• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'पद्मावत' पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल एक और याचिका खारिज, फिल्म के कुछ सीन हटाने की थी मांग

By Dharmender Kumar
|

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को उस याचिका को खारिज कर दिया, जिसमें फिल्म पद्मावत के कुछ दृश्यों को हटाने की मांग की गई थी। वकील मनोहर लाल शर्मा ने बीते गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी कि फिल्म पद्मावत के कुछ दृश्यों को हटा दिया जाए। वकील ने अपनी याचिका पर तत्काल सुनवाई की मांग भी की थी। सुप्रीम कोर्ट ने तत्काल सुनवाई से इंकार करते हुए आज इस याचिका को खारिज कर दिया। गौरतलब है कि भारी विरोध के बीच गुरुवार को ही पद्मावत देशभर में रिलीज हुई थी।

फिल्म को लेकर हुआ था भारी विरोध

फिल्म को लेकर हुआ था भारी विरोध

आपको बता दें कि फिल्म पद्मावत को लेकर राजपूत करणी सेना ने भारी हंगामा किया था। फिल्म के विरोध में देश के अलग-अलग हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन हुए। हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश और गुजरात में कई मॉल्स में आगजनी और तोड़फोड़ की गई। विरोध को देखते हुए ही इन राज्यों के सिनेमाघर मालिकों ने फिल्म ना दिखाने का फैसला किया। बिहार के पटना में भी सिनेमाघर मालिकों ने फिल्म को दिखाने से इंकार कर दिया।

चार राज्यों के खिलाफ अवमानना याचिका

चार राज्यों के खिलाफ अवमानना याचिका

इसके बाद हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश व गुजरात और करणी सेना के तीन सदस्यों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अवमानना याचिका भी दाखिल की गई थी। याचिका में कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म को रिलीज करने और रिलीज के दौरान राज्यों को कानून-व्यवस्था कायम रखने का आदेश दिया था। इसके बावजूद हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश और गुजरात में फिल्म को लेकर लगातार हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं। ये चारों राज्य कानून व्यवस्था को कायम रखने में नाकाम साबित हुए हैं।

बच्चों की बस पर पथराव

बच्चों की बस पर पथराव

वहीं फिल्म का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने हरियाणा के गुरुग्राम में स्कूली बच्चों की बस तक पर पथराव किया था। गुरुग्राम के एक स्कूल से बच्चों को लेकर लौट रही इस बस पर प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया। इस बस का एक वीडियो भी सामने आया, जिसमें बच्चे रोते हुए सुने जा सकते हैं। भीड़ ने बस पर पथराव किया। वीडियो में साफ दिख रहा था कि बच्चे और शिक्षक सीटों के बीच किसी तरह छिप कर बैठे हैं ताकि वो पत्थरों से बच जाएं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Padmaavat: Supreme Court dismissed the petition, seeking deletion of certain scenes in film.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X