• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत केंद्रित आंतकी समूहों के लिए सुरक्षित बंदरगाह बना हुआ है पाकिस्तानः अमेरिका

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। पाकिस्तान अभी भी भारत केंद्रित आतंकवादी समूहों के लिए एक सुरक्षित बंदरगाह बना हुआ है, जहां क्षेत्रीय रूप से केंद्रित आतंकवादी समूहों को प्रश्रय मिलता है। यह खुलासा आंतकवाद पर अमेरिका के वर्ष 2019 रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट कहती है कि पाकिस्तान ने अफगानिस्तान और भारत को लक्षित आंतकी समूहों, जिनमें लश्कर और उसके संबद्ध संगठन व जैश-ए-मोहम्मद शामिल हैं, उन्हें अपनी जमीन से आतंकवाद फैलाने की छूट दे रखी है।

terrorism

अमेरिका आतंकवाद रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि पाकिस्तान द्वारा वर्ष 2019 में भारत-केंद्रित आतंकवादी समूहों के वित्तपोषण और उनकी आतंकी गतिविधियों को नियंत्रित करने के लिए बहुत मामूली कदम उठाए गए, जिन्होंने फरवरी में जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा काफिले पर बड़े पैमाने पर हमले को अंजाम दिया। भारत में बड़े आंतकी घटनाओं को पाक-आधारित जैश-ए-मोहम्मद (JeM) से जुड़े आंतकियों ने अंजाम दिया था।

क्या पाकिस्तान के लिए सियाचिन छोड़ना चाहती थी UPA सरकार ? पूर्व आर्मी चीफ ने बताई सच्चाई क्या पाकिस्तान के लिए सियाचिन छोड़ना चाहती थी UPA सरकार ? पूर्व आर्मी चीफ ने बताई सच्चाई

terrorism

हालांकि मार्च में ISIS ने सीरिया में अपने क्षेत्र के अंतिम अवशेष भी खो दिया था, लेकिन उसने मई में पाकिस्तान और भारत में नई शाखाओं की घोषणा की और अप्रैल में श्रीलंका में ईस्टर बम विस्फोटों की जिम्मेदारी ली। गत 14 फरवरी में भारतीय राज्य जम्मू-कश्मीर (अब केंद्रशासित प्रदेश) में एक अर्धसैनिक बल के काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ था, जिससे भारत और पाकिस्तान के बीच सैन्य शत्रुता और तनाव बढ़ा दिया था।

घाटी में आतंकवाद की सेना ने तोड़ी कमर, दो महीने में 93 आतंकी ढेरघाटी में आतंकवाद की सेना ने तोड़ी कमर, दो महीने में 93 आतंकी ढेर

terrorism

इसके अलावा अफगानिस्तान और पाकिस्तान में लगातार जारी आतंकवाद की प्रमुख घटनाओं के कारण वर्ष 2019 में दक्षिण एशिया में उग्रवादियों के हमलों का अस्थिर मिश्रण देखा गया। इनमें जम्मू और कश्मीर (अब केंद्रशासित प्रदेश ) और श्रीलंका में हुए प्रमुख आंतकी घटनाओं से दक्षिण एशिया को अधिक प्रभावित किया।

 दिल्ली में हो सकता है आतंकी हमला, दिल्ली पुलिस हाई अलर्ट पर दिल्ली में हो सकता है आतंकी हमला, दिल्ली पुलिस हाई अलर्ट पर

terrorism

अमेरिकी रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि पाकिस्तान ने जैश-ए-मोहम्मद के संस्थापक और संयुक्त राष्ट्र की ओर से वैश्विक आतंकवादी घोषित मसूद अजहर और 2008 के मुंबई हमले के "प्रोजेक्ट मैनेजर" साजिद मीर जैसे अन्य बड़े आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की. दोनों के बारे में ही माना जाता है कि ये पाकिस्तान में आजाद घूम रहे हैं।

कश्‍मीर घाटी में आतंकवाद की नई कहानी गढ़ रहा पाकिस्तान, खूफिया एजेंसी ने किया आगाह कश्‍मीर घाटी में आतंकवाद की नई कहानी गढ़ रहा पाकिस्तान, खूफिया एजेंसी ने किया आगाह

English summary
Pakistan still remains a safe harbor for India-focused terrorist groups, where regionally-focused terrorist groups receive support. This has been revealed in the US Report 2019 on Terrorism. The report says that Pakistan has allowed militant groups targeting Afghanistan and India, including Lashkar and its affiliated organizations and Jaish-e-Mohammed, to spread terrorism from their land.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X