका उत्सव के मुकाबले आम दिनों में लोग ज्यादा टीका लगवा रहे थे।

corona vaccine

टीका उत्सव और सामान्य दिनों में नहीं दिखा कोई अंतर

आधिकारिक आंकड़े बताते हैं कि टीका उत्सव के दौरान औसतन प्रतिदिन 33.47 लाख लोगों ने वैक्सीन लगवाई थी, जबकि 1 अप्रैल से लेकर 17 अप्रैल के बीच औसतन 31.38 लाख लोगों ने वैक्सीन लगवाई है। इससे साफ है की टीका उत्सव और सामान्य दिनों में हो रहे वैक्सीनेशन में खासा अंतर देखने को नहीं मिला। आपको बता दें कि 17 अप्रैल तक देश में 12.26 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है, जो कि देश की आबादी का सिर्फ 9 प्रतिशत है।

आंकड़ों के मुताबिक, 11 अप्रैल को 29.33 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी। 12 अप्रैल को संख्या 40.04 लाख, 13 अप्रैल को 31.39 लाख और 14 अप्रैल को 33.13 लाख थी। 15 अप्रैल को ये आंकड़ा नीचे आ गया था, लेकिन अगले दिन फिर से 30 लाख से अधिक लोगों ने टीका लगवाया।

ये भी पढ़ें: कोरोना की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अहम बैठक आजये भी पढ़ें: कोरोना की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अहम बैठक आज

English summary
PM Modi ‘Tika Utsav’ fail to boost vaccination in india
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X