• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गांव-गांव तक कोरोना वैक्सीन पहुंचाने के लिए PM मोदी ने तैयार किया प्लान, लक्जमबर्ग के साथ भारत ने की डील

|

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर तेजी से काम चल रहा है। शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीन की वर्क प्रोग्रेस को देखने के लिए पुणे, हैदराबाद और अहमदाबाद का दौरा किया। वैक्सीन को लेकर पिछले कुछ दिनों से हो रही हलचलों को देखते हुए एक्सपर्ट्स का मानना है कि देश में वैक्सीन अगले 2-3 महीनों में आ सकती है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीन की स्टोरेज को लेकर यूरोपियन देश लक्जमबर्ग के साथ एक अहम डील की है। ये डील लक्जमबर्ग के प्रधानमंत्री जेवियर बेटटेल और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच हुई है।

Narendra Modi

गांव-गांव तक आसानी से हो पाएगा वैक्सीन का वितरण

आपको बता दें कि लक्जमबर्ग के प्रधानमंत्री ने पीएम मोदी को गुजरात में वैक्सीन ट्रांसपोर्टेशन प्लांट लगाने का ऑफर दिया, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वीकार कर लिया है। इस डील के तहत गुजरात में एक रेफ्रीजिरेटर प्लांट लगाया जाएगा, जिसके जरिए पूरे देश में गांव-गांव तक वैक्सीन का वितरण हो सकेगा।

गुजरात का दौरा करेगी लक्जमबर्ग की एक टीम

    Corona Vaccine India: Zydus Cadila के प्लांट पहुंचे PM Modi, वैक्सीन का लिया जायजा | वनइंडिया हिंदी

    एक अंग्रेजी वेबसाइट की खबर के मुताबिक, लक्जमबर्ग फर्म बी मेडिकल सिस्टम्स की एक टीम अब गुजरात जाएगी, जहां वो सोलर वैक्सीन रेफ्रीजिरेटर, फ्रीजर और ट्रांसपोर्ट बॉक्स सहित एक वैक्सीन कोल्ड चेन की शुरुआत करेगी।आपको बता दें कि पूरी तरह से एक प्लांट को स्थापित करने में लगभग दो साल का वक्त लगेगा, इसलिए रेफ्रीजिरेटर ट्रांसपोर्ट बॉक्स के जरिए 4 डिग्री सेल्सियस से लेकर माइनस 20 डिग्री सेल्सियस तापमान तक में वैक्सीन को सुरक्षित रखने की व्यवस्था की जाएगी।

    विदेश मंत्री रख रहे हैं डील पर निगरानी

    लक्जमबर्ग के प्रस्ताव के बाद हुई इस डील को खुद विदेशी मंत्री एस जयशंकर मॉनिटर कर रहे हैं। इस डील से पहले यूरोपीय संघ में भारत के राजदूत संतोष झा ने लक्जमबर्ग की कंपनी के सीईओ और डिप्टी सीईओ के साथ वर्चुअल मीटिंग की थी। जानकारी के मुताबिक, इसी मीटिंग में इस प्रस्ताव को अंतिम रूप दिया गया था।

    मार्च 2021 तक प्रोजेक्ट हो जाएगा पूरा

    इस डील के होने के बाद अब उम्मीद की जा रही है कि इन रेफ्रीजिरेटेड बॉक्स को लेकर संभावना है कि मार्च 2021 तक ये पूरी तरह से तैयार हो जाएगी। ये रेफ्रीजिरेटेड सोलर, केरोसीन गैस और बिजली से चलेंगे।

    ये भी पढ़ें: वैक्सीन आने के बाद दिल्ली में 3-4 हफ्ते में हो जाएगा उसका वितरण- सत्येंद्र जैन

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    PM modi deal with Luxembourg now refrigerated vaccine transportation plant in Gujarat
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X